Monday, June 24, 2024
Homeराजनीति'अभी बहुत से निर्णय बाकी हैं,': BJP अधिवेशन में PM मोदी ने साफ़ किया...

‘अभी बहुत से निर्णय बाकी हैं,’: BJP अधिवेशन में PM मोदी ने साफ़ किया 2024 का एजेंडा, बोले – मैं सुख-वैभव के लिए जीने वाला व्यक्ति नहीं

उन्होंने कहा कि हमने हर व्यवस्था को पुरानी सोच से बाहर निकाला, जिन्हें किसी ने नहीं पूछा उन्हें हमने न सिर्फ पूछा बल्कि पूजा है। उन्होंने बताया कि सबसे पिछड़ी जनजातियों को किसी ने नहीं पूछा, हमने उनके लिए योजना बनाई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार (18 फरवरी, 2024) को नई दिल्ली में भाजपा के अधिवेशन को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि शिवाजी महाराज ने छत्रपति बनने के बाद आराम नहीं किया बल्कि अपना अभियान जारी रखा, इसीलिए तरह वो भी सुख-वैभव के लिए जीने वाले व्यक्ति नहीं हैं। उन्होंने कहा कि वो भाजपा सरकार का लगातार तीसरा कार्यकाल सत्ता भोग के लिए नहीं माँग रहे। उन्होंने कहा कि अगर वो अपने घर की केवल चिंता करते तो करोड़ों लोगों को घर नहीं मिल पाता।

उन्होंने गरीबों, महिलाओं एवं युवाओं के सपने को अपना संकल्प करार देते हुए कहा कि इसके लिए हम सेवा भाव से दिन-रात एक कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि 10 वर्ष में हमने जो प्राप्त किया वो पड़ाव मात्र है और मंजिल तक पहुँचने का विश्वास है, हमें हर भारतीय के जीवन को बदलने के लिए बहुत कुछ हासिल करने के लिए बहुत से निर्णय अभी बाकी हैं। पीएम मोदी ने अपने संबोधन में जैन मुनि विद्यासागर जी महाराज को श्रद्धापूर्वक और आदरपूर्वक नमन करते हुए श्रद्धाजंलि अर्पित की।

उन्होंने कहा कि हमने हर व्यवस्था को पुरानी सोच से बाहर निकाला, जिन्हें किसी ने नहीं पूछा उन्हें हमने न सिर्फ पूछा बल्कि पूजा है। उन्होंने बताया कि सबसे पिछड़ी जनजातियों को किसी ने नहीं पूछा, हमने उनके लिए योजना बनाई। उन्होंने कारीगरों के लिए बनी विश्वकर्मा योजना और रेहड़ी-पटरी वालों के लिए बने स्वनिधि योजना का भी जिक्र किया। भ्रूण-हत्या की समस्या के खिलाफ सामाजिक चेतना और कड़े कानून का सहारा लेने का जिक्र करते हुए कहा कि ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ का सार्थक परिणाम निकला।

उन्होंने बताया कि वो देश के पहले प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने लाल किले से शौचालय की बात की, 10 करोड़ उज्जवला कनेक्शन दिया, 4 करोड़ घर बनाए गए, 10 करोड़ परिवारों को नल से जल दिया गया। उन्होंने बताया कि 25 करोड़ से अधिक महिलाओं के बैंक खाते खोले गए। उन्होंने बताया कि प्रेग्नेंसी लीव को बढ़ा कर 26 हफ्ते किया गया, श्रम कानूनों में सुधार हुआ, पैरामिलिट्री फ़ोर्स में महिलाओं की भर्ती दोगुने से अधिक हुई।

पीएम मोदी ने कहा, “आने वाले समय में हमारी माताओं-बहनों-बेटियों के लिए अवसर ही अवसर आने वाले हैं। मिशन शक्ति से देश में नारी शक्ति की सुरक्षा और सशक्तिकरण का संपूर्ण इकोसिस्टम बनेगा। 15 हजार महिला SHG को ड्रोन मिलेंगे। अब ड्रोन दीदी खेती में वैज्ञानिकता और आधुनिकता लाएँगी। अब देश में 3 करोड़ महिलाएँ लखपति दीदी बनाई जाएगी। जो काम सदियों से लटके थे, हमने उनका समाधान करने का साहस करके दिखाया है।”

पीएम मोदी ने ध्यान दिलाया कि कैसे अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण करके 5 सदियों का इंतजार खत्म किया गया है। गुजरात के पावागढ़ में 500 साल बाद धर्म ध्वजा फहराई गई है। 7 दशक बाद करतारपुर साहिब राहदारी खोली गई। 7 दशक के इंतजार के बाद देश को आर्टिकल 370 से मुक्ति मिली है। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे विपक्ष के दल भले ही योजनाओं को पूरा करना न जानते हों, लेकिन झूठे वादे करने में इनका कोई जवाब नहीं है।

पीएम मोदी ने कहा कि आज एक वायदा करने से ये सारे राजनीतिक दल घबराते हैं, वो वादा है – विकसित भारत का, और ये हमारा वादा है। बकौल पीएम मोदी, सिर्फ और सिर्फ भाजपा और NDA गठबंधन ने ही इसका सपना देखा है और हम 2047 तक भारत को विकसित देश बनाने के लिए काम कर रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि हमारी कैबिनेट में रिकॉर्ड संख्या में पूर्वोत्तर के मंत्री हैं। नागालैंड से पहली बार एक महिला राज्यसभा में सांसद बन गई है। हमे गर्व है कि हमने पहली बार त्रिपुरा के व्यक्ति को मंत्री परिषद में स्थान दिया है। पहली बार हमारी सरकार में अरुणाचल प्रदेश को कैबिनेट मिनिस्टर मिला है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

चोर औरंगजेब की पिटाई पर चीत्कार, दलित नकुल को चाकू घोंपने की चर्चा तक नहीं: अलीगढ़ में एक ही दिन हुई दोनों घटना, पर...

जिस अलीगढ़ में चोर औरंगज़ेब के लिए नौकरी व मुआवजे की माँग हो रही है। वहीं शहज़ाद की चाकूबाजी में घायल दलित नकुल का परिवार कर्ज लेकर अपना इलाज करवा रहा है।

‘काश निर्भया की जगह तुम होती, एहसान मानो अभी तक जिंदा हो…’: स्वर्ण मंदिर में योग करने वाली लड़की को मिल रही रेप-हत्या की...

स्वर्ण मंदिर के सामने शीर्षासन करने वाली इन्फ्लुएंसर को सोशल मीडिया पर धमकियाँ मिल रही थीं। अब वडोदरा पुलिस ने उन्हें सुरक्षा मुहैया कराई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -