Tuesday, August 16, 2022
Homeराजनीतिस्मृति ईरानी ने कॉन्ग्रेस नेताओं जयराम रमेश और पवन खेड़ा को भेजा लीगल नोटिस,...

स्मृति ईरानी ने कॉन्ग्रेस नेताओं जयराम रमेश और पवन खेड़ा को भेजा लीगल नोटिस, 18 साल की बेटी को लेकर कहा था – ‘गोवा में चलाती है बार’

कॉन्ग्रेस नेता पवन खेड़ा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में दावा किया था कि स्मृति ईरानी की 18 साल की बेटी गोवा में बार चलाती हैं। खेड़ा ने कहा था कि ईरानी जिस पार्टी से जुड़ी हैं, उस हिसाब से उनकी बेटी बहुत संस्कारी होनी चाहिए, लेकिन वो गोवा में बार चला रही है।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने उनकी 18 साल की बेटी पर ‘बार’ चलाने का आरोप लगाने के मामले कॉन्ग्रेस नेता पवन खेड़ा, जयराम रमेश और नेट्टा डिसूजा को कानूनी नोटिस थमा दिया है। इसमें उन्होंने उनकी बेटी जोइश के खिलाफ कॉन्ग्रेसी नेताओं द्वारा फैलाई जा रही गलत, भ्रामक और अपमानजनक बातों पर रोक लगाने की बात कही है। ईरानी ने कॉन्ग्रेस से अनकी बेटी से लिखित में तुरंत माफी माँगने और आरोपों को वापस लेने के लिए कहा है।

इस बीच कॉन्ग्रेस ने एक और दावा किया है। कॉन्ग्रेस का दावा है कि गोवा के कोर्जुएम गाँव में स्मृति ईरानी के नाम से एक आलीसान बंगला बना हुआ है। कॉन्ग्रेस के ट्विटर हैंडल आईएनसी टीवी में एक दस्तावेज के जरिए दावा किया गया है कि कथित तौर पर ईरानी का उक्त घर सिली सोल्स बार से केवल 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इसके साथ ही एक तस्वीर में जुबिन ईरानी का नाम और 65 लाख रुपए के नंबर के साथ ही घर का पता भी लिखा है।

क्या है पूरा मामला

गौरतलब है कि कॉन्ग्रेस नेता पवन खेड़ा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में दावा किया था कि स्मृति ईरानी की 18 साल की बेटी गोवा में बार चलाती हैं। खेड़ा ने कहा था कि ईरानी जिस पार्टी से जुड़ी हैं, उस हिसाब से उनकी बेटी बहुत संस्कारी होनी चाहिए, लेकिन वो गोवा में बार चला रही है।

इस पर केंद्रीय मंत्री ने भी एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बेटी के चरित्र का हनन करने के मामले में कॉन्ग्रेस को कोर्ट में घसीटने की चेतावनी दी थी। ईरानी ने कहा था, “18 साल की कॉलेज जाने वाली जिस बच्ची का कॉन्ग्रेस नेता ने कॉन्ग्रेस हेडक्वार्टर में चरित्र हनन किया। उस लड़की का दोष यह है कि उस लड़की की माँ ने 2014 और 2019 में अमेठी से राहुल गाँधी के खिलाफ चुनाव लड़ा। उस लड़की का दोष यह है कि उसकी माँ ने सोनिया गाँधी, राहुल गाँधी की 5,000 करोड़ की लूट के ऊपर प्रेसवार्ता की।”

उन्होंने कॉन्ग्रेस से पूछा था कि कॉन्ग्रेस नेता ने मीडिया में हँस-हँस कर जो कागज दिखाते हुए दावा कर रहे हैं क्या वो बता सकते हैं कि उनमें लिखा क्या हुआ था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कर्नाटक के शिवमोगा में लगे वीर सावरकर के पोस्टर तो काटा बवाल, प्रेम सिंह को चाकू घोंपा: धारा 144 लागू, अब्दुल, नदीम और जबीउल्लाह...

कर्नाटक में वीर सावरकर के पोस्टर पर हुए बवाल के बाद एक व्यक्ति को चाकू मारने की खबर आई है। पुलिस ने अब्दुल, नदीम, जबीउल्लाह को गिरफ्तार किया है।

‘पता नहीं 9 सितंबर को क्या होगा’: ‘लाल सिंह चड्ढा’ का हाल देख कर सहमे करण जौहर, ‘ब्रह्मास्त्र’ के डायरेक्टर को अभी से दे...

क्या करण जौहर को रिलीज से पहले ही 'ब्रह्मास्त्र' के फ्लॉप होने का डर सता रहा है? निर्देशक अयान मुखर्जी के नाम उनके सन्देश से तो यही झलकता है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
214,182FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe