Tuesday, July 16, 2024
Homeराजनीति8 बच्चे मर गए... और मुंबई की मेयर कह रहीं- भाजपा अगर भौंकना चाहती...

8 बच्चे मर गए… और मुंबई की मेयर कह रहीं- भाजपा अगर भौंकना चाहती है तो भौंकने दो

मलाड में भारी बारिश के बाद एक चार मंजिला इमारत गिर गई। इसमें 11 लोगों की मौत हो गई, जिनमें आठ बच्चे थे।

मुंबई के मलाड में हुए हादसे को लेकर मेयर किशोरी पेडनेकर ने विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि इस घटना के जिम्मेदारों को सामने आकर गुनाह कबूल करना चाहिए और इसके लिए बीएमसी को जिम्मेदार बता रही बीजेपी को भौंकने के लिए छोड़ देना चाहिए। उल्लेखनीय है कि मलाड में चार मंजिला इमारत ढहने से 8 बच्चों सहित 11 लोगों की मौत हो गई है।

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, पेडनेकर ने कहा, “मलाड (भवन ढहने की घटना) में जो हुआ उसके पीछे दोषियों को इसकी जिम्मेदारी लेनी चाहिए। किसका प्रशासन था, यह देखने से ज्यादा यह देखा जाना चाहिए कि इसके लिए कौन जिम्मेदार था। सब जिम्मेदार होते तो ऐसा नहीं होता।”

पेडनेकर ने आगे भाजपा के आरोपों पर सफाई देने की जगह कहा, “भाजपा अगर भौंकना चाहती है तो भौंकने दो। उन्हें लगता है कि सारी गलतियाँ शिवसेना की है और वे खुद बहुत साफ हैं।”

गौरतलब है कि बुधवार को मुंबई में हुई भारी बारिश के कारण पश्चिमी मलाड इलाके में हुए हादसे पर भाजपा ने शिवसेना के नेतृत्व वाली सरकार पर हमला बोला था। भाजपा के वरिष्ठ नेता राम कदम ने ट्वीट कर कहा था कि यह हादसा शिवसेना शासित बीएमसी की लापरवाही के कारण हुआ। यह हादसा नहीं हत्या है।

बता दें कि मलाड में भारी बारिश के बाद हुए हादसे में एक चार मंजिला इमारत गिरने से 11 लोगों की मौत हुई। इनके अलावा 7 लोग घायल हुए। वहीं 18 से अधिक को सुरक्षित बचा लिया गया। घटना के बाद मुंबई के संयुक्त सीपी (कानून एवं व्यवस्था) विश्वास नांगरे पाटिल ने कहा कि मुंबई पुलिस मकान मालिक और ठेकेदार के खिलाफ आईपीसी की धारा 304 (2) (गैर इरादतन हत्या) के तहत मामला दर्ज करेगी।

इस घटना के बाद मलाड पश्चिम के अतिरिक्त सीपी दिलीप सावंत ने कहा कि यह एक जी+2 बिल्डिंग थी, जो दूसरी बिल्डिंग पर गिर गई। वहीं, बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने बताया कि खराब हालत वाले आस-पास के मकानों को खाली करा लिया गया है, ताकि किसी तरह की दुर्घटना को टाला जा सके।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अजमेर दरगाह के बाहर ‘सर तन से जुदा’ की गूँज के 11 दिन बाद उदयपुर में काट दिया गया था कन्हैयालाल का गला, 2...

राजस्थान के अजमेर दरगाह के सामने 'सर तन से जुदा' के नारे लगाने वाले खादिम मौलवी गौहर चिश्ती सहित छह आरोपितों को कोर्ट ने बरी कर दिया है।

जिस किले में प्रवेश करने से शिवाजी को रोक नहीं पाई मसूद की फौज, उस विशालगढ़ में बढ़ रहा दरगाह: काटे जा रहे जानवर-156...

महाराष्ट्र के कोल्हापुर में स्थित विशालगढ़ किला में लगातार अतिक्रमण बढ़ रहा है। यहाँ स्थित एक दरगाह के पास कई अवैध दुकानें बन गई हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -