Tuesday, May 21, 2024
Homeराजनीतिहाल जानने के नाम पर आए, वायरल कर दी नाबालिग गैंगरेप पीड़िता की फोटो:...

हाल जानने के नाम पर आए, वायरल कर दी नाबालिग गैंगरेप पीड़िता की फोटो: MP कॉन्ग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी और विधायक भूरिया पर FIR

जीतू पटवारी और विक्रांत पर भारतीय दंड संहिता की धारा 228-A के साथ यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम और किशोर न्याय (बच्चों की देखभाल और संरक्षण) अधिनियम, 2015 की संबंधित धाराओं में FIR दर्ज हुई है।

मध्य प्रदेश पुलिस ने कॉन्ग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी और उनकी ही पार्टी के विधायक विक्रांत भूरिया के खिलाफ FIR दर्ज की है। जीतू और विक्रांत पर आरोप है कि उन्होंने गैंगरेप की शिकार एक नाबालिग बच्ची की तस्वीर को अपने एक्स अकॉउंट पर शेयर करके उसकी पहचान को उजागर किया। सोमवार (29 अप्रैल 2024) को इन दोनों कॉन्ग्रेसी नेताओं पर पॉक्सो एक्ट सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज हुआ है। पुलिस मामले की जाँच कर रही है।

आरोपितों के खिलाफ एक महिला ने शिकायत दर्ज करवाई है। जीतू और विक्रांत पर भारतीय दंड संहिता की धारा 228-A के साथ यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम और किशोर न्याय (बच्चों की देखभाल और संरक्षण) अधिनियम, 2015 की संबंधित धाराओं में FIR दर्ज हो गई। अलीराजपुर के पुलिस अधीक्षक IPS राजेश व्यास ने इस कार्रवाई की पुष्टि की है। उन्होंने जीतू पटवारी और विक्रांत भूरिया की हरकत को सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों का उल्लंघन बताया है। पुलिस मामले की जाँच और अन्य कानूनी कार्रवाई कर रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गैंगरेप का मामला मध्य प्रदेश के अलीराजपुर जिले का है। यहाँ के थानाक्षेत्र जोबट में शुक्रवार (26 अप्रैल) को जनजातीय समुदाय की एक नाबालिग लड़की से गैंगरेप केस दर्ज हुआ। नामजद किए गए 2 आरोपितों की उम्र 14 से 18 साल के बीच बताई गई है। जाँच के दौरान पुलिस ने दोनों लड़कों को फरार होने में मदद करने वाले एक तीसरे लड़के को भी आरोपित बनाया।

इसके बाद रविवार (28 अप्रैल 2024) को पुलिस ने तीनों आरोपितों को हिरासत में ले लिया और फिर सभी को पॉक्सो एक्ट व अन्य धाराओं के तहत किशोर गृह भेज दिया गया। वहीं, पीड़िता का भी मेडिकल परीक्षण और काउंसिलिंग करवाई गई। इसी दिन रविवार को कॉन्ग्रेस के मध्य प्रदेश अध्यक्ष झाबुआ से विधायक विक्रांत भूरिया के साथ पीड़ित परिवार से मिलने गए थे। यहाँ उन्होंने पीड़िता बच्ची की तस्वीरें खींची। बाद में इन दोनों नेताओं ने इन चित्रों को अपने-अपने X हैंडलों पर शेयर कर दिया जो थोड़ी देर में वायरल हो गया। अलीराजपुर पुलिस ने दोनों कॉन्ग्रेसियों की इस हरकत का संज्ञान ले कर FIR दर्ज कर लिया। अब दोनों के खिलाफ कार्रवाई होगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ से लड़ रही लालू की बेटी, वहाँ यूँ ही नहीं हुई हिंसा: रामचरितमानस को गाली और ‘ठाकुर का कुआँ’ से ही शुरू हो...

रामचरितमानस विवाद और 'ठाकुर का कुआँ' विवाद से उपजी जातीय घृणा ने लालू यादव की बेटी के क्षेत्र में जंगलराज की यादों को ताज़ा कर दिया है।

निजी प्रतिशोध के लिए हो रहा SC/ST एक्ट का इस्तेमाल: जानिए इलाहाबाद हाई कोर्ट को क्यों करनी पड़ी ये टिप्पणी, रद्द किया केस

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने एक मामले की सुनवाई करते हुए SC/ST Act के झूठे आरोपों पर चिंता जताई है और इसे कानून प्रक्रिया का दुरुपयोग माना है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -