Monday, August 2, 2021
Homeराजनीति'दलित भाई-बहनों से इतनी नफरत': सिलीगुड़ी में बोले PM मोदी- दीदी आपको जाना होगा

‘दलित भाई-बहनों से इतनी नफरत’: सिलीगुड़ी में बोले PM मोदी- दीदी आपको जाना होगा

पीएम ने कहा कि वह बंगाल में दीदी और टीएमसी की मनमानियाँ नहीं चलने देंगे। उत्तर बंगाल में घोषणा हो चुकी है कि टीएमसी जाएगी और भाजपा आएगी। कूचबिहार की घटना पर दुख जताते हुए पीएम ने कहा कि दीदी और उनके गुंडों की बौखलाहट बेकाबू हो रही है।

पश्चिम बंगाल में आज (अप्रैल 10, 2021) 5वें चरण के प्रचार के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सिलीगुड़ी में चुनावी रैली करने पहुँचे। जनसभा संबोधित करते हुए उन्होंने तृणमूल कॉन्ग्रेस के नेताओं और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा।

पीएम ने कहा कि वह बंगाल में दीदी और टीएमसी की मनमानियाँ नहीं चलने देंगे। उत्तर बंगाल में घोषणा हो चुकी है कि टीएमसी जाएगी और भाजपा आएगी। कूचबिहार की घटना पर दुख जताते हुए पीएम ने कहा कि दीदी और उनके गुंडों की बौखलाहट बेकाबू हो रही है।

अपने संबोधन में उन्होंने राज्य में दशकों से तैयार हुए राजनीतिक माहौल को लेकर कहा कि अब इसे बदलने का समय है। हिंसा करना, सुरक्षाबल पर हमले के लिए लोगों को उकसाना, चुनाव प्रक्रिया में रोड़ा अटकाना, दीदी को नहीं जिता पाएगा।

‘आसोल पॉरिबोर्तोन’ पर बात करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोगी ने सोशल मीडिया पर वायरल हो रही उन वीडियो का जिक्र किया जिसमें टीएमसी विधायक धमकी दे रहे हैं कि बीजेपी को वोट दिया तो लोगों को उठाकर बाहर फेंक दिया जाएगा।

पीएम बोले, “दीदी, ओ दीदी! बंगाल के लोग यहीं रहेंगे। अगर जाना ही है तो सरकार से आपको जाना होगा। दीदी आप बंगाल के लोगों की भाग्य विधाता नहीं हैं। बंगाल के लोग आपकी जागीर नहीं हैं।”

अपने संबोधन में पीएम ने टीएमसी नेता सुजाता मंडल के ‘भिखारी’ वाले बयान को लेकर टीएमसी की सोच पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा, “एक वीडियो सामने आया है जिसमें दीदी की करीबी एक नेता ने अनुसूचित जाति के लोगों का बहुत बड़ा अपमान किया है। उन्होंने कहा कि बंगाल में जो अनुसूचित जाति है, Schedule Caste समुदाय है वो भिखारियों की तरह व्यवहार करती है।” आगे पीएम ने दीदी से पूछा, “क्या SC समुदाय के मेरे भाई बहनों और उनके बच्चों से आप, आपकी पार्टी, आपके नेता इतनी नफरत करते हैं?”

इसके बाद उन्होंने बताया कि कैसे ममता सरकार को कभी गुंडो, हत्यारों, लुटेरों, तोलाबाजों पर गुस्सा नहीं आया, लेकिन वह सुरक्षाबल पर गुस्सा कर रही हैं, सिर्फ इसलिए क्योंकि वो बंगाल के लोगों के अधिकार की रक्षा कर रहे हैं। पीएम ने कहा कि दीदी के गुंडे इस बार वोट नहीं छाप पा रहे इसलिए दीदी नाराज हैं।

गरीब, दलित, आदिवासियों, पिछड़ों को कभी हक न दिए जाने पर पीएम ने सवाल उठाया और कहा कि बंगाल में नल से जल नहीं आया, सिंचाई को पानी नहीं मिला, लेकिन नदियाँ माफियों को दे दी गई। उन्होंने किसान परिवारों को उनका हक दिलाने के वादे को दोहराया। उन्हें आश्वस्त किया कि बीजेपी के आते ही पहली बैठक में उनके हित में फैसले लेने का काम शुरू होगा। जो 18 हजार रुपया किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि का नहीं दिया गया है, उसे भी खातों में जमा किया जाएगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘किताब खरीद घोटाला, 1 दिन में 36 संदिग्ध नियुक्तियाँ’: MGCUB कुलपति की रेस में नया नाम, शिक्षा मंत्रालय तक पहुँची शिकायत

MGCUB कुलपति की रेस में शामिल प्रोफेसर शील सिंधु पांडे विक्रम विश्वविद्यालय में कुलपति थे। वहाँ पर वो किताब खरीद घोटाले के आरोपित रहे हैं।

‘दविंदर सिंह के विरुद्ध जाँच की जरूरत नहीं…मोदी सरकार क्या छिपा रही’: सोशल मीडिया में किए जा रहे दावों में कितनी सच्चाई

केंद्र सरकार के ख़िलाफ़ कई कॉन्ग्रेसियों, पत्रकारों, बुद्धिजीवियों ने सोशल मीडिया पर दावा किया। लेकिन इनमें से किसी ने एक बार भी नहीं सोचा कि अनुच्छेद 311 क्या है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,620FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe