Wednesday, July 28, 2021
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेस नेता ने पंजाब में 1300 Jio टावरों पर हमला करने वालों का किया...

कॉन्ग्रेस नेता ने पंजाब में 1300 Jio टावरों पर हमला करने वालों का किया उत्साहवर्धन, देश में इसी तरह के तोड़-फोड़ के लिए उकसाया

"किसानों को समझ आ गया है कि मोदी से सीधे बात करने का एकमात्र तरीका अंबानी को तकलीफ देना है। इस तरह के आपराधिक व्यवहार को पूरे देश में दोहराया जाना चाहिए। अगर यह पूरे भारत में होने लगा, तो मोदीजी दौड़ते हुए सिंघु बॉर्डर पर आएँगे।"

यूथ कॉन्ग्रेस के राष्ट्रीय अभियान प्रभारी श्रीवत्स को पंजाब में Jio मोबाइल टावरों से बिजली काटने वाले किसानों का उत्साहवर्धन करते देखा गया। कर्नाटक कॉन्ग्रेस के पूर्व मीडिया प्रमुख इस बात को लेकर उत्साहित थे कि राज्य के 9000 Jio मोबाइल टावरों में से 1300 में बिजली की आपूर्ति नहीं है।

Senior Youth Congress leader cheers for criminal behaviour
युवा कॉन्ग्रेस नेता ट्वीट

श्रीवत्स ने आगे कहा, “किसानों को समझ आ गया है कि मोदी से सीधे बात करने का एकमात्र तरीका अंबानी को तकलीफ देना है।” उन्होंने यह भी कहा कि इस तरह के आपराधिक व्यवहार को पूरे देश में दोहराया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, “अगर यह पूरे भारत में होने लगा, तो मोदीजी दौड़ते हुए सिंघु बॉर्डर पर आएँगे।”

इससे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर ने ‘प्रदर्शनकारी’ किसानों से अपील की थी कि वे बिजली बाधित करके या फिर बुनियादी ढाँचे को नष्ट करके आम जनता के लिए असुविधा उत्पन्न न करें। उन्होंने ‘प्रदर्शनकारियों’ से कनेक्टिविटी को बंद न करने और टेलीकॉम वर्कर्स के साथ मारपीट न करने का भी आग्रह किया था। हालाँकि, ऐसा लगता है कि ‘प्रदर्शनकारी किसानों’ ने मुख्यमंत्री की अपील पर कोई ध्यान नहीं दिया और अब ऐसा लगता है कि कॉन्ग्रेस नेता भी इस तरह की अराजकता की वाह-वाही कर रहे हैं। वहीं आज भी CM ने टॉवर में तोड़-फोड़ करने वालों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

‘प्रदर्शनकारी’ रिलायंस जियो टावरों को निशाना बना रहे हैं क्योंकि उनका दावा है कि रिलायंस के साथ ही अडानी समूह नए कृषि कानूनों की मदद से किसानों का शोषण करेंगे। समाचार एजेंसी पीटीआई ने सूत्रों का हवाला देते हुए कहा कि जब साइट मैनेजर ने प्रदर्शनकारियों को बुनियादी ढाँचे को नष्ट करने से रोकने की कोशिश की तो उन्हें थप्पड़ मारा गया और उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया। बिजली लाइनों को तोड़ दिया गया और टावरों को कुल्हाड़ी मारने की कोशिश की गई।

उधर मोगा में मोबाइल टॉवर में तोड़-फोड़ करने खबर है। और ये सिलसिला पंजाब में बढ़ता ही जा रहा है।

गौरतलब है कि ‘किसानों’ का प्रदर्शन अब प्रदर्शनकारियों की हरकत के कारण संदेह के घेरे में आता दिख रहा है। पिछले दिनों हमने वायरल वीडियो में किसानों को Jio मोबाइल टावर कुल्हाड़ी से काटते देखा और फिर बाद में एक नई वीडियो सामने आई, जिसमें वह जियो के जेनरेटर लूट कर शेखी बघारते नजर आए।

प्रदर्शन के नाम पर वीडियो में देखा जा सकता है कि ये कथित प्रदर्शनकारी टेलीकॉम टॉवर्स से जुड़े जियो जेनरेटर को वीडियो में ट्रैक्टर से बाँध कर उसे उसकी जगह से जबरदस्ती हटा रहे थे और फिर उसे सड़क पर घसीट कर गुरुद्वारे में ले जाकर डोनेट करते दिख रहे थे। इस दौरान ट्रैक्टर पर एक झंडा भी लगाया गया था और कई लोग उसके पीछे चल रहे थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साँवरें के रंग में रंगी हरियाणा की तेजतर्रार महिला IPS भारती अरोड़ा, श्रीकृष्‍ण भक्ति के लिए माँगी 10 साल पहले स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति

हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने इस खबर की पुष्टि की है। उन्होंने बताया है कि अंबाला रेंज की आइजी भारती अरोड़ा ने वीआरएस के लिए आवेदन किया है।

‘मोदी सिर्फ हिंदुओं की सुनते हैं, पाकिस्तान से लड़ते हैं’: दिल्ली HC में हर्ष मंदर के बाल गृह को लेकर NCPCR ने किए चौंकाने...

एनसीपीसीआर ने यह भी पाया कि बड़े लड़कों को भी विरोध स्थलों पर भेजा गया था। बच्चों को विरोध के लिए भेजना किशोर न्याय अधिनियम, 2015 की धारा 83(2) का उल्लंघन है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,660FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe