Friday, July 19, 2024
Homeराजनीतिकमलनाथ के 2 मंत्री: एक के साथ महिला खिंचवाने लगी फोटो तो दूसरे उखड़े,...

कमलनाथ के 2 मंत्री: एक के साथ महिला खिंचवाने लगी फोटो तो दूसरे उखड़े, मिला टका सा जवाब

2018 के विधानसभा चुनावों के बाद कॉन्ग्रेस डेढ़ दशक बाद राज्य की सत्ता में वापसी करने में कामयाब रही थी। लेकिन, मुख्यमंत्री कमलनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया के गुट के नेता एक-दूसरे को नीचा दिखाने का कोई मौका नहीं छोड़ते।

मंच और मौका कोई भी मध्य प्रदेश कॉन्ग्रेस की गुटबाजी सामने आ ही जाती है। सागर में एक कार्यक्रम के दौरान पार्टी की एक महिला कार्यकर्ता को कमलनाथ सरकार में मंत्री हर्ष यादव ने भाजपा का एजेंट बता दिया। महिला ने भी उन्हें जवाब देने में देर नहीं लगाई और बताया कि वह 35 साल से पार्टी में हैं।

यह वाकया तब हुआ जब कार्यक्रम में शिरकत करने पहुॅंचे राज्य के गृह मंत्री बाला बच्चन के साथ नेताओं ने फोटों खिंचवाना शुरू किया। बच्चन के साथ हर्ष यादव भी थे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इसी दौरान अनीता मिश्रा नाम की एक महिला कार्यकर्ता भी गृहमंत्री के साथ अपनी फोटो खिंचवाने आई। उन्होंने एक कार्यकर्ता को फोन थमाकर फोटो खींचने को कहा।

यह सब कुछ देख हर्ष यादव भड़क गए। कथित तौर पर उन्होंने बच्चन से कहा, “इसकी कोई बात मत सुनिए। यह भारतीय जनता पार्टी की एजेंट है। इसके साथ फोटो मत खिंचवाना।” अनीता मिश्रा ने भी बिना वक्त गॅंवाए मंत्री को टका सा जवाब दे दिया। कहा कि वह 35 साल से पार्टी के लिए काम कर रही है।

2018 के विधानसभा चुनावों के बाद कॉन्ग्रेस डेढ़ दशक बाद राज्य की सत्ता में वापसी करने में कामयाब रही थी। लेकिन, इसके बाद से कई मौकों पर उसका अंदरूनी कलह सार्वजनिक हो चुका है। मुख्यमंत्री कमलनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया के गुट के नेता एक-दूसरे को नीचा दिखाने का कोई मौका नहीं छोड़ते।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -