Thursday, July 25, 2024
Homeराजनीतिहाथों में पूजा की थाल लिए मुस्लिम महिलाओं ने उतारी भाजपा अध्यक्ष JP नड्डा...

हाथों में पूजा की थाल लिए मुस्लिम महिलाओं ने उतारी भाजपा अध्यक्ष JP नड्डा की आरती, नारियल भेंट किया: यूपी में कर रहे थे चुनाव प्रचार

जब मुस्लिम महिलाएँ जेपी नड्डा की आरती उतार रही थीं, तब भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी ताली बजा कर उनका अभिवादन किया।

उत्तर प्रदेश के शिकोहाबाद में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने जनसंपर्क अभियान चलाया। इस दौरान एक रोचक नजारा तब देखने को मिला, जब मुस्लिम महिलाओं ने आकर उन्हें रोक लिया। ‘डोर टू डोर’ कैम्पेन के दौरान मिली इन महिलाओं ने न सिर्फ जेपी नड्डा का स्वागत किया, बल्कि उनकी आरती भी उतारी। उन महिलाओं ने अपने हाथ में पूजा की थाल ले रखी थी। उन्होंने भाजपा अध्यक्ष को तिलक लगाया और साथ ही नारियल का फल भी भेंट किया।

इस स्वागत से अभिभूत नजर आए जेपी नड्डा ने हाथ जोड़ कर उन मुस्लिम महिलाओं को धन्यवाद दिया। वो काफी खुश भी नजर आए। इस दौरान उनके साथ केंद्रीय संसदीय मामलों और संस्कृति विभाग के राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल भी मौजूद थे। जब मुस्लिम महिलाएँ जेपी नड्डा की आरती उतार रही थीं, तब भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी ताली बजा कर उनका अभिवादन किया। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए ज़िंदाबाद के नारे भी लगे।

बता दें कि तीन तलाक खत्म किए जाने के बाद मुस्लिम महिलाओं को खासी राहत मिली है। उनके लिए कई योजनाएँ भी चलाई जा रही हैं। जेपी नड्डा ने वहाँ मौजूद लोगों से निवेदन किया कि वो उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा के लिए मतदान करें। शिकोहाबाद में जगह-जगह उन पर फूल बरसाए गए। उन्होंने अपराधियों को सपा द्वारा प्रत्याशी बनाए जाने पर तंज कसते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी के आधे उम्मीदवार जेल पर लड़ रहे हैं और आधे बेल पर लड़ रहे हैं।

बता दें कि इस इलाके को समाजवादी पार्टी का गढ़ माना जाता रहा है। यहीं से जेपी नड्डा ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि जेल से परचा भर रहे उनके उम्मीदवारों से वो पुरानी दोस्ती निभा रहे हैं। उन्होंने अपनी पार्टी के पदाधिकारियों के साथ बैठक भी की। उन्होंने हाथरस के आगरा रोड स्थित अग्रवाल सेवा सदन में मतदाताओं के साथ संवाद किया और फिर संगठन की चुनाव की तैयारी का जायजा लिया। यूपी चुनाव की मतगणना 10 मार्च, 2022 को होगी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -