Sunday, September 19, 2021
Homeराजनीतिकमलनाथ के 2 मंत्री: एक के साथ महिला खिंचवाने लगी फोटो तो दूसरे उखड़े,...

कमलनाथ के 2 मंत्री: एक के साथ महिला खिंचवाने लगी फोटो तो दूसरे उखड़े, मिला टका सा जवाब

2018 के विधानसभा चुनावों के बाद कॉन्ग्रेस डेढ़ दशक बाद राज्य की सत्ता में वापसी करने में कामयाब रही थी। लेकिन, मुख्यमंत्री कमलनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया के गुट के नेता एक-दूसरे को नीचा दिखाने का कोई मौका नहीं छोड़ते।

मंच और मौका कोई भी मध्य प्रदेश कॉन्ग्रेस की गुटबाजी सामने आ ही जाती है। सागर में एक कार्यक्रम के दौरान पार्टी की एक महिला कार्यकर्ता को कमलनाथ सरकार में मंत्री हर्ष यादव ने भाजपा का एजेंट बता दिया। महिला ने भी उन्हें जवाब देने में देर नहीं लगाई और बताया कि वह 35 साल से पार्टी में हैं।

यह वाकया तब हुआ जब कार्यक्रम में शिरकत करने पहुॅंचे राज्य के गृह मंत्री बाला बच्चन के साथ नेताओं ने फोटों खिंचवाना शुरू किया। बच्चन के साथ हर्ष यादव भी थे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इसी दौरान अनीता मिश्रा नाम की एक महिला कार्यकर्ता भी गृहमंत्री के साथ अपनी फोटो खिंचवाने आई। उन्होंने एक कार्यकर्ता को फोन थमाकर फोटो खींचने को कहा।

यह सब कुछ देख हर्ष यादव भड़क गए। कथित तौर पर उन्होंने बच्चन से कहा, “इसकी कोई बात मत सुनिए। यह भारतीय जनता पार्टी की एजेंट है। इसके साथ फोटो मत खिंचवाना।” अनीता मिश्रा ने भी बिना वक्त गॅंवाए मंत्री को टका सा जवाब दे दिया। कहा कि वह 35 साल से पार्टी के लिए काम कर रही है।

2018 के विधानसभा चुनावों के बाद कॉन्ग्रेस डेढ़ दशक बाद राज्य की सत्ता में वापसी करने में कामयाब रही थी। लेकिन, इसके बाद से कई मौकों पर उसका अंदरूनी कलह सार्वजनिक हो चुका है। मुख्यमंत्री कमलनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया के गुट के नेता एक-दूसरे को नीचा दिखाने का कोई मौका नहीं छोड़ते।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिब्बल की राह पर थरूर, कॉन्ग्रेसी आलाकमान पर साधा निशाना, कहा – ‘पार्टी को तुरंत नए नेतृत्व की जरूरत’

"सोनिया गाँधी के खिलाफ किसी ने एक शब्द नहीं कहा, लेकिन वह खुद से ही पद छोड़ना चाहती हैं। नए नेतृत्व को जल्द से जल्द पद सँभाल लेना चाहिए।"

पंजाब के बाद राजस्थान में फँसी कॉन्ग्रेस: सचिन पायलट दिल्ली में, CM अशोक गहलोत के OSD का इस्तीफा

इस्तीफे की वजह लोकेश शर्मा द्वारा किया गया एक ट्वीट बताया जा रहा है जिसके बाद कयासों का नया दौर शुरू हो गया था और उनके ट्वीट को पंजाब के घटनाक्रम के साथ भी जोड़कर देखा जाने लगा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,150FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe