Tuesday, September 28, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयतालिबानियों की एंट्री के बाद अफगानी क्रिकेटर राशिद खान को सताई परिजनों की चिंता,...

तालिबानियों की एंट्री के बाद अफगानी क्रिकेटर राशिद खान को सताई परिजनों की चिंता, IPL में जगह पक्की

सनराइजर्स हैदराबाद के सीईओ के शंमुगम ने बताया कि अफगानिस्तान के दो खिलाड़ी आईपीएल के दूसरे चरण में टीम का हिस्सा होंगे। सीईओ ने ये भी कहा कि उन्होंने अभी अफगानिस्तान में क्या हालात रहे हैं उसको लेकर किसी तरह की चर्चा नहीं की है।

अफगानिस्तान के मौजूदा हालातों पर हर कोई हैरान-परेशान है। ऐसे में क्रिकेट प्रेमियों को वहाँ के अफगानिस्तानी क्रिकेटर राशिद खान की चिंता सता रही है। यही कारण है कि आज ट्विटर पर उनका नाम ट्रेंड भी हो रहा है। इस ट्रेंड में बताया जा रहा है कि कैसे इस समय राशिद खान अपने मुल्क के हालात देख परेशान हैं और चाह कर भी अफगानिस्तान से अपने परिजनों को बाहर नहीं निकाल पा रहे हैं।

इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर केविन पीटरसन ने स्वयं राशिद की चिंता को लेकर खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि राशिद खान अफगानिस्तान के हालातों पर बहुत ज्यादा परेशान हो रखे हैं क्योंकि उनका परिवार अब भी वहीं फँसा है और वह उन्हें वहाँ से नहीं निकलवा पा रहे हैं। पीटरसन ने अपने बयान में आगे ये भी कहा है, “वह ऐसे हालात और तनाव में भी हंड्रेड लीग में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। मुझे लगता है कि यह सबसे ज्यादा दिल को छू लेने वाली कहानी होगी।”

बता दें कि राशिद अभी खुद यूके (युनाइटेड किंगडम) में हैं और द हंड्रेड लीग खेल रहे हैं। वहाँ वह ट्रेंट रॉकेट्स के लिए खेल रहे हैं, जबकि मोहम्मद नबी लंदन स्पिरिट्स की ओर से मैदान में हैं। इसके अलावा इन खबरों की पुष्टि भी हो गई है कि अफगानी क्रिकेटर्स राशिद खान और मोहम्मद नबी आईपीएल 2021 के दूसरे फेज में अपनी-अपनी फ्रेंचाइजी टीमों के लिए खेल पाएँगे।

न्यूज एजेंसी से बात करते हुए सनराइजर्स हैदराबाद के सीईओ के शंमुगम ने कहा कि अफगानिस्तान के दो खिलाड़ी आईपीएल के दूसरे चरण में टीम का हिस्सा होंगे। सीईओ ने ये भी कहा कि उन्होंने अभी अफगानिस्तान में क्या हालात रहे हैं उसको लेकर किसी तरह की चर्चा नहीं की है। लेकिन अभी के बातचीत के अनुसार दोनों यूएई के लिए फ्लाइट पकड़ेंगे।

उल्लेखनीय है कि आईपीएल 2021 के दूसरे फेज की शुरुआत 19 सितंबर से होने जा रही है। इस दौरान 31 मैच यूएई में खेले जाएँगे। आईपीएल के नजदीक होने पर और अफगान की ऐसी स्थिति पर क्रिकेट प्रेमी परेशान थे। इससे पहले राशिद खान ने 10 अगस्त को एक ट्वीट किया था। इस ट्वीट में राशिद ने लिखा था, “वैश्विक नेताओं! मेरा देश मुश्किल में है, बच्चों और औरतों समेत हजारों मासूम मारे जा रहे हैं, शहीद हो रहे हैं, घर और प्रॉपर्टी तोड़ी जा रही है, हजारों परिवार पलायन कर चुके हैं। हमें इस मुश्किल समय में मत छोड़िए। अफगानियों को मारना और अफगानिस्तान को तबाह करना बंद करिए। हम बस शांति चाहते हैं।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,823FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe