Wednesday, September 22, 2021
Homeराजनीतिराहुल-प्रियंका की रैलियों पर मौसम की मार, कॉन्ग्रेस ने योगी को ठहराया ज़िम्मेदार

राहुल-प्रियंका की रैलियों पर मौसम की मार, कॉन्ग्रेस ने योगी को ठहराया ज़िम्मेदार

बिजनोर इंटर कॉलेज में कॉंग्रेस की चुनावी जनसभा में मौसम खराब होने के कारण नही आ पाए राहुल और प्रियंका गाँधी। राहुल ने फोन से सभा को सम्बोधित किया, राहुल गाँधी के भाषण को बिना सुने ही सभा से चली गई पब्लिक।

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जिला प्रशासन ने कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गाँधी की 3 रैलियाँ रद्द कर दी है। बता दें कि चुनाव के दौरान नेताओं को रैली करने से पहले सभी विवरण स्थानीय प्रशासन को देना होता है और फिर उनसे कार्यक्रम के लिए अनुमति लेनी पड़ती है। स्थानीय प्रशासन मौसम, स्थान, संवेदनशीलता इत्यादि को ध्यान में रखते हुए कि रैली के लिए समय और स्थान उपयुक्त है या नहीं। कॉन्ग्रेस नेता गण इससे नाराज़ हैं और उन्होंने जिला प्रशासन पर राज्य की योगी सरकार को ख़ुश करने के लिए कॉन्ग्रेस नेताओं की रैली कैंसिल करने का आरोप लगाया है।

राहुल-प्रियंका की सहारनपुर, बिजनौर और शामली की रैलियाँ रद्द किए जाने पर टिप्पणी करते हुए कैराना लोकसभा क्षेत्र से लोकसभा प्रत्याशी हरिंदर मलिक ने एएनआई से कहा:

“रैली स्थगित कर दी गई है और स्थानीय प्रशासन से ‘Weather Clearance’ मिलते ही रैली के लिए नई तारीख़ तय की जाएगी। हम इस मामले को चुनाव आयोग तक लेकर जाएँगे। अगर मौसम सही नहीं था तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कैसे अपनी रैलियाँ आयोजित की? अगर हम हवाई दूरी की बात करें तो योगी का कार्यक्रम स्थल हमारे रैली स्थल से कुछ ही किलोमीटर की दूरी पर था।”

राहुल-प्रियंका की रद्द की गई रैलियाँ सोमवार (अप्रैल 8, 2019) को प्रस्तावित थीं। बिजनौर और सहारनपुर तो राहुल-प्रियंका के साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया भी शामिल होने वाले थे। सहारनपुर से कॉन्ग्रेस उम्मीदवार इमरान मसूद ने कहा कि अब यहाँ प्रियंका गाँधी का रोड-शो आयोजित किया जाएगा। उत्तर प्रदेश कि 80 सीटों के लिए सभी सात चरणों में मतदान होने हैं।

कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी और महासचिव प्रियंका गाँधी की बिजनौर इंटर कॉलेज के मैदान में सुबह 11 बजे, सहारनपुर के गाँधी मैदान में दोपहर साढ़े 12 बजे, शामली के वीवी कॉलेज के मैदान पर दोपहर क़रीब ढाई बजे सभा होनी थी। ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी सभा को संबोधित करना था। यह सभा पार्टी प्रत्याशी इमरान मसूद के लिए आयोजित की गई थी। रैली के लिए सुबह से ही कार्यकर्ता और लोग आने लगे थे लेकिन तभी अचानक से मौसम ने ही धोखा दे दिया। आसमान में काले बादल छा गए और तेज़ आंधी से पंडाल में अफरातफरी मच गई। कुर्सियाँ इधर-उधर उड़ने लगी और सारी व्यवस्था अस्तव्यस्त हो गई।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मंदिर से माथे पर तिलक लगाकर स्कूल जाता था छात्र, टीचर निशात बेगम ने बाहरी लड़कों से पिटवाया: वीडियो में बच्चे ने बताई पूरी...

टीचर निशात बेगम का कहना है कि ये सब छात्रों के आपसी झगड़े में हुआ। पीड़ित छात्र को बाहरी लड़कों ने पीटा है। अब उसके परिजन कार्रवाई की माँग कर रहे हैं।

सोहा ने कब्र पर किया अब्बू को याद: भड़के कट्टरपंथियों ने इस्लाम से किया बाहर, कहा- ‘शादियाँ हिंदुओं से, बुतों की पूजा, फिर कैसे...

कुणाल खेमू से शादी करने वाली सोहा अली खान हाल में अपने अब्बू की कब्र पर अपनी माँ शर्मिला टैगोर और बेटी इनाया के साथ पहुँचीं। लेकिन कट्टरपंथी यह देख भड़क गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,766FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe