Sunday, July 14, 2024
Homeराजनीति'₹250 से ₹10 हो गई 1 GB डेटा की कीमत, जन औषधि केंद्र में...

‘₹250 से ₹10 हो गई 1 GB डेटा की कीमत, जन औषधि केंद्र में कम दाम में मिलती हैं दवाइयाँ’: PM मोदी ने बताया मिडिल क्लास को क्या मिला, टॉयलेट्स-सैनिटरी पैड्स पर भी बोले

उन्होंने बताया कि एक्सप्रेसवे-हाइवे और रेलवे पर भी बड़ा निवेश हो रहा है, वरना देश अंग्रेजों के दिए रेलवे इंफ्रास्ट्रक्चर पर बैठा हुआ है। उन्होंने बताया कि कैसे पहले रेलवे की पहचान दुर्घटनाओं के लिए होती थी।

संसद में संबोधन देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कॉन्ग्रेस को जिन बस्तियों की याद चुनाव के समय आती थी, वाज वहाँ बिजली-पानी के साथ 4G भी पहुँची है। पीएम मोदी ने कहा कि माँ सशक्त होती है तो समाज मजबूत होता है और देश मजबूत होता है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार का सौभाग्य है कि माँओं-बहनों की सेवा का सौभाग्य उन्हें मिला। उन्होंने कहा कि लाल किले से टॉयलेट्स की बात करने पर उनका मजाक उड़ाया गया, लेकिन ये महिलाओं के सम्मान की बात है।

उन्होंने कहा कि सैनिटरी पैड्स की बात करने पर कहा जाता है कि प्रधानमंत्री ऐसी बातें क्यों करते हैं, लेकिन इसके अभाव में कई महिलाएँ बीमार हो जाती थीं। प्रधानमंत्री ने कहा कि इन्होंने देश को ऐसी निराशा में झोंक रखा था कि हम कुछ न भी करते तो भी कोई सवाल नहीं करते, लेकिन हमने काम किया। पीएम मोदी ने कहा कि 2014 से पहले 1 GB डेटा की कीमत 250 रुपए थी, जो आज बस 10 रुपया है। औसत के हिसाब से हर व्यक्ति का 5000 रुपया इंटरनेट में बच रहा है।

माध्यम वर्ग को मिले लाभ के बारे में गिनाते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ‘जन औषधि केंद्र’ से बाजार में 100 रुपए में मिलने वाली दवाइयाँ 10 रुपए में मिलती हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि कॉलेजों की संख्या बढ़ने से मिडल क्लास के छात्रों को काफी सुविधा हुई है। प्रधानमंत्री ने याद दिलाया कि गुलामी के कालखंड में देश का आर्किटेक्चर और इंफ्रास्ट्रक्चर नष्ट कर दिया गया, लेकिन अब सड़क लेकर समुद्री मार्ग तक हर क्षेत्र में इंफ्रास्ट्रक्चर का कायाकल्प हो रहा है।

उन्होंने बताया कि एक्सप्रेसवे-हाइवे और रेलवे पर भी बड़ा निवेश हो रहा है, वरना देश अंग्रेजों के दिए रेलवे इंफ्रास्ट्रक्चर पर बैठा हुआ है। उन्होंने बताया कि कैसे पहले रेलवे की पहचान दुर्घटनाओं के लिए होती थी। प्रधानमंत्री ने अपने 50 वर्षों के सार्वजनिक जीवन की बात करते हुए कहा कि उन्होंने परिव्राजक के रूप में समय बिताया और हर स्तर के लोगों के साथ उठने-बैठने पर पाया है कि नकारात्मकता को भारतीय समुदाय स्वीकार नहीं करता है, ये कर्म करने वाला स्वप्नशील समाज है जो सृजन कार्य से जुड़ा है।

उन्होंने याद दिलाया कि कैसे GST ने लोगों के जीवन को सुगम करने में योगदान दिया है। HAL को गालियाँ दी गईं, लेकिन आज एशिया का सबसे बड़ा हैलीकॉप्टर प्लांट वहाँ बन रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि भारत आज रक्षा के क्षेत्र में एक्सपोर्ट करने वाला बन गया है। पीएम मोदी ने कहा कि सत्ता में बैठने वाले विपक्ष में जाकर भी फेल हुए और देश पास होता जा रहा है डिस्टिंक्शन से। प्रधानमंत्री ने जम्मू कश्मीर का भी जिक्र किया, जहाँ पोस्टर लगा था कि लाल चौक पर किसकी हिम्मत है झंडा फहराने की, तब उन्होंने कहा था कि आतंकी कान खोल कर सुन लें – 26 जनवरी को ठीक 11 बजे मैं बिना सुरक्षा और बुलेटप्रूफ जैकेट के झंडा फहराऊँगा और फैसला वहीं होगा किसने अपनी माँ का दूध पिया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मांस-मछली से मुक्त हुआ गुजरात का पातिलाना, इस्लाम और ईसाइयत से भी पुराना है इस शहर का इतिहास: जैन मंदिर शहर के नाम से...

शत्रुंजय पहाड़ियों की यह पवित्रता और शीर्ष पर स्थित धार्मिक मंदिर, साथ ही जैन धर्म का मूल सिद्धांत अहिंसा है जो पालिताना में मांस की बिक्री और खपत पर प्रतिबंध लगाने की मांग का आधार बनता है।

US में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को लगी गोली, हमलावर सहित 2 की मौत: PM मोदी ने जताया दुख, कहा- ‘राजनीति में हिंसा की...

गोलीबारी के दौरान सुरक्षाबलों ने हमलावर को मार गिराया। इस हमले में डोनाल्ड ट्रंप घायल हो गए और उनके कान से निकला खून उनके चेहरे पर दिखा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -