Thursday, July 25, 2024
HomeराजनीतिMahadev Book और Reddyannaprestopro सहित सट्टेबाजी वाले 22 ऐप ब्लॉक: केंद्र सरकार का सट्टेबाजी...

Mahadev Book और Reddyannaprestopro सहित सट्टेबाजी वाले 22 ऐप ब्लॉक: केंद्र सरकार का सट्टेबाजी पर एक्शन

"छत्तीसगढ़ सरकार के पास यह अधिकार था कि वह इस महादेव ऐप को बंद कराने के लिए अनुशंसा कर सकते थे लेकिन उन्होंने ऐसा कुछ भी नहीं किया।"

इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MEITY) ने प्रवर्तन निदेशालय (ED) की अनुशंसा पर 22 सट्टेबाजी वाले ऐप के खिलाफ ब्लॉकिंग के आदेश दिए हैं। इन ऐप्स में महादेव बेटिंग ऐप भी शामिल है, जिसके प्रमोटरों पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को ₹508 करोड़ रूपए देने का आरोप है।

मंत्रालय द्वारा जारी एक प्रेस रिलीज में कहा गया है कि यह निर्णय छत्तीसगढ़ में महादेव ऐप पर ED की जाँच के बाद लिया है। इस मामले में छत्तीसगढ़ पुलिस के एक कॉन्स्टेबल भीम सिंह यादव को गिरफ्तार किया गया है, जिसके ऊपर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है।

आईटी राज्यमंत्री राजीव चन्द्रशेखर ने इस मामले में कहा, “छत्तीसगढ़ सरकार के पास यह अधिकार था कि वह इस महादेव ऐप को बंद कराने के लिए अनुशंसा कर सकते थे लेकिन उन्होंने ऐसा कुछ भी नहीं किया।”

उन्होंने आगे कहा, ” वह इस मामले की 1.5 साल से जाँच कर रहे हैं लेकिन इस दौरान छत्तीसगढ़ की सरकार ने एक बार भी इस ऐप को बंद करवाने की माँग नहीं रखी। इस अवैध ऐप को बंद करने की केवल एक माँग ED की तरफ से आई है। इस पर एक्शन लिया गया है। छत्तीसगढ़ सरकार को ऐसा करने से कोई नहीं रोक रहा था।”

महादेव बेटिंग ऐप के साथ ही रेड्डीअन्नाप्रेस्टोप्रो और 20 अन्य ऐप को बंद किया गया है। गौरतलब है कि भारत में ऐसे सट्टेबाजी के ऐप को चलाने की अनुमति नहीं है, जिनमें भाग्य के आधार पर जीतने वाला का निर्णय हो। सुप्रीम कोर्ट के एक निर्णय में कहा गया था कि केवल वही ऐप चल सकते हैं, जो ‘गेम ऑफ़ स्किल’ यानी कौशल पर आधारित हैं।

महादेव ऐप के मामले में शुभम सोनी नाम के एक शख्स ने वीडियो रिलीज करके दावा किया है कि वही महादेव बेटिंग ऐप का मालिक है और उसने ही इसे 2017 में शुरू किया था। शुभम दुबई में रहता है। उसने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को ₹508 करोड़ देने का दावा भी किया है।

महादेव बेटिंग ऐप के प्रमोटरों सौरभ चन्द्राकर और रवि उप्पल पर आरोप है कि उन्होंने सट्टेबाजी की इस रकम को हवाला के जरिए भारत से दुबई पहुँचाया। इस मामले में 34 बॉलीवुड एक्टरों की भूमिका भी जाँच हो रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

वकील चलाता था वेश्यालय, पुलिस ने की कार्रवाई तो पहुँचा हाई कोर्ट: जज ने कहा- इसके कागज चेक करो, लगाया ₹10000 का जुर्माना

मद्रास हाई कोर्ट में एक वकील ने अपने वेश्यालय पर कार्रवाई के खिलाफ याचिका दायर की। कोर्ट ने याचिका खारिज करके ₹10,000 का जुर्माना लगा दिया।

माजिद फ्रीमैन पर आतंक का आरोप: ‘कश्मीर टाइप हिंदू कुत्तों का सफाया’ वाले पोस्ट और लेस्टर में भड़की हिंसा, इस्लामी आतंकी संगठन हमास का...

ब्रिटेन के लेस्टर में हिन्दुओं के विरुद्ध हिंसा भड़काने वाले माजिद फ्रीमैन पर सुरक्षा एजेंसियों ने आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -