Monday, June 17, 2024
Homeराजनीतिशिकायत करने आई लड़की पर भड़के CM बघेल, आम लोगों को भी लगे डाँटने:...

शिकायत करने आई लड़की पर भड़के CM बघेल, आम लोगों को भी लगे डाँटने: वीडियो वायरल हुआ तो बोले – मुझे इसका दुःख

“एक मुख्यमंत्री और जनता के जनप्रतिनिधि का एक शिकायतकर्ता के प्रति यह भाषा बहुत अशोभनीय है। सामाजिक जीवन में यह भाषा कहीं भी उचित नहीं है।"

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के ‘भेंट मुलाकात’ कार्यक्रम का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस कार्यक्रम के दौरान एक युवती को कड़े शब्दों में टोकने और नेतागिरी नहीं करने की सलाह देने पर सोशल मीडिया पर आलोचना हो रही है। 

वीडियो में मुख्यमंत्री भीड़ में से एक लड़की की तरफ इशारा करते हुए कह रहे हैं, इस लड़की को दे दो। इसके बाद युवती नमस्कार बोलकर पुलिस अधिकारियों के खिलाफ अपनी शिकायत बोलना शुरू करती है। इसी समय एक पुलिस अधिकारी मुख्यमंत्री के कान में कुछ कहते हैं। इसके बाद युवती जैसे ही बोलना शुरू करती है, मुख्यमंत्री से टोक कर उसका नाम पूछते हैं। सवाल-जवाब के इसी दौर में भीड़ शोर मचाती है और वह नाराज होकर कहने लगते हैं- ये क्या तमाशा है? क्या हो गया?…इसके बाद वह युवती को डाँटते हुए कहते हैं कि वह नेतागिरी न करे।

इस वीडियो के वायरल होने के बाद राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने वीडियो के इस हिस्से को ट्वीट कर इस व्यवहार की आलोचना की है। उन्होंने लिखा, “यह भेंट मुलाकात है या बदतमीजी और डाँट है! एक महिला की शिकायत का निराकरण करने की बजाय उससे इस तरह अभद्रता से बात करना कहाँ तक जायज़ है? भूपेश बघेल जी जिस जनता पर आप झल्ला रहे हैं, चिल्ला रहे हैं, उसी ने आपको मुख्यमंत्री बनाया है, भूलिए मत। याद रखना! यह अहंकार जल्द टूटेगा।”

नेटिजन्स ने भी इस वीडियो पर आपत्ति जताई और सवाल उठाए। मुकेश पाठक ने लिखा, “यदि भारतीय जनता पार्टी के किसी नेता ने इस तरह का अपमानजनक व्यवहार किया होता तो लोग आसमान सर पर उठा लेते।”

राजेश गौर ने लिखा, “वोट लेने के वक्त जनता भगवान और मुख्यमंत्री बनने के बाद ये भगवान।”

शिवाजी सिंह नाम के यूजर ने लिखा, “तख्तेताऊत पर बैठे मुगलिया सल्तनत के सुल्तान एक फरियादी औरत को इंसाफ देते हुए। इतनी अकड़ औरंगज़ेब में भी नही रही होगी।”

विरेंद्र सिंह राणा ने लिखा, “ये जनता से लगाव का झूठा दिखावा करते है और सबके सामने जनता को फटकारते है।”

छत्तीसगढ़ में आम आदमी पार्टी के प्रभारी और दिल्ली के विधायक संजीव झा ने भी इस व्यवहार की आलोचना की है। संजीव झा ने अपने ट्वीट में लिखा, “एक मुख्यमंत्री और जनता के जनप्रतिनिधि का एक शिकायतकर्ता के प्रति यह भाषा बहुत अशोभनीय है। सामाजिक जीवन में यह भाषा कहीं भी उचित नहीं है। याद रखिए भूपेश बघेल जी इसी जनता ने आप को वोट देकर मुख्यमंत्री बनाया और यही जनता आपको अर्श से फर्श तक लाने में तनिक भी देर नही करेगी।”

चौतरफा आलोचना होने पर सीएम भूपेश बघेल ने भी इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा, “वह महिला अपनी बात कर रही थी, वो दुःखी थी अपनी पीड़ा बता रही थी। मुझे उस वक्त डाँटना नहीं चाहिए था, मुझे इस बात का दुख है। BJP इस तरह की वीडियो प्रचार कर निम्न स्तर की राजनीति कर रही है।”

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इन दिनों 90 विधानसभा के दौरे पर है और वे जनता से सीधे रूबरू हो रहे हैं। जनता की समस्या सुन रहे हैं और अधिकारियों को निराकरण के आदेश दे रहे हैं। इसके साथ ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा चलाए जा रही योजनाओं के बारे में लोगों को बता रहे हैं और उसका लाभ जनता तक पहुँच रहा है कि नहीं इसका जायजा भी ले रहे हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -