Sunday, April 14, 2024
HomeराजनीतिPM मोदी के सिर को ममता के पैरों तले दिखाने के बाद अब उन्होंने...

PM मोदी के सिर को ममता के पैरों तले दिखाने के बाद अब उन्होंने हावड़ा रैली में भीड़ की तरफ उछाला फुटबॉल, कहा- खेला होबे!

हावड़ा में एक रैली के दौरान, ममता बनर्जी ने व्हीलचेयर पर बैठे हुए हाथों में फुटबॉल पकड़ा था। बार-बार फुटबॉल नीचे गिर रहा था, उन्होंने ‘खेला होबे’ बोलते हुए फुटबॉल को नीचे भीड़ की तरफ फेंक दिया। बंगाल में एक दीवार पेंटिंग बनाई थी जिसमें ममता बनर्जी फुटबॉल के बजाय पीएम मोदी के सिर को ठोकर मार रहीं थी।

पश्चिम बंगाल के नंदीग्राम में चुनाव से एक दिन पहले 31 मार्च को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हावड़ा रैली में बार-बार फुटबॉल को ऊपर उछाल कर उसे कैच करती हुई दिखीं। इसके बाद ‘खेला होबे’ बोलते हुए उन्होंने फुटबॉल को मंच से नीचे की ओर फेंका।

हावड़ा में एक सार्वजनिक रैली के दौरान, ममता बनर्जी ने व्हीलचेयर पर बैठे हुए हाथों में फुटबॉल पकड़ा था। इसके बाद उन्होंने फुटबॉल को बास्केटबॉल की तरह उछालने की कोशिश की, लेकिन वह इसे सँभाल नहीं सकी। बार-बार फुटबॉल नीचे गिर रहा था और उनके सहयोगी उठा-उठा कर उन्हें दे रहे थे। इसके बाद उन्होंने ‘खेला होबे’ बोलते हुए फुटबॉल को नीचे भीड़ की तरफ फेंक दिया।

ममता बनर्जी ने कहा, “देखिए… वहाँ एक बच्चा है, वह मेरे लिए एक प्लास्टिक की गेंद लाया है, लेकिन मैं इस तरह बैठकर कैसे खेलूँगी? लेकिन फिर भी, मैं खेलूँगी। खेला होबे? (खेल जारी है), खेल जारी रहेगा, और बीजेपी मैदान से बाहर हो जाएगी।”

वॉल-पेंटिंग विवाद

चूँकि, ममता बनर्जी एक चुनावी रैली के दौरान कथित तौर पर पोल से टकराने की वजह से घायल हो गई थी, इसीलिए उन्होंने अपने घायल पैर पर प्लास्टर लगाकर रैलियों में भाग लिया। इसके बाद, उनके पैर पर चोट लगी हुई टाँग और एक फुटबॉल के साथ “खेला होबे” नामक एक कैरिकेचर संदीप अध्वर्यु द्वारा बनाया गया था, जो कि टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित हुआ था।

TOI caricature by Sandeep Adhwaryu

उस कार्टून के आधार पर, कुछ टीएमसी सदस्यों ने बंगाल में एक दीवार पेंटिंग बनाई थी जिसमें ममता बनर्जी को फुटबॉल के बजाय पीएम मोदी के सिर पर मारते देखा गया था। बता दें कि जब बनर्जी नंदीग्राम में एक रैली के दौरान घायल हुई थी तो उन्होंने आरोप लगाया था कि उन पर 4-5 लोगों ने हमला किया था। हालाँकि, बाद में पता चला कि पूरी घटना एक दुर्घटना थी।

khelahobe
A wall with Mamata Banerjee and Prime Minister Narendra Modi’s caricature with the former kicking the head of Prime Minister. Image source: twitter handle of BJP India

पीएम मोदी ने कार्टून पर नोटिस किया

पीएम मोदी ने पश्चिम बंगाल के बांकुरा में एक रैली के दौरान वॉल पेंटिंग पर ध्यान दिया और इस बारे में बात की। उन्होंने विवादास्पद भित्ति चित्रों का उल्लेख किया और कहा, “यदि आप चाहें, तो आप अपना पैर मेरे सिर पर रख सकते हैं या मुझे लात मार सकते हैं, लेकिन मैं आपको बंगाल के विकास को लात नहीं मारने दूँगा। मैं आपको बंगाल के सपने को लात नहीं मारने दूँगा।”

पश्चिम बंगाल के बांकुरा में एक रैली को संबोधित करते हुए, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल में दीवारों पर खींची जाने वाली भित्ति चित्रों का उल्लेख किया, जहाँ सीएम ममता बनर्जी को उनके सिर पर पैर रखते हुए दिखाया गया है। 

नंदीग्राम में बहुप्रतीक्षित मतदान

नंदीग्राम पश्चिम बंगाल में चल रहे विधानसभा चुनावों में टीएमसी और भाजपा दोनों के लिए सम्मान का विषय बन गया है। ममता बनर्जी, भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे शुभेंदु अधिकारी के खिलाफ नंदीग्राम सीट से चुनाव लड़ रही हैं। टीएमसी छोड़ने और पिछले साल दिसंबर में बीजेपी में शामिल होने से पहले अधिकारी बनर्जी की सेना के सबसे भरोसेमंद सदस्यों में से एक थे। टीएमसी से उनकी विदाई को बनर्जी की सत्ता में वापस आने की इच्छा के रूप में एक बड़ा झटका माना गया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

BJP की तीसरी बार ‘पूर्ण बहुमत की सरकार’: ‘राम मंदिर और मोदी की गारंटी’ सबसे बड़ा फैक्टर, पीएम का आभामंडल बरकार, सर्वे में कहीं...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में बीजेपी तीसरी बार पूर्ण बहुमत की सरकार बनाती दिख रही है। नए सर्वे में भी कुछ ऐसे ही आँकड़े निकलकर सामने आए हैं।

‘राष्ट्रपति आदिवासी हैं, इसलिए राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा में नहीं बुलाया’: लोकसभा चुनाव 2024 में राहुल गाँधी ने फिर किया झूठा दावा

राष्ट्रपति मुर्मू को राम मंदिर ट्रस्ट का प्रतिनिधित्व करने वाले एक प्रतिनिधिमंडल ने अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के लिए औपचारिक रूप से आमंत्रित किया गया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe