Monday, August 15, 2022
Homeराजनीति'भारत ने बिटकॉइन को लीगल टेंडर घोषित किया': कुछ देर के लिए हैक हुआ...

‘भारत ने बिटकॉइन को लीगल टेंडर घोषित किया’: कुछ देर के लिए हैक हुआ PM मोदी का ट्विटर हैंडल, मस्क-बायडेन भी बन चुके हैं निशाना

"भारत ने बिटकॉइन को लीगल टेंडर के रूप में स्वीकार कर लिया है। भारत सरकार ने आधिकारिक रूप से 500 बिटकॉइन की खरीददारी की है और इन्हें सभी नागरिकों को बाँटा जा रहा है। जल्दी कीजिए, इंडिया। भविष्य आज आ गया है।"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ट्विटर हैंडल रविवार (12 दिसंबर, 2021) को तड़के सुबह कुछ देर के लिए हैक कर लिया गया। इसके बाद इससे बिटकॉइन से जुड़े ट्वीट किए गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के व्यक्तिगत ट्विटर हैंडल ‘@narendramodi’ को निशाना बनाया गया। प्रधानमंत्री कार्यालय ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि कम समय के लिए हैंडल में गड़बड़ी हुई थी और इसे तुरंत ठीक भी कर लिया गया। साथ ही माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर के साथ इस मसले को उठाया भी गया है।

साथ ही PMO ने कहा कि हैंडल में गड़बड़ी के दौरान जो भी ट्वीट्स किए गए, उन्हें नजरअंदाज किया जाना चाहिए। बता दें कि प्रधानमंत्री के व्यक्तिगत ट्विटर हैंडल को हैक कर के रात के 2:11 बजे उससे ट्वीट किया गया, “भारत ने बिटकॉइन को लीगल टेंडर के रूप में स्वीकार कर लिया है। भारत सरकार ने आधिकारिक रूप से 500 बिटकॉइन की खरीददारी की है और इन्हें सभी नागरिकों को बाँटा जा रहा है। जल्दी कीजिए, इंडिया। भविष्य आज आ गया है।”

इसके साथ ही एक संदिग्ध लिंक भी शेयर किया गया। हालाँकि, हैंडल के वापस आने के बाद इस ट्वीट को डिलीट कर दिया गया है। केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की ‘इंडियन कम्प्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम’ (CERT-IN) पता लगा रही है कि इस हरकत के पीछे कौन लोग हैं और कैसे ऐसा हुआ। हालाँकि, ये पहली बार नहीं है जब ऐसा हुआ हो। सितंबर 2020 में भी प्रधानमंत्री की वेबसाइट के हैंडल को हैक कर के क्रिप्टो करेंसी से जुड़े ट्वीट्स किए गए थे।

सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही नहीं, दुनिया भर की कई हस्तियाँ इस प्रकार की हैकिंग का निशाना रही हैं। जुलाई 2021 में टेस्ला के CEO और विश्व के सबसे अमीर व्यक्ति एलोन मस्क, अमेरिका के राष्ट्रपति जो बायडेन, माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स टीवी स्टार किम करदाशियाँ और पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के ट्विटर हैंडल्स को निशाना बना कर बिटकॉइन सम्बंधित ट्वीट्स किए गए थे। ट्विटर के उच्च-स्तरीय आंतरिक अधिकारियों को निशाना बना कर इन हैंडल्स को हैक किया गया था।

ट्विटर ने इसे ‘सोशल इंजीनियरिंग’ के जरिए की गई हैकिंग बताते हुए कहा था कि अधिकारियों के टूल्स को नियंत्रण में लेकर हैकर्स ने कई हस्तियों के हैंडल्स को हैक किया। इसी तरह सितंबर 2020 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वेबसाइट के ट्विटर हैंडल को हैक कर के लिखा गया था कि ‘प्रधानमंत्री राहत कोष’ में क्रिप्टोकरेंसी के जरिए डोनेट करें। साथ ही एक ब्लॉकचेन एड्रेस भी दिया गया था। बाद में एक अन्य ट्वीट में बताया गया कि ‘जॉन विक’ ने इस हैंडल को हैक किया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

वो हिंदुस्तानी जो अभी भी नहीं हैं आजाद: PoJK के लोग देख रहे आशाभरी नजरों से भारत की ओर, हिंदू-सिखों का यहाँ हुआ था...

विभाजन की विभीषिका को भी भुलाया नहीं जा सकता। स्वतंत्रता-प्राप्ति का मूल्य समझकर और स्वतन्त्रता का मूल्य चुकाकर ही हम अपनी स्वतंत्रता को सुरक्षित और संरक्षित कर सकते हैं।

वे नहीं रहे… क्योंकि वे हिन्दू थे: अपनी नवजात बेटी को भी नहीं देख पाए गौ प्रेमी किशन भरवाड

27 वर्षीय हिंदू युवक किशन भरवाड़ को कट्टरपंथी मुस्लिमों ने 25 जनवरी 2022 को केवल हिंदू होने के कारण मार डाला था। वजह वही क्योंकि वे हिन्दू थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
213,977FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe