PM ने रैली में गाँधी परिवार के ‘फार्महाउस’ पर ऑपइंडिया की ख़बर का उल्लेख किया

राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी ने एचएल पाहवा के साथ कई भूमि सौदे किए हैं, जो भगोड़े हथियार डीलर संजय भंडारी के क़रीबी हैं।

कॉन्ग्रेस पार्टी पर भ्रष्टाचार के लिए हमला बोलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक चुनावी रैली में ऑपइंडिया की ब्रेकिंग न्यूज़ का उल्लेख किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि कॉन्ग्रेस और भ्रष्टाचार एक-दूसरे के इतने क़रीब हैं कि उन्हें अलग नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि कॉन्ग्रेस के शासन के दौरान भ्रष्टाचार ‘एक्सीलेटर’ पर रहता है और विकास ‘वेंटिलेटर’ पर रहता है। यही कॉन्ग्रेस की पहचान है।

गाँधी परिवार का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हर घोटाले में नामदार परिवार का नाम सबसे ऊपर है। उन्होंने कहा, “आपने हाल ही में मीडिया में देखा होगा कि, बड़े फार्महाउस में भी कैसे घोटाले किए गए। साथियों इन्होंने देश की सेना को नहीं छोड़ा, हमारे सैनिकों को नहीं छोड़ा।” हाल ही में ऑपइंडिया ने गाँधी परिवार के सदस्यों द्वारा किए गए संदिग्ध भूमि सौदों का ख़ुलासा किया था।

राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी ने एचएल पाहवा के साथ कई भूमि सौदे किए हैं, जो भगोड़े हथियार डीलर संजय भंडारी का क़रीबी है। राहुल गाँधी ने कम क़ीमत पर भूमि पाहवा से ख़रीदी थी, जबकि प्रियंका गाँधी ने पाहवा से ज़मीन ख़रीदी और फिर बाद में उसे बढ़े मूल्य पर बेच दिया।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

गाँधी परिवार के भाई-बहनों ने अपने फार्महाउस को एक कंपनी को किराए पर दे दी, जिसपर मानदंडों के उल्लंघन का आरोप लगाया गया था। इसके अलावा, राहुल गाँधी द्वारा फार्महाउस का अर्जित किराया घोषित मूल्य से 4 से 9 गुना अधिक था, जिसे राहुल गाँधी के चुनावी हलफ़नामे में 9 लाख रुपए से थोड़ा अधिक लिखा गया। राहुल गाँधी ने 2G घोटाले के अभियुक्त यूनिटेक से एक संदिग्ध सौदे में संपत्ति खरीदी थी, जहाँ वह वाणिज्यिक संपत्तियों के लिए किए गए अग्रिम भुगतान पर ब्याज कमा रहे थे।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

बीएचयू, वीर सावरकर
वीर सावरकर की फोटो को दीवार से उखाड़ कर पहली बेंच पर पटक दिया गया था। फोटो पर स्याही लगी हुई थी। इसके बाद छात्र आक्रोशित हो उठे और धरने पर बैठ गए। छात्रों के आक्रोश को देख कर एचओडी वहाँ पर पहुँचे। उन्होंने तीन सदस्यीय कमिटी गठित कर जाँच का आश्वासन दिया।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,578फैंसलाइक करें
23,209फॉलोवर्सफॉलो करें
121,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: