हाँ, मैंने इकबाल मिर्ची की पत्नी के साथ डील किया, नहीं मिला ED का नोटिस: प्रफुल्ल पटेल

ईडी ने पटेल से बयान दर्ज कराने के लिए 18 अक्टूबर को मुंबई कार्यालय में पेश होने को कहा है। लेकिन,पटेल ने नोटिस मिलने से इनकार किया है। उन्होंने कहा कि यदि नोटिस मिलता है तो वे स्वयं ईडी कार्यालय पहुॅंच जाएँगे।

एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल को प्रवर्तन निदेशालय ने समन भेजा है। उन्हें शुक्रवार (अक्टूबर 18, 2019) को जाँच एजेंसी के समक्ष पेश होने को कहा गया है। हालाँकि, उन्होंने दाऊद इब्राहिम के क़रीबी इक़बाल मिर्ची के साथ किसी भी प्रकार के करार की बात को नकार दिया है। लेकिन, इक़बाल मिर्ची की पत्नी हाजरा मेनन के साथ डील की बात स्वीकारी है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने बताया कि इक़बाल मिर्ची की पत्नी को अतिरिक्त आवास देने के लिए एक डील किया गया था, जिसके लिए बॉम्बे हाईकोर्ट की अनुमति भी ली गई थी। उन्होंने कहा कि मिर्ची से सम्बंधित मिलेनियम डेवेलपर्स से उनका कोई वित्तीय सम्बन्ध नहीं है।

साथ ही प्रफुल्ल पटेल ने इक़बाल मिर्ची की पत्नी हाजरा के साथ हुए डील का बचाव करते हुए कहा कि पिछले डेढ़ दशक में ऐसा कुछ भी नहीं आया है, जिसके आधार पर यह कहा जा सके कि हाजरा मेनन के साथ डील नहीं किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि किसी भी जाँच एजेंसी ने हाजरा के ख़िलाफ़ कुछ नहीं कहा है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने प्रफुल्ल पटेल और मिर्ची की डील को देशद्रोह करार दिया था। उन्होंने शरद पवार और राहुल गाँधी को भी इस मामले में ख़ुद को पाक-साफ़ साबित करने को कहा था। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी कहा कि पटेल के दाऊद के साथ क्या सम्बन्ध हैं, वह जाहिर करें।

वहीं, प्रफुल्ल पटेल ने 15 सालों बाद जाँच शुरू किए जाने को लेकर आपत्ति जताई। उन्होंने कहा कि अगर सरकार को लगता है कि यह सब अवैध तरीके से किया गया तो वह विवादित संपत्ति को अपने कब्जे में ले ले। मुंबई स्थित वर्ली में मिलेनियम डेवेलपर्स ने 15 मंजिला इमारत बनाई थी, जिसे सीजे हाउस नाम दिया गया। इस प्लॉट को मिलेनियम डेवेलपर्स को ट्रांसफर किया गया था और ईडी इस मामले की जाँच कर रही है। एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार और महाराष्ट्र के उप-मुख्यमंत्री छगन भुजबल के बाद तीसरे ऐसे पार्टी नेता हैं, जो ईडी की रडार पर आए हैं। पटेल ने स्वीकार किया कि इक़बाल मिर्ची की पत्नी के साथ डील हुई थी लेकिन यह वित्तीय डील नहीं थी।

https://platform.twitter.com/widgets.js
- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

उन्होंने बताया कि हाजरा मेनन इनकम टैक्स का भुगतान करती हैं और किसी भी प्रकार के लेनदेन को लेकर इनकम टैक्स को जानकारी देती हैं। उन्होंने दावा किया कि हाजरा के पास पैन नंबर भी है और जब डील हुई थी, तब किसी भी एजेंसी ने आपत्ति नहीं जताई थी। पटेल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ईडी का नोटिस मिलने से इन्कार किया। लेकिन, उन्होंने कहा कि यदि नोटिस मिलता है तो वे स्वयं ईडी कार्यालय पहुॅंच जाएँगे। मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि मंगलवार को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार करते वक़्त उन्हें नोटिस मिला। इसमें पटेल से बयान दर्ज कराने के लिए 18 अक्टूबर को मुंबई कार्यालय में पेश होने को कहा गया है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

जेएनयू छात्र विरोध प्रदर्शन
गरीबों के बच्चों की बात करने वाले ये भी बताएँ कि वहाँ दो बार MA, फिर एम फिल, फिर PhD के नाम पर बेकार के शोध करने वालों ने क्या दूसरे बच्चों का रास्ता नहीं रोक रखा है? हॉस्टल को ससुराल समझने वाले बताएँ कि JNU CD कांड के बाद भी एक-दूसरे के हॉस्टल में लड़के-लड़कियों को क्यों जाना है?

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

112,491फैंसलाइक करें
22,363फॉलोवर्सफॉलो करें
117,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: