Thursday, July 29, 2021
Homeराजनीतिरिम्स के गद्दे और तकिए लेकर रफूचक्कर हो गए लालू यादव के 10 सुरक्षाकर्मी,...

रिम्स के गद्दे और तकिए लेकर रफूचक्कर हो गए लालू यादव के 10 सुरक्षाकर्मी, अस्पताल प्रबंधन ने राँची SSP से लगाई गुहार

अब पुलिस के आला अधिकारियों ने उन पुलिसकर्मियों को आदेश दिया है कि वो अस्पताल की चीजें वापस करें। इनमें 2 हवलदार और 8 आरक्षी पुलिसकर्मी शामिल हैं। उन जवानों को 24 घंटे का अल्टीमेटम देते हुए कहा गया है अगर वो आदेश का पालन नहीं करते हैं तो उन पर कार्रवाई की जा सकती है।

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव अक्सर अजीबोगरीब कारणों से विवादों में रहते हैं। अब खुलासा हुआ है कि लालू यादव की सुरक्षा में लगे जवान अपने साथ तकिया और गद्दा भी लेकर चले गए हैं। बता दें कि चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता लालू यादव के अधिकतर दिन राँची के RIMS में गुजरे हैं और वहाँ उन्हें खास सुविधाएँ दी गई थीं। अब RIMS अस्पताल ने राँची के SSP को पत्र लिख कर गद्दे और तकिए वापस करने की माँग की है।

झारखंड के पुलिस विभाग में इस चिट्ठी के बाद से गहमागहमी देखने को मिल रही है। लालू यादव काफी दिनों तक RIMS निदेशक के बँगले में शिफ्ट किए गए थे। इसका कारण ये था कि कोरोना संक्रमण में उन्हें खतरा था और कुत्तों के भौंकने से उन्हें परेशानी होती थी। उनकी सुरक्षा में तैनात 10 पुलिसकर्मियों की भी सुविधाओं का ध्यान RIMS ही रख रहा था, इसीलिए गद्दे और तकिए भी उन्हें दिए गए थे।

लालू यादव इस दौरान बिहार के विधायकों को फोन कॉल कर-कर के नीतीश कुमार की सरकार गिराने के चक्कर में लग गए, जिसके बाद कोर्ट केस हुआ और उन्हें फिर से पेइंग वॉर्ड में शिफ्ट कर दिया गया। लालू यादव और उनके सुरक्षाकर्मियों ने बँगला खाली तो किया, लेकिन वहाँ से तकिए और गद्दे भी लेकर चले गए। RIMS प्रबंधन ने जब उन जवानों से संपर्क किया तो उन्हें कोई जवाब नहीं मिला। तब SSP को पत्र लिखा गया।

अब पुलिस के आला अधिकारियों ने उन पुलिसकर्मियों को आदेश दिया है कि वो अस्पताल की चीजें वापस करें। इनमें 2 हवलदार और 8 आरक्षी पुलिसकर्मी शामिल हैं। उन जवानों को 24 घंटे का अल्टीमेटम देते हुए कहा गया है अगर वो आदेश का पालन नहीं करते हैं तो उन पर कार्रवाई की जा सकती है। साथ ही उनसे स्पष्टीकरण भी माँगा गया है। खास बात तो ये है कि ये गद्दे और तकिए भी RIMS प्रबंधन ने एक टेंट हाउस से भाड़े पर लिया था। अब रिम्स को उसका अतिरिक्त भाड़ा देना पड़ेगा।

बता दें कि एक वायरल ऑडियो क्लिप में लालू यादव ने विधायक से कहा था, “अच्छा सुनो। हम लोग तुमको आगे भी आगे बढ़ाएँगे। कल जो स्पीकर का चुनाव है, उसमें हम लोगों का साथ दो। हम लोग तुम्हें मंत्री बनाएँगे। कल तो इसको हम गिरा देंगे।” जब विधायक ने कहा था कि वो पार्टी में हैं तो लालू यादव ने जवाब दिया था कि पार्टी में हो तो अनुपस्थित हो जाओ, कह दो कि कोरोना हो गया है। इस ऑडियो के वायरल होने के बाद कोर्ट में केस भी हुआ था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के जलसे में भारत के वामपंथियों की ता थैया, पीछे-पीछे कॉन्ग्रेसी भी कह सकते हैं- हम भी आ गए भैया!

चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के साथ समझौता करने वाली कॉन्ग्रेस, वामपंथियों की कला सीख चीनी दूतावास के समारोहों में खुलेआम दिखाई दे तो चौंकिएगा मत।

जान बचानी है तो TMC ज्वाइन करो: जिस रितु से हुआ गैंगरेप उसे धमकी, ऑपइंडिया से कहा- हिंदू होना, BJP को वोट देना गुनाह

रितु ने हमें बताया कि उसे धमकी भरे फोन भी आए हैं कि अगर उसने पुलिस के पास जाने की कोशिश की तो पुलिस भी उसके साथ बलात्कार करेगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,836FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe