Friday, May 24, 2024
Homeराजनीतिमहिला पुलिकर्मी से छेड़छाड़ में पकड़े गए जिग्नेश, जहाँगीरपुरी वाले अंसार की तरह कैमरे...

महिला पुलिकर्मी से छेड़छाड़ में पकड़े गए जिग्नेश, जहाँगीरपुरी वाले अंसार की तरह कैमरे पर किया ‘पुष्पा’ स्टेप: वीडियो

जब पुलिस की टीम जिग्नेश मेवाणी को जीप में लेकर जा रही थी तो एक रिपोर्टर ने उनसे सवाल पूछने की कोशिश की। इस पर बाहर देखकर मेवाणी ने बाहर देखा और अल्लू अर्जुन की फिल्म पुष्पा स्टाइल में 'झुकेगा नहीं' वाले इशारे किए।

विवादित ट्वीट के मामले में असम पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद जमानत मिलने और फिर गिरफ्तार किए जाने पर कॉन्ग्रेस के विधायक जिग्नेश मेवाणी फिल्म पुष्पा का ‘झुकेगा नहीं’ वाला स्टेप कैमरे पर करके पुलिस के साथ जाते दिखे। ये वीडियो गुजरात कॉन्ग्रेस सेवादल के ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से शेयर किया गया है।

दरअसल, जब पुलिस की टीम जिग्नेश मेवाणी को जीप में लेकर जा रही थी तो एक रिपोर्टर ने उनसे सवाल पूछने की कोशिश की। इस पर मेवाणी ने बाहर देखा और अल्लू अर्जुन की फिल्म पुष्पा स्टाइल में इशारे किए। 10 सेकंड की क्लिप में मेवाणी की ये हरकत देखी जा सकती है।

गौरतलब है कि पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर किए गए एक ट्वीट के मामले में जमानत मिलने के बाद मेवाणी को महिला पुलिस अधिकारी से छेड़छाड़ और अभद्र व्यवहार करने के आरोप में असम पुलिस ने दोबारा गिरफ्तार कर लिया था। इससे पहले अदालत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर विवादित ट्वीट के मामले में उनकी जमानत अर्जी पर अपना आदेश सुरक्षित रख लिया था।

इस मामले पर असम पुलिस की ओर से जारी एक बयान में कहा गया, “गुजरात के विधायक जिग्नेश मेवाणी को बारपेटा पुलिस स्टेशन में उनके खिलाफ दर्ज एक नए मामले में केस नंबर 81/22 और आईपीसी की धारा 294, 323, 353, 354 के तहत फिर से गिरफ्तार किया गया है।”

जहाँगीरपुरी हिंसा के आरोपित अंसार ने भी पुष्पा स्टाइल दिखाया था

इससे पहले जहाँगीरपुरी के दंगों के मुख्य आरोपित मोहम्मद अंसार ने भी पुलिस हिरासत में अल्लू अर्जुन की फिल्म पुष्पा के इसी सिग्नेचर मूव का इस्तेमाल किया था। ये एक्शन उसने कोर्ट ले जाते वक्त किया था। इसके जरिए ये संदेश देने की कोशिश की गई थी उसे कोई पछतावा नहीं है।

उसे दिल्ली की रोहिणी कोर्ट ने 17 अप्रैल 2022 को सुनवाई के बाद पुलिस की हिरासत में भेज दिया था। यही वो दिन था जब उसने पुष्पा स्टाइल में इशारे किए। गौरतलब है कि अंसार पर आरोप था कि हिंदुओं की शोभा यात्रा निकलते वक्त पथराव और हमले करने के लिए लोगों को उकसाया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बाबरी का पक्षकार राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में आ गया, लेकिन कॉन्ग्रेस ने बहिष्कार किया’: बोले PM मोदी – इन्होंने भारतीयों पर मढ़ा...

प्रधानमंत्री ने स्पष्ट ऐलान किया कि अब यह देश न आँख झुकाकर बात करेगा और न ही आँख उठाकर बात करेगा, यह देश अब आँख मिलाकर बात करेगा।

कॉन्ग्रेस नेता को ED से राहत, खालिस्तानियों को जमानत… जानिए कौन हैं हिन्दुओं पर हमले के 18 इस्लामी आरोपितों को छोड़ने वाले HC जज...

नवंबर 2023 में जब राजस्थान में विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मी चरम पर थी, जब जस्टिस फरजंद अली ने कॉन्ग्रेस उम्मीदवार मेवाराम जैन को ED से राहत दी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -