Saturday, June 15, 2024
Homeराजनीतिहिटलर, तानाशाही, आरएसएस का आदमी... ED के कसते शिकंजे से बौखलाए राहुल गाँधी, कहा-...

हिटलर, तानाशाही, आरएसएस का आदमी… ED के कसते शिकंजे से बौखलाए राहुल गाँधी, कहा- मुझे सारी संस्थाएँ दो, मैं भी चुनाव जीतकर दिखा दूँगा

राहुल गाँधी ने कहा कि न्यायिक व्यवस्था और मीडिया के बल पर विपक्षी पार्टी खड़ी होती है। मगर आज देश के हर संस्थाओं में आरएसएस का एक व्यक्ति बैठा है।

नेशनल हेराल्ड केस में कॉन्ग्रेस के शीर्ष परिवार पर शिकंजा कसता जा रहा है। इसकी बौखलाहट भी पार्टी नेताओं पर स्पष्ट दिख रही है। इसी बौखलाहट में पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी ने दावा किया है कि देश में लोकतंत्र की मौत हो गई है। मोदी सरकार पर मशीनरी के दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए दावा किया कि यदि सारी संस्थाएँ उन्हें भी दे दी जाए तो वे भी चुनाव जीत जाएँगे।

राहुल गाँधी ने शुक्रवार (5 अगस्त 2022) को मीडिया से बात करते हुए ये दावा किया। उन्होंने यह प्रेस कॉन्फ्रेंस तब की है जब नेशनल हेराल्ड मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) लगातार कार्रवाई कर रही है। शुक्रवार को कॉन्ग्रेस ने देशव्यापी प्रदर्शन का भी ऐलान कर रखा है। यह प्रदर्शन महँगाई, बेरोजगारी और खाद्य पदार्थों पर जीएसटी के खिलाफ है।

राहुल गाँधी ने कहा, “आज देश में सिर्फ चार लोगों की तानाशाही है। हम महँगाई, बेरोजगारी जैसे मुद्दों पर चर्चा करना चाहते हैं, लेकिन हमें जेल में डाल दिया जाता है। हमें संसद में बहस नहीं करने दी जा रही।” इस दौरान राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि जनता सामने आ रही है। मीडिया को भी हिम्मत दिखाना चाहिए। राहुल ने उनकी बात का समर्थन करते हुए कहा कि मीडिया हिम्मत नहीं दिखा रही है। 

राहुल गाँधी ने कहा कि न्यायिक व्यवस्था और मीडिया के बल पर विपक्षी पार्टी खड़ी होती है। मगर आज देश के हर संस्थाओं में आरएसएस का एक व्यक्ति बैठा है। उन्होंने कहा कि जब उनकी सरकर थी तो वह इन संस्थानों को कंट्रोल नहीं करती थी। आज हालात दूसरे हैं। जो सरकार के खिलाफ बोलता है उसके खिलाफ ईडी और आईटी लगा दी जाती है।

ईडी की पूछताछ के सवाल पर कॉन्ग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा, “मैं सरकार के खिलाफ जितना बोलूँगा, मेरे खिलाफ उतनी अधिक कार्रवाई होंगे। जो धमकाता है वह डरता है। मैं महँगाई और बेरोजगारी के खिलाफ बोलना जारी रखूँगा।” उन्होंने कहा कि गाँधी परिवार विचारधारा के लिए लड़ती है। इस विचारधारा के देश में करोड़ों लोग हैं। इसलिए उनको निशाना बनाया जा रहा है। मोदी सरकार को झूठी बताते हुए उन्होंने कहा, “हिटलर भी चुनाव जीतकर आता था। मुझे भी सारी संस्थाएँ दे दें, मैं चुनाव जीतकर दिखाता हूँ।”

कॉन्ग्रेस का शुक्रवार का प्रदर्शन दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय से शुरू होना है। कॉन्ग्रेसी नेता यहाँ से राष्ट्रपति भवन की तरफ मार्च करेंगे।

इधर प्रदर्शन से पहले पुलिस ने जंतर-मंतर छोड़ कर पूरी दिल्ली में धारा 144 लागू कर दिया है। दिल्ली पुलिस ने कॉन्ग्रस महासचिव केसी वेणुगोपाल को पत्र लिखकर जानकारी दी है कि जंतर मंतर को छोड़कर पूरी नई दिल्ली इलाके में 144 धारा लागू है। लिहाजा किसी तरह के प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी। अगर 144 धारा का उल्लंघन हुआ तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी। नई दिल्ली के डीसीपी ने 4 अगस्त को यह पत्र लिखा था।

इससे पहले राहुल गाँधी ने गुरुवार (4 अगस्त) को कहा था कि ईडी के जरिए नेशनल हेराल्ड की जाँच डराने वाली रणनीति का हिस्सा है। लेकिन वह डरने वाले नहीं हैं। राहुल गाँधी ने कहा कि वह नरेंद्र मोदी से नहीं डरते हैं। उनको जो करना है, कर लें। वो सोचते हैं कि दबाव डालकर उन्हें चुप किया जा सकता है। लेकिन उन पर कुछ फर्क नहीं पड़ेगा। 

गौरतलब है कि पिछले दिनों ED ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए ‘नेशनल हेराल्ड’ के मुख्यालय के एक हिस्से को सील कर दिया था। इस कार्रवाई से एक दिन पहले ED ने 11 जगहों पर छापेमारी की थी। उससे पहले राहुल और सोनिया गाँधी से एजेंसी ने पूछताछ की थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जाकिर और शाकिर ने रात के अंधेरे में जगन्नाथ मंदिर में फेंका गाय का कटा सिर: रतलाम में हंगामे के बाद पुलिस ने दबोचा,...

रतलाम के भगवान जगन्नाथ मंदिर में गाय का मांस फेंककर अपवित्र करने के आरोप में पुलिस ने जाकिर और शाकिर को गिरफ्तार किया है।

NSA, तीनों सेनाओं के प्रमुख, अर्धसैनिक बलों के निदेशक, LG, IB, R&AW – अमित शाह ने सबको बुलाया: कश्मीर में ‘एक्शन’ की तैयारी में...

NSA अजीत डोभाल के अलावा उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा, तीनों सेनाओं के प्रमुख के अलावा IB-R&AW के मुखिया व अर्धसैनिक बलों के निदेशक भी मौजूद रहेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -