Saturday, June 22, 2024
Homeरिपोर्टमीडियासिद्धू ने भेजा सवाल, राजदीप ने कैप्टन अमरिंदर से पूछा: पाकिस्तानी कनेक्शन पर घेरने...

सिद्धू ने भेजा सवाल, राजदीप ने कैप्टन अमरिंदर से पूछा: पाकिस्तानी कनेक्शन पर घेरने वाली ‘पत्रकारिता’ का वायरल वीडियो

दिग्गज कॉन्ग्रेस नेता कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के कुछ घंटों बाद ही उनको लेकर इंडिया टुडे के पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने फेक न्यूज फैलानी शुरू दी। राजदीप ने अमरिंदर सिंह के पाकिस्तान से व्यक्तिगत संबंधों और नवजोत सिंह सिद्धू की पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल बाजवा के साथ निकटता के बीच एक झूठी लकीर खींचने की कोशिश की।

कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ साक्षात्कार के दौरान राजदीप ने इस बात को स्वीकार किया कि सिद्धू ने उन्हें पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री से उनके पाकिस्तानी संबंधों के बारे में पूछने के लिए कहा। इस पर कैप्टन ने सिद्धू पर निशाना साधते हुए कहा:

“मैं निश्चित रूप से पाकिस्तान के साथ उनके (सिद्धू) के इस तरह के संबंधों का समर्थन नहीं करूँगा। वहाँ उनके बहुत अच्छे दोस्त हैं और जिस तरह से वह उनसे डील करते हैं, वह राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला है। मेरे लिए राष्ट्रीय सुरक्षा सबसे पहले है।”

इंटरव्यू के दौरान अचानक से राजदीप अपने फोन को स्क्रॉल करते नजर आए। शो के दौरान नवजोत सिंह सिद्धू की तरफ से वकालत कर रहे राजदीप ने कैप्टन (बातचीत में लगभग 18 मिनट पर) को बीच में रोक दिया। पत्रकार ने पूछा, “आप कड़े शब्द कह रहे हैं। सिद्धू पलटवार करेंगे और कहेंगे कि आप इनमें से किसी भी मुद्दे पर नैतिक मॉरल हाई ग्राउंड नहीं ले सकते। मैं ये कह रहा हूँ कि अब ये सब तेजी से पर्सनल होता जा रहा है। क्या इससे आम आदमी पार्टी और अकालियों को फायदा होगा?”

बातचीत के दौरान राजदीप ने यह भी बताया कि उनको कैप्टन अमरिंदर सिंह के पाकिस्तान में व्यक्तिगत संबंधों के बारे में सिद्धू ने बताया था। इस बात को रखते हुए राजदीप ने पूर्व सीएम से पूछा, “सिद्धू ने मुझे यह बताने की कोशिश की है कि कैप्टन के पाकिस्तान में निजी संबंध थे। मुझे इस बारे में वो आपसे पूछने के लिए कहे हैं?”

राजदीप के सवालों का जवाब देते हुए अमरिंदर सिंह ने स्पष्ट किया कि भारत के विभाजन के दौरान पटियाला का आधा हिस्सा पाकिस्तान में चला गया और उनका व्यक्तिगत संबंध पंजाब के आम लोगों के साथ है। ‘इसका नेतृत्व से क्या लेना-देना है?’ इसके साथ ही उन्होंने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री या सेना के जनरल के साथ किसी भी मित्रता को नकार दिया।

सिद्धू के बाजवा और इमरान खान से संबंध

इंटरव्यू के दौरान अमरिंदर सिंह ने नवजोत सिंह सिद्धू को पाकिस्तानी सेना और उसके नेताओं के प्रति उनके उमड़ते प्यार के लिए कड़ी फटकार लगाई। सिद्धू की पाकिस्तान यात्रा का जिक्र करते हुए कैप्टन ने कहा कि उन्होंने सिद्धू से कहा था, “यहाँ मेरे सैनिक मारे जा रहे हैं और आप पाकिस्तानी प्रमुख जनरल बाजवा को गले लगाने जा रहे हैं। फिर आप इमरान खान के पास जाते हैं, जहाँ हमारे देश के खिलाफ रणनीतियाँ तैयार की जाती हैं। क्या आप जानते हैं कि पंजाब में रोजाना कितने ड्रोन आ रहे हैं? पंजाब में कितना हथियार आया है? कितने आरडीएक्स विस्फोटक, कितने हैंडग्रेनेड, कितनी पिस्टल, 50,000 से अधिक गोला-बारूद यह सब राज्य में आ रहा है, यह किस लिए आता है?”

कैप्टन अमरिंदर सिंह के एक पाकिस्तानी पत्रकार से संबंध

बहुत ही कम लोगों को पता होगा, लेकिन ऐसी खबरें आती रही हैं कि कैप्टन अमरिंदर की एक पाकिस्तानी दोस्त हैं, जो उनके चंडीगढ़ स्थित घर पर नियमित तौर पर रहती हैं। वो अरोसा आलम हैं, जिनके साथ अमरिंदर सिंह के करीबी संबंध हैं। वह 2017 में कैप्टन के शपथ ग्रहण समारोह में भी शामिल हुई थीं। वह फरवरी 2020 में कैप्टन अमरिंदर सिंह की जीवनी ‘द पीपल्स महाराजा’ के लॉन्च पर भी मौजूद थीं।

दोनों के बीच अफेयर को लेकर अक्सर सार्वजनिक जगहों पर चर्चाएँ कम ही होती हैं। इसके अलावा वो भी सार्वजनिक तौर पर बातचीत करने से बचते हैं। आलम पूर्व पाकिस्तानी रक्षा पत्रकार हैं और उन्हें पाकिस्तानी हलकों में सैन्य प्रतिष्ठान के साथ घनिष्ठ संबंध रखने के लिए जाना जाता था।

अरोसा आलम जनरल रानी के नाम से प्रसिद्ध अकलीन अख्तर की बेटी हैं। अकलीन अख्तर ऐसी प्रभावशाली व्यक्तित्व थीं, जिन्हें पाकिस्तानी मीडिया ने पाक नेता याह्या खान की “म्यूज और मालकिन” के तौर पर दिखाया जाता है। फरवरी 2018 में जब अरोसा चंडीगढ़ में थीं तो उन्होंने कहा था, “मेरा रिश्ता पाकिस्तान में भी एक संवेदनशील मुद्दा है, मैं एक मुस्लिम महिला हूँ और आप जानते हैं कि लोग कैसे सोचते हैं।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

व्यभिचारी वैष्णव आचार्य, पत्रकार ने खोली पोल, अंग्रेजों के कोर्ट में मुकदमा… आमिर खान के बेटे को लेकर YRF-Netflix की बनाई फिल्म बहस का...

माँ भवानी का अपमान करने वाले को जवाब देने कारण हकीकत राय नामक बच्चे का खुलेआम सिर कलम कर दिया गया था। इस पर फिल्म बनाएगा बॉलीवुड? या सिर्फ वही 'वास्तविक कहानियाँ' चुनी जाती हैं जिनमें गुंडा कोई साधु-संत हो?

‘हे माँ, हमें माफ़ कर दो, गलती हो गई कि यहाँ चोरी की’: गिरफ्तार होते ही चोरों के गिरोह का हुआ हृदय-परिवर्तन, मंदिर में...

ये सब झालावाड़ जिला के रहने वाले हैं। चोरों ने मंदिर में माता की प्रतिमा के सामने हाथ जोड़ कर कहा, "हे माँ, हमें माफ़ कर दो। हमसे गलती हो गई कि हमने यहाँ चोरी की।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -