Saturday, July 31, 2021
Homeराजनीतिइस चुनाव में ऐसा छक्का मारो कि मोदी बाउंड्री से पार चला जाए: सिद्धू...

इस चुनाव में ऐसा छक्का मारो कि मोदी बाउंड्री से पार चला जाए: सिद्धू की बेलगाम जवान

सिद्धू ने कहा, “आप लोग इकठ्ठे होकर 64% एक साथ आ जाएँ तो सब उलट जाएँगे और मोदी सलट (हार जाएँगे) जाएँगे। इस बार के चुनाव में ऐसा छक्का मारो कि मोदी बाउंड्री से पार चला जाए।”

लोकसभा चुनाव की बढ़ती सरगर्मी के बीच विवादित बयानों का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। एक तरफ आज़म खान का जया प्रदा पर दिया गया विवादित बयान का शोर अभी थमा भी नहीं था कि पूर्व क्रिकेटर और पंजाब की कॉन्ग्रेस सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू का नाम भी इस फेहरिस्त में शामिल हो गया है।

बता दें कि बिहार के कटिहार में चुनाव प्रचार के लिए पहुँचे सिद्धू ने मुस्लिम समुदाय से एकजुट होकर कॉन्ग्रेस को वोट देने की अपील की। सिद्धू ने कहा, “आप (मुस्लिम समुदाय) यहाँ अल्पसंख्यक होकर भी बहुसंख्यक हैं। आप अगर एकजुटता दिखाएँगे तो आपके प्रत्याशी तारिक अनवर को कोई भी नहीं हरा सकता है।”

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सिद्धू कटिहार संसदीय क्षेत्र के बलरामपुर विधानसभा के बारसोई प्रखंड के उच्च विद्यालय ढठ्ठा के मैदान में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। सिद्धू ने भाषण के दौरान कहा, “आपकी आबादी यहाँ 64 % है। यहाँ के मुस्लिम हमारी पगड़ी हैं। अगर आपको कोई दिक्कत हो तो मुझे याद करना, मैं पंजाब में भी आपका साथ दूँगा।”

सिद्धू यहीं नहीं रुके। विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा, “ये लोग आपको बाँट रहे हैं। मुस्लिमों को बाँट रहे हैं। औवैसी जैसे लोगों को लाकर वोट बाँटना चाहते हैं और जीतना चाहते हैं।” इसके साथ ही सिद्धू ने कहा, “आप लोग इकठ्ठे होकर 64% एक साथ आ जाएँ तो सब उलट जाएँगे और मोदी सलट (हार जाएँगे) जाएँगे। इस बार के चुनाव में ऐसा छक्का मारो कि मोदी बाउंड्री से पार चला जाए।”

बता दें कि कुछ दिन पहले मायावती भी मुस्लिमों से एकजुट हो बसपा-सपा गठबंधन को वोट देने की अपील कर चुकी हैं। अब देखना ये है कि ध्रुवीकरण की अपील करने वाले सिद्धू पर राजनीतिक पार्टियों के साथ चुनाव आयोग की क्या प्रतिक्रिया आती है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ये नंगे, इनके हाथ अपराध में सने, फिर भी शर्म इन्हें आती नहीं… क्योंकि ये है बॉलीवुड

राज कुंद्रा या गहना वशिष्ठ तो बस नाम हैं। यहाँ किसिम किसिम के अपराध हैं। हिंदूफोबिया है। खुद के गुनाहों पर अजीब चुप्पी है।

‘द प्रिंट’ ने डाला वामपंथी सरकार की नाकामी पर पर्दा: यूपी-बिहार की तुलना में केरल-महाराष्ट्र को साबित किया कोविड प्रबंधन का ‘सुपर हीरो’

जॉन का दावा है कि केरल और महाराष्ट्र पर इसलिए सवाल उठाए जाते हैं, क्योंकि वे कोविड-19 मामलों का बेहतर तरीके से पता लगा रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,277FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe