Monday, August 15, 2022
Homeराजनीति4800 वोटर, 1086431 वोट: राष्ट्रपति चुनने के लिए हो रहा मतदान, यशवंत सिन्हा पर...

4800 वोटर, 1086431 वोट: राष्ट्रपति चुनने के लिए हो रहा मतदान, यशवंत सिन्हा पर भारी है द्रौपदी मुर्मू का गणित

राष्ट्रपति चुनावों में मुर्मू की वोट हिस्सेदारी 60 प्रतिशत से ज्यादा हो सकती है। राजग की उम्मीदवार के पास अभी तक कुल 10,86,431 मतों में से 6.67 लाख से अधिक वोट हैं। इनमें 3.08 लाख वोट सत्तारूढ़ भाजपा और उसके सहयोगी दलों के हैं।

देश के 15वें राष्ट्रपति के चुनाव के लिए सोमवार (18 जुलाई 2022) को मतदान शुरू हो चुका है। वोटिंग शाम 5 बजे तक जारी रहेगी। चुनाव में NDA की तरफ से द्रौपदी मुर्मू (Draupadi Murmu) तो पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा (Yashwant Sinha) विपक्ष से साझा उम्मीदवार हैं। देश भर के करीब 4,800 विधायक और सांसद राष्ट्रपति चुनाव में वोट डालेंगे।

वोटों के गणित में पक्ष और विपक्ष के बीच बने बड़े फासले को देखते हुए राजग (NDA) उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का देश की अगली राष्ट्रपति चुना जाना तय माना जा रहा है। अगर द्रौपदी मुर्मू जीतती हैं तो वह देश के शीर्ष संवैधानिक पद पर पहुँचने वाली पहली आदिवासी महिला होंगी।

मुर्मू को सत्ताधारी गठबंधन के अलावा बीजद, वाईएसआर कॉन्ग्रेस, अकाली दल ही नहीं विपक्षी खेमे के कई दलों जैसे जेडीएस, झामुमो, शिवसेना और तेदेपा का समर्थन भी मिला है। इससे साफ है कि द्रौपदी मुर्मू को करीब दो तिहाई मत मिलने की संभावना है। जबकि विपक्ष के साझा उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के लिए स्थिति चुनौतीपूर्ण नजर आ रही है।

बताया जा रहा है कि मुर्मू की वोट हिस्सेदारी 60 प्रतिशत से ज्यादा हो सकती है। राजग की उम्मीदवार के पास अब कुल 10,86,431 मतों में से 6.67 लाख से अधिक वोट हैं। इनमें 3.08 लाख वोट सत्तारूढ़ भाजपा और उसके सहयोगी दलों के हैं। बीजू जनता दल के करीब 32,000 वोट हैं, जो कुल मतों का करीब 2.9 प्रतिशत है। लोकसभा में बीजद के 12 और राज्यसभा में 9 सदस्य हैं। मुर्मू को अन्नाद्रमुक (17,200 वोट), वाईएसआर-कॉन्ग्रेस पार्टी (करीब 44,000 वोट), तेलुगु देशम पार्टी (करीब 6,500 वोट), शिवसेना (25,000 वोट) और जनता दल (सेक्युलर) (करीब 5,600 वोट) का भी समर्थन मिल रहा है।

हाल में संपन्न राज्यसभा चुनावों के परिणाम के बाद उच्च सदन में भाजपा सदस्यों की संख्या 92 हो गई है। लोकसभा में उसके कुल 301 सदस्य हैं। उत्तर प्रदेश के प्रत्येक विधायक का राष्ट्रपति चुनाव में वोट वैल्यू अन्य किसी राज्य के विधायक से अधिक है। प्रदेश के 403 विधायकों में से प्रत्येक का वोट वैल्यू 208 है, यानी उनका कुल वैल्यू 83,824 है। तमिलनाडु और झारखंड के प्रत्येक विधायक का वोट वैल्यू 176 है। इसके बाद महाराष्ट्र का 175, बिहार का 173 और आंध्र प्रदेश के हरेक विधायक का वोट वैल्यू 159 है। सिक्किम के एक विधायक के वोट का वैल्यू केवल 7 है, जो पूरे देश में सबसे कम है।

सभी निर्वाचित विधायकों के वोटों की कुल वैल्यू (5,43,231) में अगर कुल सांसदों की संख्या (776) का भाग दें तो एक सांसद के वोट की वैल्यू 700 निकलती है। इस तरह सांसदों की कुल वोट वैल्यू 700×776 यानी 5,43,200 होगी। विधायकों और सांसदों के कुल वोट को मिलाकर ‘इलेक्टोरल कॉलेज’ कहा जाता है। यह संख्या 10,86,431 है। इस तरह जीत के लिए आधे से एक वोट ज्यादा की जरूरत होती है।

राष्ट्रपति चुनाव के नतीजे गुरुवार (21 जुलाई 2022) को आएँगे। वोटों की गिनती के बाद देश के नए राष्ट्रपति के निर्वाचन की घोषणा कर दी जाएगी। वर्तमान राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है। 25 जुलाई को नए राष्ट्रपति का शपथ ग्रहण होगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

वे नहीं रहे… क्योंकि वे हिन्दू थे: अपनी नवजात बेटी को भी नहीं देख पाए गौ प्रेमी किशन भरवाड

27 वर्षीय हिंदू युवक किशन भरवाड़ को कट्टरपंथी मुस्लिमों ने 25 जनवरी 2022 को केवल हिंदू होने के कारण मार डाला था। वजह वही क्योंकि वे हिन्दू थे।

‘3 घंटे में ख़त्म कर देंगे’: मुकेश अंबानी के परिवार को हत्या की धमकी, ‘रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल’ को 8 फोन कॉल्स के बाद मुंबई...

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन उद्योगपति मुकेश अंबानी के परिवार को जान से मारने की धमकी मिली है। मुंबई पुलिस ने शुरू की जाँच। आए थे 8 फोन कॉल्स।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
213,977FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe