Tuesday, September 21, 2021
Homeराजनीति'हमारी परीक्षा मत लो, सुधर जाओ, पाकिस्तान से बात करो': महबूबा ने केंद्र को...

‘हमारी परीक्षा मत लो, सुधर जाओ, पाकिस्तान से बात करो’: महबूबा ने केंद्र को दी अफगानिस्तान जैसा हाल करने की धमकी

महबूबा का कहना कि कश्मीरी बड़े बहादुर औऱ सहनशील हैं, लेकिन उनके सहनशीलता का बाँध टूटा तो सरकार हार जाएगी। महबूबा मुफ्ती ने चेतावनी दी है कि अगर पूर्व पीएम अटल बिहारी की डॉक्ट्रिन के तहत पाकिस्तान से बातचीत शुरू नहीं करते हो तो बर्बाद होने में समय नहीं लगेगा।

जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती की अम्मी गुलशन नजीर को प्रवर्तन निदेशालय ने पूछताछ के लिए तलब किया था। एजेंसी ने उनसे तीन घंटे तक लगातार पूछताछ की, जिस पर महबूबा ने केंद्र सरकार को अफगानिस्तान जैसा हाल करने की धमकी दी। उन्होंने कहा कि अमेरिका को देखो अफगानिस्तान से बोरिया-बिस्तर बाँधकर भागने पर मजबूर हो गया। इसलिए हम कश्मीरियों की परीक्षा मत लो।

महबूबा का कहना कि कश्मीरी बड़े बहादुर औऱ सहनशील हैं, लेकिन उनके सहनशीलता का बाँध टूटा तो सरकार हार जाएगी। उन्होंने यह बयान घाटी के कुलगाम में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए दिया। रिपोर्ट के मुताबिक, महबूबा मुफ्ती ने चेतावनी दी है कि अगर पूर्व पीएम अटल बिहारी की डॉक्ट्रिन के तहत पाकिस्तान से बातचीत शुरू नहीं करते हो तो बर्बाद होने में समय नहीं लगेगा।

हिलोरें ले रहा महबूबा का पाकिस्तान प्रेम

पीडीपी नेता ने मोदी सरकार को पाकिस्तान के साथ बातचीत को दोबारा से शुरू करने की नसीहत देते हुए कहा, “मैं बार-बार कहती हूँ कि सुधर जाओ। पड़ोस में देखो क्या हो रहा है। बातचीत शुरू करो नहीं तो देर हो जाएगी।” उन्होंने जम्मू-कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा देने का माँग की। साथ ही कहा कि जम्मू-कश्मीर के टुकड़े करके जो गलती की है उसे सुधारो। अगर लोग सोचते हैं कि ये क्या करेगी तो वे ये जान लें कि एक चीटी हाथी की सूँड में घुस जाए तो उसका हाल बुरा कर देती है।

महबूबा के इस तालिबानी बयान पर केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने उन्हें इस तरह के बयान से बचने की सलाह दी है।

वहीं बीजेपी नेता रवीन्द्र रैना ने कहा कि भारत काफी मजबूत राष्ट्र है और यहाँ पीएम मोदी हैं न कि जो बाइडेन। हम सभी आतंकियों का सफाया करेंगे। बीजेपी नेता ने मुफ्ती को देशद्रोही करार दिया औऱ कहा कि उन्होंने जम्मू-कश्मीर के देशभक्त लोगों का अपमान किया है, वो राज्य में तालिबानी शासन चाहती हैं, लेकिन हमारी सरकार सभी का खात्मा करेगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज योगेश है, कल हरीश था: अलवर में 2 साल पहले भी हुई थी दलित की मॉब लिंचिंग, अंधे पिता ने कर ली थी...

आज जब राजस्थान के अलवर में योगेश जाटव नाम के दलित युवक की मॉब लिंचिंग की खबर सुर्ख़ियों में है, मुस्लिम भीड़ द्वारा 2 साल पहले हरीश जाटव की हत्या को भी याद कीजिए।

अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालत में मौत: पंखे से लटकता मिला शव, बरामद हुआ सुसाइड नोट

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालात में मौत हो गई है। महंत का शव बाघमबरी मठ में सोमवार को फाँसी के फंदे से लटकता मिला।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,474FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe