Wednesday, April 24, 2024
Homeराजनीति'नूपुर शर्मा को फाँसी मिलनी चाहिए': बोले AIMIM सांसद इम्तियाज जलील - इस्लाम अमन...

‘नूपुर शर्मा को फाँसी मिलनी चाहिए’: बोले AIMIM सांसद इम्तियाज जलील – इस्लाम अमन का मजहब, लोग गुस्सा हैं

उन्होंने कहा, "इस्लाम अमन और शांति का मजहब है, यकीनन लोगों के बीच गुस्सा है। किसी भी जाति-धर्म, गुरु या नबी के खिलाफ कोई कुछ बोलता है तो कार्रवाई होनी चाहिए।"

महाराष्ट्र के AIMIM सांसद इम्तियाज जलील ने खुलेआम कहा है कि नूपुर शर्मा को फाँसी के फंदे से लटका दिया जाना चाहिए। भाजपा पहले ही नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल को पैगंबर मुहम्मद पर टिप्पणी के आरोप लगने के बाद निलंबित कर चुकी है। इम्तियाज जलील ने साथ-साथ इस्लाम को एक शांतिपूर्ण मजहब भी करार दिया। उन्होंने कहा कि अगर नूपुर शर्मा को आसानी से जाने दिया गया तो ऐसी चीजें कभी नहीं रुकेंगी।

इम्तियाज जलील ने ये भी कहा कि लोग आक्रोशित हैं और कानून को उन सबके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए, जो किसी बी धर्म/मजहब के विरुद्ध ऐसी टिप्पणी करते हैं। हालाँकि, इस दौरान उन्होंने कई हफ़्तों तक सोशल मीडिया में शिवलिंग का लगातार मजाक बनाने वालों के खिलाफ कुछ भी नहीं कहा। उन्होंने कहा, “इस्लाम अमन और शांति का मजहब है, यकीनन लोगों के बीच गुस्सा है। किसी भी जाति-धर्म, गुरु या नबी के खिलाफ कोई कुछ बोलता है तो कार्रवाई होनी चाहिए।”

उन्होंने दावा किया कि तजा मामले में कार्रवाई नहीं हो रही है और सिर्फ पार्टी से निकाल दिया जाना कार्रवाई नहीं है। इम्तियाज जलील महाराष्ट्र के औरंगाबाद लोकसभा क्षेत्र से सांसद हैं। उससे पहले वो औरंगाबाद सेन्ट्रल विधानसभा क्षेत्र से विधायक भी रहे हैं। AIMIM ने उन्हें महाराष्ट्र में पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष भी बना रखा है। कभी ‘लोकमत’ और ‘NDTV’ के पत्रकार रहे सैयद इम्तियाज जलील के नेतृत्व में AIMIM को 2015 औरंगाबाद स्थानीय निकाय के चुनावों में 25 सीटें मिली थीं।

नूपुर शर्मा के विरोध में जुमे के दिन भारी हिंसा हुई और खासकर उत्तर प्रदेश के प्रयागराज और पश्चिम बंगाल के हावड़ा के अलावा राँची में मुस्लिम भीड़ ने जम कर तांडव मचाया। झारखंड हिंसा में एक व्यक्ति की मौत हो गई। एक पुलिस अधिकारी के सिर को फोड़ दिया तो बिहार के मंत्री नितिन नवीन की गाड़ी पर भी हमले किए गए। राँची सदर के एसडीओ के आदेश के बाद कुछ इलाकों में धारा 144 लगा दी गई है। कई जगह राँची में हर तरह की इंटरनेट सेवा को बंद करने की तैयारी है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कॉन्ग्रेसी दानिश अली ने बुलाए AAP , सपा, कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ता… सबकी आपसे में हो गई फैटम-फैट: लोग बोले- ये चलाएँगे सरकार!

इंडी गठबंधन द्वारा उतारे गए प्रत्याशी दानिश अली की जनसभा में कॉन्ग्रेस और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता आपस में ही भिड़ गए।

‘उन्होंने 40 करोड़ लोगों को गरीबी से निकाला, लिबरल मीडिया ने उन्हें बदनाम किया’: JP मॉर्गन के CEO हुए PM मोदी के मुरीद, कहा...

अपनी बात आगे बढ़ाते हुए जेमी डिमन ने कहा, "हम भारत को क्लाइमेट, लेबर और अन्य मुद्दों पर 'ज्ञान' देते रहते हैं और बताते हैं कि उन्हें देश कैसे चलाना चाहिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe