Monday, April 15, 2024
Homeराजनीतिटिकटॉक प्रमुख को मेनका गाँधी ने लगाई लताड़, कहा- सलाह नहीं माँगी थी, बर्बरता...

टिकटॉक प्रमुख को मेनका गाँधी ने लगाई लताड़, कहा- सलाह नहीं माँगी थी, बर्बरता रोकने को कहा था

मेनका गाँधी ने अपने जवाबी पत्र में श्री बंसल की भारतीय सरकार के आदेशों को न पालन करने वाली मंशा को उजागर किया है। साथ ही ये भी कहा कि उनसे 'अपील' करने की सलाह देने के लिए नहीं कहा था। उनसे टिकटॉक पर जो बर्बरता दिखाई जाती है, उसे रोकने के लिए कहा गया था।

पशुओं पर अत्याचार कर कंटेंट क्रिएट करने वालों के ख़िलाफ़ टिकटॉक ने कार्रवाई करने से मना कर दिया है। इस बात की जानकारी पशु एक्सटिविस्ट व भाजपा सांसद मेनका गाँधी ने ट्वीट कर दी है।

मेनका गाँधी ने टिकटॉक को इस संबंध में पिछले दिनों एक पत्र लिखा था। उन्होंने पशुओं के साथ बर्बरता करने वाले यूजर्स के ऊपर कार्रवाई करने के लिए कुछ जानकारी माँगी थी। लेकिन टिकटॉक ने उनकी इस माँग को ठुकरा दिया।

इसके बाद भाजपा नेता ने टिकटॉक को जवाबी पत्र लिखा। इसमें उन्होंने भारत में टिकटॉक प्रमुख श्री बंसल को जमकर लताड़ लगाई और पूछा कि वे भारत के लिए काम कर रहे हैं या फिर चीन के लिए?

मेनका गाँधी ने अपने जवाबी पत्र में श्री बंसल की भारतीय सरकार के आदेशों को न पालन करने वाली मंशा को उजागर किया। साथ ही ये भी कहा कि उनसे ‘अपील’ करने की सलाह देने के लिए नहीं कहा था। उनसे टिकटॉक पर जो बर्बरता दिखाई जाती है, उसे रोकने के लिए कहा गया था।

मेनका ने पत्र मे लिखा, “आपको ऐसा कंटेंट पर जुर्माना लगाने का प्रावधान करना चाहिए था और अपनी ओर से ये सब रोकना चाहिए था। “

पशु एक्टिविस्ट मेनका गाँधी द्वारा शेयर किए गए पत्र के अनुसार उन्होंने टिकटॉक पर पशु-पक्षियो के साथ बर्बरता करने वाले अकाउंट्स के नाम और पता उजागर करने की माँग की थी।

उन्होंने टिकटॉक से ऐसे वीडियो रोकने, अपने प्लेटफॉर्म से हटाने और जुर्माना लगाने का प्रावधान करने की माँग की थी। इसके अलावा मेनका गाँधी ने यह भी माँग की थी कि इस तरह के वीडियो पोस्ट करने वालों के अकाउंट कैंसल कर दिए जाएँ। इनका नाम-पता अथॉरिटीज को उपलब्ध कराया जाए, जिससे कार्रवाई की जा सके।

लेकिन, जब, टिकटॉक प्रमुख की ओर से अटपटा जवाब आया तो उन्होंने श्री बंसल को जवाबी पत्र में सारी बातें लिखते हुए आखिर में कहा, “आप भारत के लिए काम कर रहे हैं या चीन के लिए? यह स्वीकार्य नहीं है। मैं तुरंत बेहतर और मजबूत कमिटमेंट चाहती हूँ और इसपर कार्रवाई होते देखना चाहती हूँ।”

उल्लेखनीय है कि बीते दिनों कई ऐसी वीडियोज सामने आए हैं जिसमें हमने कंटेट क्रिएट करने के नाम पर लोगों का अमानवीय चेहरा देखा। कहीं पर बिल्ली को धागे से लटका कर प्रताड़ना दी गई, तो कहीं कुत्ते के हाथ-पाँव बाँधकर पानी में फेंक दिया गया।

मेनका गाँधी ने बताया कि उनके पास पिछले 3 महीने में करीब 100 ऐसे वीडियोज आए, जिनमें जानवरों के साथ क्रूरता होती दिखाई दी। लेकिन टिकटॉक फिर भी ऐसे वीडियो अपने प्लेटफॉर्म से हटाने में असफल रहा है। उन्होंने अपने पत्र में चीन के इस ऐप पर झूठी अफवाहें फैलाने के साथ-साथ महिलाओं, बच्चों और जानवरों के प्रति हिंसा बढ़ाने का आरोप लगाया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दिल्ली में मनोज तिवारी Vs कन्हैया कुमार के लिए सजा मैदान: कॉन्ग्रेस ने बेगूसराय के हारे को राजधानी में उतारा, 13वीं सूची में 10...

कॉन्ग्रेस की ओर से दिल्ली की चांदनी चौक सीट से जेपी अग्रवाल, उत्तर पूर्वी दिल्ली से कन्हैया कुमार, उत्तर पश्चिम दिल्ली से उदित राज को टिकट दिया गया है।

‘सूअर खाओ, हाथी-घोड़ा खाओ, दिखा कर क्या संदेश देना चाहते हो?’: बिहार में गरजे राजनाथ सिंह, कहा – किसने अपनी माँ का दूध पिया...

राजनाथ सिंह ने गरजते हुए कहा कि किसने अपनी माँ का दूध पिया है कि मोदी को जेल में डाल दे? इसके बाद लोगों ने 'जय श्री राम' की नारेबाजी के साथ उनका स्वागत किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe