Thursday, December 1, 2022
HomeराजनीतिTRS विधायक के भाई की गुंडागर्दी, पुलिस और महिला वन रक्षकों को बुरी तरह...

TRS विधायक के भाई की गुंडागर्दी, पुलिस और महिला वन रक्षकों को बुरी तरह पीटा

जान बचाने के लिए वन अधिकारी ट्रैक्टर पर चढ़ गई, लेकिन कार्यकर्ताओं ने उसे वहाँ भी नहीं बख्शा। उसके ऊपर लाठी-डंडों से लगातार वार करते रहे। वह जोर-जोर से दर्द से कराह रही थीं और फिर बेहोश हो गईं।

तेलंगाना में सत्तारूढ़ पार्टी तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के कार्यकर्ताओं की गुंडागर्दी सामने आई है। टीआरएस के कार्यकर्ताओं ने आसिफाबाद जिले में वृक्षारोपण के लिए पहुँचे पुलिस दल और वन रक्षकों की टीम पर हमला बोल दिया। दरअसल, सरकार राज्य में ट्री प्लांटेशन का काम कर रही है। इसके लिए वन विभाग के सहयोग से ट्री प्लांटेशन कराया जा रहा है। इसी दौरान राज्य के आसिफाबाद जिले में कुछ लोगों ने पुलिस और वन विभाग की टीम पर हमला कर दिया। 

हमलावरों ने महिला वन रक्षकों को भी नहीं बख्शा। महिला वनकर्मियों के साथ भी मारपीट की। जान बचाने के लिए वन अधिकारी ट्रैक्टर पर चढ़ गई, लेकिन कार्यकर्ताओं ने उसे वहाँ भी नहीं बख्शा। उसके ऊपर लाठी-डंडों से लगातार वार करते रहे। वह जोर-जोर से दर्द से कराह रही थीं और फिर बेहोश हो गईं। घटनास्थल पर मौजूद दूसरे अधिकारियों ने किसी तरह महिला अधिकारी को बचाया।

ये घटना शनिवार (जून 29, 2019) की है। इसका वीडियो भी सामने आया है। इस हमले में वन विभाग की एक अधिकारी अनीता बुरी तरह से घायल हो गईं। उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पीड़ित अनीता ने आरोप लगाया है कि हमलावरों का नेतृत्व टीआरएस के विधायक कोनेरु कोनप्पा के भाई कृष्णा कर रहे थे। कृष्णा के नेतृत्व में टीआरएस कार्यकर्ताओं ने वनकर्मियों और पुलिसकर्मियों पर हमला किया। बता दें कि, आरोपित कृष्णा खुद जिला परिषद का चेयरपर्सन है।

जानकारी के मुताबिक, अनीता अपने स्टाफ के साथ सिरपुर कागजनगर ब्लॉक के सरसला गाँव पहुँची थीं। यहाँ उन्हें हरिता हरम वृक्षारोपण अभियान के तहत बीस एकड़ जमीन पर खुदवाई करवानी थी। अनीता ने अपने स्टाफ से काम शुरू करने को कहा। तभी कृष्णा कुछ स्थानीय लोगों के साथ वहाँ पहुँचे और उन्होंने वन विभाग के लोगों को खुदाई करने से रोका। उनका कहना था कि जमीन गाँव वालों की है और वहाँ पौधे नहीं लगाए जा सकते। अनीता ने लोगों को समझाने का प्रयास किया लेकिन वे उनकी एक भी सुनने को तैयार नहीं थे और फिर जैसे ही वन विभाग के लोगों ने खुदाई का काम शुरू किया तो लोगों ने अनीता पर डंडों से हमला कर दिया। अनीता का आरोप है कि कृष्णा राव ने उनके बाल पकड़कर उन्हें खींचा। वो जान बचाकर ट्रैक्टर के ऊपर चढ़ गईं, लेकिन लोगों ने वहाँ भी उनके ऊपर ताबड़तोड़ डंडे बरसाए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NDTV से इस्तीफा देकर अब ‘Jaat Tak’ में जाएँगे रवीश कुमार? लोग लगा रहे अटकलें – अगर गौतम और मुकेश भाई YouTube ही खरीद...

NDTV की होल्डिंग कंपनी पर अडानी समूह के नियंत्रण के बाद रवीश कुमार ने चैनल से इस्तीफा दे दिया है। लोगों ने पूछा - 'जात तक' में जाएँगे अब?

अडानी की एंट्री के बाद रवीश कुमार ने NDTV से दिया इस्तीफा, कंपनी के बोर्ड से जा चुके हैं प्रणय-राधिका रॉय भी

NDTV की होल्डिंग कंपनी पर अडानी समूह के नियंत्रण के बाद रवीश कुमार ने चैनल से इस्तीफा दे दिया है। जम कर फैलाते थे मोदी विरोधी प्रोपेगंडा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,322FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe