Sunday, July 14, 2024
Homeराजनीतिसहारनपुर दंगे का आरोपित मोहर्रम अली पप्पू सपा में शामिल, नाराज़ सिख समाज ने...

सहारनपुर दंगे का आरोपित मोहर्रम अली पप्पू सपा में शामिल, नाराज़ सिख समाज ने जताई आपत्ति: गुरुद्वारा में हिंसा समेत 87 मामले हैं दर्ज

न सिर्फ सिख, बल्कि हिन्दू समाज के लोग भी गुस्से में हैं। 2014 में सहारनपुर गुरुद्वारा रोड पर गुरुद्वारे की जमीन पर लेंटर डालने को लेकर ये विवाद हुआ था।

सहारनपुर दंगे का मास्टरमाइंड बताया जाने वाला मोहर्रम अली पप्पू समाजवादी पार्टी में शामिल हो गया है, जिसके बाद सिख समाज में आक्रोश का माहौल है। मोहर्रम अली पप्पू की एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें वो सपा नेताओं के साथ लाल टोपी पहने हुए दिख रहा है। 2014 में सहारनपुर में एक गुरुद्वारा में हिंसा हुई थी, जिसका आरोप मुस्लिम भीड़ पर लगा था। अब सिख समाज के लोगों ने सोशल मीडिया के जरिए इसे लेकर अपना आक्रोश जारी किया है।

वायरल तस्वीर में समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल उन्हें लाल टोपी पहनाते हुए दिख रहे हैं। साथ ही इस तस्वीर में सहारनपुर से सपा के मौजूदा विधायक संजय गर्ग खड़े दिख रहे हैं। बताया जा रहा है कि ये तस्वीर कुछ दिन पुरानी है। कहा जा रहा है कि ये तस्वीर तब की है, जब मोहर्रम अली पप्पू को सपा की सदस्यता दिलाई जा रही थी। न सिर्फ सिख, बल्कि हिन्दू समाज के लोग भी गुस्से में हैं। 2014 में सहारनपुर गुरुद्वारा रोड पर गुरुद्वारे की जमीन पर लेंटर डालने को लेकर ये विवाद हुआ था।

इस हिंसा में सैकड़ों दुकानों को आग के हवाले कर दिया गया था। कई लोग घायल हुए थे। पुलिस पर भी गोलीबारी की गई थी। इसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए थे। तब प्रदेश में अखिलेश यादव की सरकार थी। कई स्थानीय लोगों के घायल होने के बाद सहारनपुर में कई दिनों तक कर्फ्यू लगाने की नौबत भी आ गई थी। हालात नियंत्रण से बाहर हो गए थे। पूर्व पार्षद मोहर्रम अली पप्पू पर भी पुलिस ने मामला दर्ज किया था। उस पर उस समय 87 मुकदमा दर्ज थे।

उसे डेढ़ साल तक जेल भी हुई थी। उस पर ‘राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA)’ के तहत कार्रवाई की गई थी। 2021 में इस मामले में दोनों समुदायों के बीच समझौता कराया गया था। हालाँकि, मोहर्रम अली पप्पू अब भी जमानत पर ही बाहर है। समाजवादी पार्टी अल्पसंख्यक सभा के प्रदेश सचिव और सिख समाज से जुड़े अभिषेक अरोड़ा उर्फ टिंकू ने भी इस पर हैरानी जताई है। उन्होंने पूछा कि आखिर ये सपा नेताओं के सामने कैसे हुआ? उन्होंने इसे गलत बताते हुए कहा कि उस पर दंगा करवाने के आरोप हैं। उन्होंने कहा कि वो शीर्ष नेतृत्व को इसकी जानकारी देंगे, जिसके बाद कार्रवाई होगी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

डोनाल्ड ट्रंप को मारी गई गोली, अमेरिकी मीडिया बता रहा ‘भीड़ की आवाज’ और ‘पॉपिंग साउंड’: फेसबुक पर भी वामपंथी षड्यंत्र हावी

डोनाल्ड ट्रंप की हत्या के प्रयास की पूरी दुनिया के नेताओं ने निंदा की, तो अमेरिकी मीडिया ने इस घटना को कमतर आँकने की कोशिश की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -