Saturday, May 18, 2024
Homeराजनीति'जो सेना पर उठाते हैं सवाल, उन्हें काशी-अयोध्या से भी दिक्कत': PM मोदी ने...

‘जो सेना पर उठाते हैं सवाल, उन्हें काशी-अयोध्या से भी दिक्कत’: PM मोदी ने किया 594 km लम्बे ‘गंगा एक्सप्रेसवे’ का किया शिलान्यास

मेरठ, हापुड़, बुलंदशहर, अमरोहा, संभल, बदायूं, शाहजहाँपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़ और प्रयागराज को जोड़ने वाला 'गंगा एक्सप्रेसवे' बुलंदशहर के इंडस्ट्रियल कॉरिडोर को संभल के कैलादेवी मंदिर, बदायूँ के हनुमंत धाम और उन्नाव के बैसवारा द्वार को जोड़ेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार (18 दिसंबर, 2021) को उत्तर प्रदेश में ‘गंगा एक्सप्रेसवे’ का शिलान्यास किया। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी उपस्थित थे। बता दें कि 12 जिलों से गुजरने वाला ‘गंगा एक्सप्रेसवे’ मेरठ-बुलंदशहर मार्ग (NH-334) पर मेरठ के बिजौली ग्राम से शुरू होकर प्रयागराज बाइपास (NH-19) पर जुडापुर दांदू गाँव तक जाएगा। इससे पूर्वी व पश्चिमी यूपी की दूरी घटेगी। 594 किलोमीटर लम्बा ये एक्सप्रेसवे मेरठ के शहीद स्मारक, हापुड़ का गढ़मुक्तेश्वर और अमरोहा के वासुदेव मंदिर को जोड़ेगा।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों को याद दिलाया कि रविवार को ही पंडित राम प्रसाद बिस्मिल, अशफाक उल्लाह खान और ठाकुर रौशन सिंह का बलिदान दिवस है। उन्होंने बताया कि अंग्रेजी सत्ता को चुनौती देने वाले शाहजहाँ के इन तीनों सपूतों को 19 दिसंबर को फाँसी दी गई थी। बकौल पीएम मोदी, भारत की आजादी के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर देने वाले ऐसे वीरों का हम पर बहुत बड़ा कर्ज है। पीएम ने कहा कि माँ गंगा सारे मंगलों की, सारी उन्नति प्रगति की स्रोत हैं।

उन्होंने आगे कहा कि जैसे माँ गंगा सारे सुख देती हैं, और सारी पीड़ा हर लेती हैं, ऐसे ही गंगा एक्सप्रेसवे भी यूपी की प्रगति के नए द्वार खोलेगा। उन्होंने कहा कि ये जो आज यूपी में एक्सप्रेसवे का जाल बिछ रहा है, जो नए एयरपोर्ट बनाए जा रहे हैं, नए रेलवे रूट बन रहे हैं, वो यूपी के लोगों के लिए अनेक वरदान एक साथ लेकर आ रहे हैं। बकौल पीएम मोदी, पहला वरदान- लोगों के समय की बचत। दूसरा वरदान- लोगों की सहूलियत में बढोतरी, सुविधा में बढोतरी। तीसरा वरदान- यूपी के संसाधनों का सही उपयोग। चौथा वरदान- यूपी के सामर्थ्य में वृद्धि। पाँचवाँ वरदान- यूपी में चौतरफा समृद्धि।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, यूपी में आज जो आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण हो रहा है वो ये दिखाता है कि संसाधनों का सही उपयोग कैसे किया जाता है। पहले जनता के पैसे का क्या-क्या इस्तेमाल हुआ है ये आप लोगों ने भली-भाँति देखा है। लेकिन आज उत्तर प्रदेश के पैसे को उत्तर प्रदेश के विकास में लगाया जा रहा है। जब पूरा यूपी एक साथ बढ़ता है तो देश आगे बढ़ता है। इसलिए डबल इंजन की सरकार का फोकस यूपी के विकास पर है। सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास के मंत्र के साथ हम यूपी के विकास के लिए ईमानदारी से प्रयास कर रहे हैं।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों को पाँच साल पहले का हाल बताते हुए कहा कि राज्य के कुछ इलाकों को छोड़ दें तो दूसरे शहरों और गाँव-देहात में बिजली ढूँढे नहीं मिलती थी, लेकिन डबल इंजन की सरकार ने ना सिर्फ यूपी में करीब 80 लाख मुफ्त बिजली कनेक्शन दिए, बल्कि हर जिले को पहले से कई गुना ज्यादा बिजली दी जा रही है। उन्होंने कहा कि जो भी समाज में पीछे है, पिछड़ा हुआ है, उसे सशक्त करना, विकास का लाभ उस तक पहुँचाना, हमारी सरकार की प्राथमिकता है। यही भावना हमारी कृषि नीति में, किसानों से जुड़ी नीति में भी दिखती है।

पीएम मोदी ने कहा, “हमारे यहाँ कुछ राजनीतिक दल ऐसे रहे हैं जिन्हें देश की विरासत से भी दिक्कत है और देश के विकास से भी। देश की विरासत से दिक्कत क्योंकि इन्हें अपने वोटबैंक की चिंता ज्यादा सताती है। देश के विकास से दिक्कत क्योंकि गरीब की, सामान्य मानवी की इन पर निर्भरता दिनों-दिन कम हो रही है। इन लोगों को काशी में बाबा विश्वनाथ का भव्य धाम बनने से दिक्कत है। इन लोगों को अयोध्या में प्रभु श्रीराम का भव्य मंदिर बनने से दिक्कत है। इन लोगों को गंगा जी के सफाई अभियान से दिक्कत है। यही लोग हैं जो आतंक के आकाओं के खिलाफ सेना की कार्रवाई पर सवाल उठाते हैं। यही लोग हैं जो भारतीय वैज्ञानिकों की बनाई मेड इन इंडिया कोरोना वैक्सीन को कठघरे में खड़ा कर देते हैं।”

बता दें कि मेरठ, हापुड़, बुलंदशहर, अमरोहा, संभल, बदायूँ, शाहजहाँपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़ और प्रयागराज को जोड़ने वाला ‘गंगा एक्सप्रेसवे’ बुलंदशहर के इंडस्ट्रियल कॉरिडोर को संभल के कैलादेवी मंदिर, बदायूँ के हनुमंत धाम और उन्नाव के बैसवारा द्वार को जोड़ेगा। शाहजहाँपुर में एयरस्ट्रिप भी बनेगी, जहाँ आपातकाल में वायुसेना के विमान लैंड कर सकते हैं। 94 प्रतिशत जमीन इसके लिए अधिग्रहित की जा चुकी है। 8 घंटे में मेरठ से लेकर प्रयागराज की दूरी तय होगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

रोफिकुल इस्लाम जैसे दलाल कराते हैं भारत में घुसपैठ, फिर भारतीय रेल में सवार हो फैल जाते हैं बांग्लादेशी-रोहिंग्या: 16 महीने में अकेले त्रिपुरा...

त्रिपुरा के अगरतला रेलवे स्टेशन से फिर बांग्लादेशी घुसपैठिए पकड़े गए। ये ट्रेन में सवार होकर चेन्नई जाने की फिराक में थे।

CM केजरीवाल के PA को जमानत नहीं, गिरफ्तारी से पहले ‘सेटिंग’ में लगा था विभव कुमार: जानिए स्वाति मालीवाल वाले से मारपीट में कितनी...

सीएम केजरीवाल के पीए विभव कुमार को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उनकी अग्रिम जमानत की याचिका भी खारिज हो चुकी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -