बौखलाई ममता का नया ज्ञान: गप्पबाज़ी से EVM हैक करेगी BJP! ये मजाक नहीं है

बात यह है कि सारी विरोधी पार्टियाँ एकजुट हो कर करेंगी क्या? क्या ममता बनर्जी यहाँ किसी तरह की धमकी दे रही हैं? अपोज़िशन यूनाइट होकर, स्ट्रॉन्ग और बोल्ड होकर करेगा क्या?

हालिया इतिहास के सबसे ‘खूनी’ चुनावों में से एक कराने के बाद अब ममता बनर्जी ने Exit Polls आते ही बहानेबाजी शुरू कर दी है। Exit Polls में भाजपा को लोकसभा चुनाव जीतता देखकर उन्होंने ट्वीट किया, “मुझे एग्जिट पोल पर विश्वास नहीं होता। हज़ारों EVM को मैनिपुलेट करने या उनको बदलने की साज़िश की जा रही है इस एग्जिट पोल की गप्पबाज़ी से। मैं सारी विपक्षी पार्टियों से एकजुट होने, मज़बूत बनने और बुलंद रहने की अपील करती हूँ।”

राग पुराना, ‘दिलजलों’ का पसंदीदा फ़साना

ममता बनर्जी और विपक्ष के अन्य नेताओं का EVM खटराग नया नहीं है। विपक्षी नेता इसे लेकर निर्वाचन आयोग से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक गए थे, लेकिन हर जगह उन्हें मुँह की ही खानी पड़ी। उसी समय यह स्पष्ट हो गया था कि नतीजे अगर उनके मन-मुताबिक नहीं हुए तो अपनी नकारात्मक, हिन्दूफोबिक, और भ्रष्ट राजनीति की हार मानने की बजाय EVM को बलि का बकरा बनाया जाएगा। और वही हो रहा है।

‘स्ट्रॉन्ग’ से मतलब क्या है? इरादा क्या?

आख़िर ममता बनर्जी ‘गॉसिप’ से ईवीएम को बदलने की बात किस विज्ञान के आधार पर कर रही हैं? एक ट्वीट से खुन्नस, निराशा और अज्ञान सब झलकता है। निर्वाचन आयोग ने जब चुनौती दी थी EVM हैक करके दिखाने की, तो कोई राजनीतिक दल नहीं पहुँचा। सभी बँगले झाँक रहे थे।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

दूसरी बात यह है कि सारी विरोधी पार्टियाँ एकजुट हो कर करेंगी क्या? क्या ममता बनर्जी यहाँ किसी तरह की धमकी दे रही हैं? अपोज़िशन यूनाइट होकर, स्ट्रॉन्ग और बोल्ड होकर करेगा क्या? क्या किसी लोकतांत्रिक संस्था पर हमले की योजना बन रही है या फिर यह एक हार स्वीकारती, गुस्से से भरी हुई नेत्री का क्रोध मात्र है?

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

अमित शाह, राज्यसभा
गृहमंत्री ने कहा कि पिछले वर्ष इस वक़्त तक 802 पत्थरबाजी की घटनाएँ हुई थीं लेकिन इस साल ये आँकड़ा उससे कम होकर 544 पर जा पहुँचा है। उन्होंने बताया कि सभी 20,400 स्कूल खुले हैं। उन्होंने कहा कि 50,000 से भी अधिक (99.48%) छात्रों ने 11वीं की परीक्षा दी है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,891फैंसलाइक करें
23,419फॉलोवर्सफॉलो करें
122,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: