Friday, July 23, 2021
Homeराजनीतिलद्दाख के सबसे दुर्गम स्थान पर निमू में PM मोदी ने की सिंधु पूजा,...

लद्दाख के सबसे दुर्गम स्थान पर निमू में PM मोदी ने की सिंधु पूजा, अयोध्या से भी आया बुलावा

श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ने कहा कि श्री राम मंदिर ट्रस्ट के सदस्य 18 जुलाई को अयोध्या में मिलेंगे। इस दौरान राम मंदिर निर्माण पर चर्चा होगी। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि पीएम मोदी एक बार अयोध्या आएँ ताकि निर्माण शुरू हो जाए।

PM नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार (जुलाई 03, 2020) को 11,000 फुट की ऊँचाई पर लद्दाख के निमू पोस्ट पहुँचकर भारतीय सेना के जवानों का मनोबल बढ़ाया। इस दौरान उन्होंने सिंधु दर्शन पूजा भी की।

इसका वीडियो और तस्वीरें आज सामने आए हैं। सिंधु नदी के तट पर 11,000 फुट की ऊँचाई पर स्थित निमू पोस्ट सबसे दुर्गम स्थानों में से एक है।

पूर्व लद्दाख स्थित गलवान घाटी क्षेत्र में भारत और चीन की सेनाओं के बीच जारी गतिरोध के बीच शुक्रवार को पीएम मोदी ने अचानक लेह दौरा कर सेना के जवानों से बातचीत की और उनका हौसला बढ़ाया। पीएम मोदी के इस दौरे ने सीमा पर भारत की दृढ़ता के संकेत दिए हैं।

लेह पहुँचकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सेना के अधिकारियों, जवानों और अस्पताल में भर्ती जवानों से मुलाकात की। उन्होंने सेना के जवानों को संबोधित करते हुए उनका उत्साह बढ़ाया। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि लेह, लद्दाख से लेकर करगिल और सियाचिन तक, यहाँ की बर्फीली चोटियों से लेकर गलवान घाटी की ठंडे पानी की धारा तक हर चोटी, हर पहाड़, हर जर्रा-जर्रा, हर कंकड़, पत्थर भारतीय सैनिकों के पराक्रम की गवाही देते हैं।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि हम वो लोग हैं जो बाँसुरी बजाने वाले भगवान कृष्ण की पूजा करते हैं और हम वही लोग सुदर्शन चक्रधारी कृष्ण को आदर्श मानते हैं। उन्होंने कहा, “मैं आज आपको प्रणाम करने आया हूँ और आपको देखकर एक ऊर्जा लेकर जाऊँगा। हम दुनिया की किसी ताकत के सामने न झुके हैं और न कभी झुकेंगे। ये बात मैं आप जैसे पराक्रमी, वीर साथियों के कारण कह पा रहा हूँ।”

श्रीराम मंदिर ट्रस्ट ने जताई पीएम मोदी के उपस्थित होने की इच्छा

आज शनिवार (जुलाई 04, 2020) को श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ने कहा कि श्री राम मंदिर ट्रस्ट के सदस्य 18 जुलाई को अयोध्या में मिलेंगे। इस दौरान राम मंदिर निर्माण पर चर्चा होगी। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि पीएम मोदी एक बार अयोध्या आएँ ताकि निर्माण शुरू हो जाए।

इस ट्रस्ट के प्रमुख महंत नृत्य गोपाल दास हैं। प्रधानमंत्री के पूर्व प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्र, केंद्रीय अतिरिक्त गृह सचिव ज्ञानेश कुमार और उत्तर प्रदेश सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी समेत कई अन्य इसके सदस्य हैं। बैठक के एजेंडा का संकेत देते हुए राय ने कहा कि मंदिर के पिलरों (स्तम्भ) की नींव रखने का मुद्दा बैठक में उठाया जा सकता है।

18 जुलाई को अयोध्या में श्री राम मंदिर न्यास की बैठक में जमीन के समतल होने के बाद परियोजना के विभिन्न चरणों पर चर्चा होगी। ज्ञात हो कि यह ट्रस्ट अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के काम की देखरेख के लिए उच्चतम न्यायालय के आदेश के तहत गठित किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हंगामा 2 देखिए, राज की वजह से नुकसान न हो: फैन्स से शिल्पा शेट्टी की गुजारिश, घर पहुँच मुंबई पुलिस ने दर्ज किया बयान

राज कुंद्रा की गिरफ्तारी के केस में मुंबई पुलिस के समक्ष आज बयान दर्ज करवाने के बीच शिल्पा शेट्टी ने अपनी फिल्म हंगामा 2 के लिए अपील की।

‘CM अमरिंदर सिंह ने किसानों को संभाला, दिल्ली भेजा’: जाखड़ के बयान से उठे सवाल, सिद्धू से पहले थे पंजाब कॉन्ग्रेस के कैप्टन

जाखड़ की टिप्पणी के बाद यह आशय निकाला जा रहा है कि कॉन्ग्रेस ने मान लिया है कि उसी ने किसानों को विरोध के लिए दिल्ली की सीमाओं पर भेजा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,891FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe