Thursday, April 18, 2024
Homeराजनीतिराहुल, प्रियंका और सोनिया गाँधी सबका हटाया गया SPG कवर: 1991 से मिली हुई...

राहुल, प्रियंका और सोनिया गाँधी सबका हटाया गया SPG कवर: 1991 से मिली हुई थी यह सुविधा

अब गाँधी परिवार के सदस्‍य सोनिया गाँधी, राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी के लिए भी यही सीआरपीएफ कमांडो जेड प्लस का सुरक्षा कवर मुहैया कराई जाएगी।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कॉन्ग्रेस की अंतरिम अध्‍यक्ष सोनिया गाँधी, राहुल और प्रियंका गाँधी की सुरक्षा की समीक्षा करते हुए SPG कवर को वापस लेने की सिफारिश की है। ऐसा ख़ुफ़िया इनपुट के आधार पर उन्हें कम खतरा देखते हुए किया जा रहा है। साथ ही, यह भी कहा जा रहा है कि गाँधी परिवार की सुरक्षा से किसी भी तरह का समझौता नहीं किया जाएगा। गाँधी परिवार को अभी भी जेड प्‍लस सुरक्षा दी जाएगी।

बता दें कि सितंबर में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की विशेष सुरक्षा कवर को हटाए जाने के कुछ दिनों बाद उन्हें भी जेड प्लस वर्ग के तहत सीआरपीएफ कमांडो का सुरक्षा कवर मुहैया करा दिया गया था। सिंह और उनकी पत्नी गुरशरण कौर के पास उनके मोतीलाल नेहरू रोड स्थित आवास और देशभर में कहीं भी जाने के दौरान उनके साथ हमेशा सीआरपीएफ के 35 जवान सुरक्षा घेरे में रहते हैं। 10 NSG कमाण्डो के साथ कुल मिलाकर, उनकी सुरक्षा के लिए 55 सशस्त्र सुरक्षा कर्मी होते हैं, जिन्‍हें अलग-अलग शिफ्टों में तैनात किया जाता है।

मीडिया रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि अब गाँधी परिवार के सदस्‍य सोनिया गाँधी, राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी के लिए भी यही सीआरपीएफ कमांडो जेड प्लस का सुरक्षा कवर मुहैया कराई जाएगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, केंद्र सरकार ने खतरे का आकलन करने के बाद पाया कि गाँधी परिवार को किसी तरह का सीधा खतरा नहीं है। बता दें कि राजीव गाँधी की 1991 में हत्‍या के बाद फैसला किया गया था कि पूर्व प्रधानमंत्रियों को भी एसपीजी सुरक्षा प्रदान की जाएगी। यहाँ यह भी जानना जरुरी है कि, पूर्व प्रधानमंत्रियों के सुरक्षा इंतजामों की समय-समय पर समीक्षा की जाती है और जरूरत के मुताबिक उसे घटाया जाता है। इसी साल अगस्‍त में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की भी एसपीजी सुरक्षा भी हटा ली गई थी।

रिपोर्ट के अनुसार, एसपीजी सुरक्षा हटाने के साथ ही प्रियंका गाँधी को नोटिस भेजकर उनके बंगले को लेकर भी सवाल पूछा गया था। इस पर उन्‍होंने कहा था कि उन्‍हें बंगला छोड़ने में कोई दिक्‍कत नहीं है। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा कॉन्ग्रेस की कार्यकारी अध्‍यक्ष सोनिया गाँधी, पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गाँधी और महासचिव प्रियंका गाँधी को एसपीजी सुरक्षा दी जाती है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘केवल अल्लाह हू अकबर बोलो’: हिंदू युवकों की ‘जय श्री राम’ बोलने पर पिटाई, भगवा लगे कार में सवार लोगों का सर फोड़ा-नाक तोड़ी

बेंगलुरु में तीन हिन्दू युवकों को जय श्री राम के नारे लगाने से रोक कर पिटाई की गई। मुस्लिम युवकों ने उनसे अल्लाह हू अकबर के नारे लगवाए।

छतों से पत्थरबाजी, फेंके बम, खून से लथपथ हिंदू श्रद्धालु: बंगाल के मुर्शिदाबाद में रामनवमी शोभायात्रा को बनाया निशाना, देखिए Videos

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में रामनवमी की शोभा यात्रा पर पत्थरबाजी की घटना सामने आई। इस दौरान कई श्रद्धालु गंभीर रूप से घायल भी हुए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe