Wednesday, July 28, 2021
Homeराजनीति'MP में बहुत अन्धकार है क्या, पता करो वहाँ कॉन्ग्रेस की सरकार है क्या'

‘MP में बहुत अन्धकार है क्या, पता करो वहाँ कॉन्ग्रेस की सरकार है क्या’

एक अन्य यूजर ने राहत इंदौरी का नामकरण 'आहत इंदौरी' करते हुए लिखा, "भीषण गर्मी में पॉवर कट से अंधकार है क्या पता करो ताऊ, सूबे में कॉन्ग्रेस की सरकार है क्या।"

मध्य प्रदेश में बिजली जाना आम हो गया है। इससे पहले ख़बर आई थी कि लोकसभा चुनाव के दौरान मुख्यमंत्री कमलनाथ जब मतदान करने पहुँचे, तब अचानक से बिजली गुल हो गई। इसके बाद उन्हें वहाँ मौजूद मीडियाकर्मियों के कैमरे के प्रकाश में मतदान करना पड़ा था। नाराज़ मुख्यमंत्री ने इस मामले की जाँच तक बिठाने की बात कर दी। फ़्लैशलाइट में मतदान करने को मजबूर कमलनाथ के मतदान केंद्र पर पहुँचते ही लगभग आधे घंटे के लिए बिजली चली गई थी। अब मशहूर शायर राहत इन्दौरी ने भी राज्य में बिजली की समस्या से परेशान होकर अपना दर्द बयाँ किया है। राहत इन्दौरी ने ट्विटर के माध्यम से सीधा मुख्यमंत्री को टैग कर अपनी समस्या से अवगत कराया।

राहत इन्दौरी ने ट्विटर पर मुख्यमंत्री कमलनाथ, बिजली विभाग व विधायक प्रियव्रत सिंह को टैग करते हुए लिखा, “आजकल बिजली जाना आम हो गया है। आज भी पिछले 3 घंटों से बिजली नहीं है। गर्मी है, रमजान भी है‘मध्य प्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत् वितरण कम्पनी लिमिटेड’ के इंदौर दफ्तर में कोई फोन नहीं उठा रहा है। कुछ मदद करें।” लोकप्रिय शायर की इस ट्वीट के बाद लोगों ने ख़ूब मज़े लिए। कई दिनों से वैसे भी सोशल मीडिया पर ये बात ख़ूब फ़ैल रही है कि कमलनाथ सरकार के सत्ता संभालने के बाद से मध्य प्रदेश में अचानक से इन्वर्टर की बिक्री बढ़ गई है।

अधिकतर यूजरों ने रहत इंदौरी के लोकप्रिय शेर “सरहदों पर बहुत तनाव है क्या, कुछ पता तो करो चुनाव है क्या” को लेकर उनपर निशाना साधा। बता दें कि रहत इंदौर अपने कार्यक्रमों में अक्सर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा को आड़े हाथों लेते रहे हैं। हाल ही में एक शेर उन्होंने पढ़ा था:

ज़मीर बोलता है ऐतबार बोलता है 
मेरी ज़ुबान से परवरदिगार बोलता है
मैं मन की बात बहुत मन लगा के सुनता हूँ 
ये तू नही है तेरा इश्तेहार बोलता है
कुछ और काम उसे याद ही नही शायद 
मगर वो झूठ बहुत शानदार बोलता है
तेरी ज़ुबान कतरना बहुत ज़रूरी है 
तुझे ये मर्ज़ है तू बार बार बोलता है

राहत इंदौरी ने यह शायरी अप्रत्यक्ष रूप से पीएम मोदी के लिए कही थी। कॉन्ग्रेस राज में बिजली की समस्या को लेकर लोगों ने रहत इंदौरी को शिवराज सरकार के ‘अच्छे दिन’ याद दिलाए।

‘यो यो फनी सिंह’ नाम के एक यूजर ने लिखा “प्रदेश में बहुत अंधकार है क्या, कुछ पता तो करो, वहाँ कॉन्ग्रेस की सरकार है क्या ..!!” इसके बाद एक अन्य यूजर ने राहत इंदौरी का नामकरण ‘आहत इंदौरी’ करते हुए लिखा, “भीषण गर्मी में पॉवर कट से अंधकार है क्या पता करो ताऊ, सूबे में कॉन्ग्रेस की सरकार है क्या“। एक अन्य यूजर ने सलाह दी कि अगर सेक्युलर सरकार बनाना है तो 3-4 घंटे बिजली की क़ुर्बानी देनी पड़ेगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

एक शक्तिपीठ जहाँ गर्भगृह में नहीं है प्रतिमा, जहाँ हुआ श्रीकृष्ण का मुंडन संस्कार: गुजरात का अंबाजी मंदिर

गुजरात के बनासकांठा जिले में राजस्थान की सीमा पर अरासुर पर्वत पर स्थित है शक्तिपीठों में से एक श्री अरासुरी अंबाजी मंदिर।

5 या अधिक हुए बच्चे तो हर महीने पैसा, शिक्षा-इलाज फ्री: जनसंख्या बढ़ाने के लिए केरल के चर्च का फैसला

केरल के चर्च के फैसले के अनुसार, 2000 के बाद शादी करने वाले जिन भी जोड़ों के 5 या उससे अधिक बच्चे हैं, उन्हें प्रत्येक माह 1500 रुपए की मदद दी जाएगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,576FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe