Saturday, July 2, 2022
Homeराजनीतिमूसेवाला के घर पहुँचे CM भगवंत मान का गाँव वालों ने किया विरोध, स्थानीय...

मूसेवाला के घर पहुँचे CM भगवंत मान का गाँव वालों ने किया विरोध, स्थानीय AAP विधायक को भी माफी मँगवाकर वापस लौटाया

गाँव वालों का आरोप है कि सिद्धू मूसेवाला की सिक्योरिटी में कटौती होने की वजह से उनकी हत्या हुई और वो सीधे तौर पर हत्या के लिए पंजाब सरकार को जिम्मेदार मानते हैं।

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान शुक्रवार (3 जून 2022) को सिद्धू मूसेवाला के परिजनों से मिलने उनके घर पर पहुँचे। भगवंत मान के मूसेवाला गाँव में पहुँचने को लेकर तनाव की स्थिति बनी रही। मूसा गाँव के लोगों ने सिद्धू मूसेवाला की सिक्योरिटी में कटौती को लेकर आम आदमी पार्टी (AAP) की सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। गाँव वालों का आरोप है कि सिद्धू मूसेवाला की सिक्योरिटी में कटौती होने की वजह से उनकी हत्या हुई और वो सीधे तौर पर हत्या के लिए पंजाब सरकार को जिम्मेदार मानते हैं।

सिद्धू के परिवार से मिलने पहुँचे भगवंत मान का ग्रामीणों ने किया विरोध 

शुक्रवार सुबह से ही भगवंत मान के गाँव पहुँचने से पहले ही विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया था। सिद्धू मूसेवाला के परिवार से मिलने पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के आने पर गाँव वालों और रिश्तेदारों ने इसका जमकर विरोध किया। सीएम भगवंत मान के पहुँचने से पहले गाँव में सुरक्षा के बेहद कड़े प्रबंध किए गए। गाँव वालों ने आरोप लगाया कि सीएम के दौरे से पहले पंजाब पुलिस ने मूसा गाँव को किले में तब्दील कर दिया था। इसकी वजह से ग्रामीणों को भी सिद्धू के घर में जाने से रोक दिया गया। इससे ग्रामीण नाराज हो गए और उन्होंने पंजाब सरकार और मुख्यमंत्री मान के खिलाफ नारे लगाते हुए विरोध करना शुरू कर दिया।

AAP विधायक को ग्रामीणों ने वापस लौटाया

इससे पहले ही मूसा गाँव में AAP विधायक गुरप्रीत सिंह बनावली को लोगों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा। ग्रामीणों ने उनके खिलाफ नारेबाजी की। लगातार विरोध कर रहे लोगों ने उन्हें अंदर नहीं आने दिया। उन्होंने विधायक को माफी माँगने और वापस लौटने के लिए मजबूर कर दिया। ग्रामीणों ने स्थानीय AAP विधायक बनावली को गाँव में प्रवेश करने से मना कर दिया। एक ग्रामीण ने विधायक से कहा, “मैं आपका सम्मान करता हूँ लेकिन आपको आज वापस जाना होगा।” इसके बाद बनावली ने असुविधा के लिए ग्रामीणों से माफी माँगी। गाँव से लौटने से पहले उन्होंने कहा, “मैं प्रशासन की गलतियों के लिए माफी माँगता हूँ।” इतना कहने के बाद वे अपनी गाड़ी में बैठकर वापस चले गए। गुरप्रीत सरदुलगढ़ में मानसा विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी के विधायक हैं।

सिक्योरिटी हुई थी कम

बता दें कि भगवंत मान की सरकार ने पिछले दिनों सिद्धू मूसेवाला की सिक्योरिटी में कमी की थी। पंजाब सरकार के ऐसा करने के एक दिन बाद ही सिद्धू मूसेवाला की हत्या हो गई। गौरतलब है कि रविवार (29 मई 2022) को पंजाब के मानसा गाँव में सिद्धू मूसेवाला की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। उन पर ताबड़तोड़ 30 गोलियाँ चलाई गई थीं।

एक्टर की हत्या की जिम्मेदारी लॉरेंस बिश्नोई गैंग के मेंबर गोल्डी बराड़ ने ली थी, जो कि कनाडा में रहता है। सिद्धू की माँ चरणजीत कौर ने इसके लिए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान और आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल को जिम्मेदार ठहराया था। उन्होंने कहा था, “ऐसी निकम्मी सरकार आई है, जिसने सबकुछ खत्म कर दिया है। अब मुझे भी गोली मार दें।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नूपुर शर्मा पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी गैर-जिम्मेदाराना’: रिटायर्ड जज ने सुनाई खरी-खरी, कहा – यही करना है तो नेता बन जाएँ, जज क्यों...

दिल्ली हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज एसएन ढींगरा ने मीडिया में आकर बताया है कि वो सुप्रीम कोर्ट के जजों की टिप्पणी पर क्या सोचते हैं।

‘क्या किसी हिन्दू ने शिव जी के नाम पर हत्या की?’: उदयपुर घटना की निंदा करने पर अभिनेत्री को गला काटने की धमकी, कहा...

टीवी अभिनेत्री निहारिका तिवारी ने उदयपुर में कन्हैया लाल तेली की जघन्य हत्या की निंदा क्या की, उन्हें इस्लामी कट्टरपंथी गला काटने की धमकी दे रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,399FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe