Saturday, May 25, 2024
HomeराजनीतिPM मोदी ने किया पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का लोकार्पण, कहा- CM योगी के नेतृत्व में...

PM मोदी ने किया पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का लोकार्पण, कहा- CM योगी के नेतृत्व में यूपी ने पकड़ी विकास की रफ्तार

“मुझे दुख है कि तत्कालीन यूपी सरकार ने सहयोग नहीं किया। वे सार्वजनिक रूप से मेरे साथ खड़े होकर अपने वोट बैंक को खराब करने से भी डरते थे। मैं सांसद बनकर आता था, एयरपोर्ट पर मेरा स्वागत करने के बाद वे गायब हो जाते थे। उन्हें शर्म आ रही थी क्योंकि उनके पास काम के रूप में दिखाने के लिए कुछ नहीं था।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज (16 नवंबर 2021) उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर में 341 किमी लंबे पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन किया। एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन के बाद PM मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद ही विकास ने रफ्तार पकड़ी है। 2017 से पहले यानी सपा की अखिलेश यादव के नेतृत्व वाली सरकार को लेकर उन्होंने कहा कि उस वक्त प्रदेश में विकास का पहिया रुक गया था। यहाँ तक कि उस समय के सीएम (अखिलेश यादव) अपने वोटबैंक को खो देने के डर से साथ खड़े भी नहीं होना चाहते थे।

पीएम ने कहा, “मुझे दुख है कि तत्कालीन यूपी सरकार ने सहयोग नहीं किया। वे सार्वजनिक रूप से मेरे साथ खड़े होकर अपने वोट बैंक को खराब करने से भी डरते थे। मैं सांसद बनकर आता था, एयरपोर्ट पर मेरा स्वागत करने के बाद वे गायब हो जाते थे। उन्हें शर्म आ रही थी क्योंकि उनके पास काम के रूप में दिखाने के लिए कुछ नहीं था।”

पीएम मोदी ने कहा कि पूरी दुनिया में यूपी और यूपी के लोगों के सामर्थ्‍य पर जरा भी संदेह हो तो यहाँ सुल्‍तानपुर में आकर देख सकता है। तीन साल पहले जहाँ पर सिर्फ जमीन थी वहाँ से आज इतना शानदार एक्‍सप्रेस वे गुजर रहा है। उन्होंने कहा, “तीन साल पहले जब मैंने इसका शिलान्‍यास किया था तो यह नहीं सोचा था कि एक दिन यहाँ विमान से खुद उतरुँगा। ये एक्‍सप्रेस वे नए युग के निर्माण का एक्‍सप्रेस वे है। ये यूपी की मजबूत होती अर्थव्‍यवस्‍था का एक्‍सप्रेस वे है। ये यूपी की शान है। ये यूपी का कमाल है। हमारे जिन किसान भाई-बहनों की भूमि इसमें लगी है, जिन श्रमिकों का पसीना इसमें लगा है, जिन इंजीनियरों का कौशल इसमें लगा है, उनका भी मैं बहुत-बहुत अभिनंदन करता हूँ।”

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “गरीबों को पक्के घर मिलें, गरीबों के घर में शौचालय हों, महिलाओं को खुले में शौच के लिए बाहर ना जाना पड़े, सबके घर में बिजली हो, ऐसे कितने ही काम थे, जो यहाँ किए जाने जरूरी थे। लेकिन मुझे बहुत पीड़ा है, कि तब यूपी में जो सरकार थी (सपा सरकार), उसने मेरा साथ नहीं दिया। मुझे मालूम था कि जिस तरह तब की सरकार में यूपी के लोगों के साथ नाइंसाफी की जा रही थी, विकास में भेदभाव किया जा रहा था, जिस तरह सिर्फ अपने परिवार का हित साधा जा रहा था, यूपी के लोग ऐसा करने वाली सरकार को हमेशा-हमेशा के लिए यूपी के विकास के रास्ते से हटा देंगे।”

उन्होंने आगे कहा, “UP में हमने लंबा दौर, ऐसी सरकारों का देखा जिन्होंने कनेक्टिविटी की चिंता किए बिना ही औद्योगीकरण के सपने दिखाए। परिणाम ये हुआ कि ज़रूरी सुविधाओं के अभाव में यहाँ लगे अनेक कारखानों में ताले लग गए। ये भी दुर्भाग्य रहा कि दिल्ली और लखनऊ, दोनों ही जगह परिवारवादियों का ही दबदबा रहा।”

पीएम ने कहा, “पिछले मुख्यमंत्रियों के लिए विकास वहीं तक सीमित था जहाँ उनका घर था। लेकिन आज जितनी पश्चिम की पूछ है, उतनी ही पूर्वांचल के लिए भी प्राथमिकता है। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे आज यूपी की इस खाई को पाट रहा है, यूपी को आपस में जोड़ रहा है।”

इसके पहले प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज से 3 साल पहले पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के शिलान्यास का कार्यक्रम संपन्न हुआ था। पिछले 19 महीने से पूरी दुनिया कोविड महामारी का सामना कर रही है। इसके बावजूद प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व का ही परिणाम है कि आज पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन संपन्न होने जा रहा है।

सीएम योगी ने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे सिर्फ आवागमन का माध्यम नहीं बल्कि पूर्वी उत्तर प्रदेश, जो आज़ादी के बाद से भौतिक विकास के मापदंडों को पूरा करने में विफल रहा था। उस पूर्वी उत्तर प्रदेश को विकास की नई जीवन रेखा के रूप में स्थापित किए जाने वाले प्रयास का हिस्सा होगा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

18 साल से ईसाई मजहब का प्रचार कर रहा था पादरी, अब हिन्दू धर्म में की घर-वापसी: सतानंद महाराज ने नक्सल बेल्ट रहे इलाके...

सतानंद महाराज ने साजिश का खुलासा करते हुए बताया, "हनुमान जी की मोम की मूर्ति बनाई जाती है, उन्हें धूप में रख कर पिघला दिया जाता है और बच्चों को कहा जाता है कि जब ये खुद को नहीं बचा सके तो तुम्हें क्या बचाएँगे।""

‘घेरलू खान मार्केट की बिक्री कम हो गई है, इसीलिए अंतरराष्ट्रीय खान मार्केट मदद करने आया है’: विदेश मंत्री S जयशंकर का भारत विरोधी...

केंद्रीय विदेश मंत्री S जयशंकर ने कहा है कि ये 'खान मार्केट' बहुत बड़ा है, इसका एक वैश्विक वर्जन भी है जिसे अब 'इंटरनेशनल खान मार्केट' कह सकते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -