Saturday, June 22, 2024
Homeराजनीतिअजित के घर में देखे गए शिवसेना नेता: शरद पवार ने कहा- NCP भाजपा...

अजित के घर में देखे गए शिवसेना नेता: शरद पवार ने कहा- NCP भाजपा के साथ नहीं, भतीजा ग़लत बोल रहा

चाचा-भतीजा के बीच इस 'ट्विटर वॉर' के कारण महाराष्ट्र की लड़ाई और दिलचस्प हो गई है। शरद पवार ने कहा कि एनसीपी शिवसेना और कॉन्ग्रेस के साथ है। जबकि अजित ने कहा था कि एनसीपी भाजपा के साथ है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री अजित पवार के ट्विटर पर फॉलोवर्स की संख्या बढ़ गई है। उन्होंने एक-एक कर सभी की बधाई का धन्यवाद दिया। उनके घर पर भी हलचल बढ़ गई है और वो एक-एक कर अपने गुट के नेताओं से मिल रहे हैं। इस दौरान शिवसेना नेता नरेंद्र पाटिल अजित पवार के घर उनसे मिलने पहुँचे। भाजपा नेता निरंजन डावखरे भी अजित पवार के आवास पर पहुँचे। पवार लगातार बैठक कर रहे हैं और अपने गुट के नेताओं के साथ विचार-विमर्श कर रहे हैं। हालाँकि, शिवसेना नेता अजित पवार के घर क्यों पहुँचे हैं, इस बारे में अभी कुछ स्पष्ट नहीं कहा गया है।’

अजित पवार ने कहा कि एनसीपी उनकी पार्टी है और उन्होंने न तो पार्टी छोड़ी है और न ही भविष्य में ऐसा करेंगे। उन्होंने कहा कि शरद पवार उनके नेता हैं और भाजपा-एनसीपी का गठबंधन हो चुका है। शरद पवार ने अपने भतीजे के इस बयान का खंडन करते हुए कहा है कि ये भ्रामक और ग़लत है। सीनियर पवार ने आरोप लगाया कि अजित जनता के बीच ग़लत सन्देश देने और असमंजस की स्थिति पैदा करने के लिए ऐसे बयान दे रहे हैं। चाचा-भतीजा के बीच इस ‘ट्विटर वॉर’ के कारण महाराष्ट्र की लड़ाई और दिलचस्प हो गई है। शरद पवार ने कहा कि एनसीपी शिवसेना और कॉन्ग्रेस के साथ है। जबकि अजित ने कहा था कि एनसीपी भाजपा के साथ है।

उधर भाजपा विधायकों की भी बैठक ख़त्म हो गई है। बैठक के बाद भाजपा नेता आशीष शेलार ने कहा कि भाजपा आराम से बहुमत साबित कर देगी। उन्होंने बताया कि भाजपा का समर्थन कर रहे अन्य निर्दलीय विधायकों की बैठक किसी अन्य स्थल पर होगी। उधर पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण ने आरोप लगाया कि भाजपा सुप्रीम कोर्ट से ज्यादा समय चाहती है ताकि कॉन्ग्रेस विधायकों को प्रलोभन देकर खरीद सके। चव्हाण ने कहा कि विधानसभा के सबसे वरिष्ठ नेता को प्रोटेम स्पीकर बनाया जाना चाहिए।

शिवसेना, कॉन्ग्रेस और एनसीपी, तीनों दलों के विधायक अलग-अलग होटलों में रुके हुए हैं। उद्धव ठाकरे ने इन विधयकों से मुलाक़ात की। उन्होंने और शरद पवार ने एनसीपी विधायकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि उनका ये गठबंधन लम्बे समय तक चलेगा। पवार ने अपने विधायकों को ढाँढस बंधाते हुए कहा कि घबराने की बात नहीं है क्योंकि विपक्षी दलों के पास संख्याबल है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, 11वीं सदी का शिलालेख है साक्ष्य!!

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, बख्तियार खिलजी ने नहीं। ब्राह्मण+बुर्के वाली के संभोग को खोद निकाला है इस इतिहासकार ने।

10 साल जेल, ₹1 करोड़ जुर्माना, संपत्ति भी जब्त… पेपर लीक के खिलाफ आ गया मोदी सरकार का सख्त कानून, NEET-NET परीक्षाओं में गड़बड़ी...

परीक्षा आयोजित करने में जो खर्च आता है, उसकी वसूली भी पेपर लीक गिरोह से ही की जाएगी। केंद्र सरकार किसी केंद्रीय जाँच एजेंसी को भी ऐसी स्थिति में जाँच सौंप सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -