Monday, July 26, 2021
Homeराजनीति'बंगाल की यह बेटी, किसी की माँ, किसी की बहन… मर चुकी है': TMC...

‘बंगाल की यह बेटी, किसी की माँ, किसी की बहन… मर चुकी है’: TMC के गुंडों के पिटाई से घायल BJP कार्यकर्ता की माँ की मौत

''बंगाल की यह बेटी, किसी की माँ, किसी की बहन… मर चुकी है। टीएमसी के लोगों ने उन पर क्रूरतापूर्ण हमला किया गया था, लेकिन ममता बनर्जी ने उनके लिए दया का भाव भी प्रकट नहीं किया। उनके परिवार के घावों को कौन ठीक करेगा? टीएमसी की हिंसा की राजनीति ने बंगाल की आत्मा को चोट पहुँचाई है।''

पश्चिम बंगाल में टीएमसी के गुंडों द्वारा भाजपा कार्यकर्ता की बुजुर्ग माँ की बेरहमी से पिटाई करने के एक महीने बाद उनकी मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि गंभीर चोटें लगने की वजह से बुजुर्ग महिला ने दम तोड़ दिया

भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने इस संवदेनशील मामले को लेकर ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा, ”बंगाल की यह बेटी, किसी की माँ, किसी की बहन… मर चुकी है। टीएमसी के लोगों ने उन पर क्रूरतापूर्ण हमला किया गया था, लेकिन ममता बनर्जी ने उनके लिए दया का भाव भी प्रकट नहीं किया। उनके परिवार के घावों को कौन ठीक करेगा? टीएमसी की हिंसा की राजनीति ने बंगाल की आत्मा को चोट पहुँचाई है।”

राजनीतिक बदले की दुर्भावना से प्रेरित होकर 26 फरवरी, 2021 को रात के 1:30 बजे नॉर्थ दमदम शहर स्थित निमता के वार्ड संख्या-6 में टीएमसी के गुंडों ने इस घटना को अंजाम दिया था। उन्होंने भाजपा कार्यकर्ता गोपाल मजूमदार और उनकी बुजुर्ग माँ शोभा मजूमदार पर बंदूक के पिछले भाग से हमला किया गया था। तृणमूल कॉन्ग्रेस के गुंडों पर आरोप है कि उन्होंने गोपाल मजूमदार के घर में घुसकर पहले अपशब्दों का इस्तेमाल किया। उसके बाद पूछने लगे कि भाजपा में उक्त कार्यकर्ता की क्या भूमिका है।

पीड़ित के अनुसार, कुछ गुंडे घर के बाहर भी खड़े थे, जिन्हें वो पहचान नहीं पाए। उन्होंने बताया था कि गुंडों ने उनकी माँ को धक्का देकर गिरा दिया था और मारपीट के बाद घर से निकलकर चले गए।

घटना के बाद गोपाल मजूमदार ने बताया था, ”मैं भाजपा की मंडल कमिटी का सदस्य हूँ। सबसे पहले तो उन्होंने हाथों का इस्तेमाल कर के मुझे मारा, फिर रिवॉल्वर के हुड का इस्तेमाल करके मेरे सिर पर जोरदार वार किया। जब मैं जमीन पर गिर गया तो उन्होंने मुझे लात-घूसों से मारना शुरू कर दिया।”

वहीं, एक स्थानीय व्यक्ति का कहना है कि इस क्षेत्र में TMC के गुंडों के आतंक का बोलबाला है और गोपाल मजूमदार के बाद उन्होंने अन्य भाजपा कार्यकर्ताओं को भी निशाना बनाया है।

west bengal mother bjp worker thrashed by tmc dies shobha majumdar

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

यूपी के बेस्ट सीएम उम्मीदवार हैं योगी आदित्यनाथ, प्रियंका गाँधी सबसे फिसड्डी, 62% ने कहा ब्राह्मण भाजपा के साथ: सर्वे

इस सर्वे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री बताया गया है, जबकि कॉन्ग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गाँधी सबसे निचले पायदान पर रहीं।

असम को पसंद आया विकास का रास्ता, आंदोलन, आतंकवाद और हथियार को छोड़ आगे बढ़ा राज्य: गृहमंत्री अमित शाह

असम में दूसरी बार भाजपा की सरकार बनने का मतलब है कि असम ने आंदोलन, आतंकवाद और हथियार तीनों को हमेशा के लिए छोड़कर विकास के रास्ते पर जाना तय किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,226FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe