Saturday, July 2, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय255+ मौतें, 500 से अधिक घायल: अफगानिस्तान में भूकंप ने मचाई तबाही, सैकड़ों घर...

255+ मौतें, 500 से अधिक घायल: अफगानिस्तान में भूकंप ने मचाई तबाही, सैकड़ों घर हुए जमींदोज

अकेले पक्तिका में 90 से अधिक घर जमीदोज हो गए हैं। दर्जनों लोग अभी भी मलबे में दबे हुए हैं। तालिबान प्रशासन की तरफ से राहत और बचाव का काम किया जा रहा है।

अफगानिस्तान और पाकिस्तान में बुधवार (22 जून 2022) को 6.1 मैग्नीट्यूड की तीव्रता वाले भूकंप ने जमकर तबाही मचाई। भूकंप के तेज झटकों के चलते इमारतें धराशाई हो गईं। इस हादसे में अब तक सामने आई जानकारी के मुताबिक, 255+ लोगों की मौत हो गई है। जबकि, 500 से अधिक लोग घायल हुए हैं।

अमेरिकी जियोलॉजिकल सर्वे ने कहा है के भूकंप के कारण सबसे अधिक तबाही पक्तिका प्रान्त के चार जिलों में हुई है। इसके अलावा खोस्त और नांगरहार जिलों में भी भूकंप के कारण मौतें हुई हैं। तालिबान प्रशासन के प्राकृतिक आपदा मंत्रालय के प्रमुख मोहम्मद नसीम हक्कानी ने कहा कि अधिकांश मौतें पक्तिका प्रान्त में हुईं हैं, जहाँ 100 लोग मारे गए और 250 घायल हुए।

उन्होंने कहा कि खोस्त में 25 और नंगरहार प्रान्त पाँच और लोग मारे गए हैं। ऐसी कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं, जिनमें अफगानिस्तान में भूकंप के कारण हुई तबाही के मंजरों को देखा जा सकता है। यूनाइटेड स्टेट्स जियोलॉजिकल सर्वे ने कहा कि 6.1 तीव्रता का भूकंप पाकिस्तानी सीमा के पास खोस्त शहर से लगभग 44 किमी (27 मील) दूर 51 किमी (31 मील) की गहराई पर आया।

अफगानिस्तान की सरकारी न्यूज एजेंसी बख्तार के हवाले से एसोसिएटेड प्रेस ने कहा कि अकेले पक्तिका में 90 से अधिक घर जमीदोज हो गए हैं। दर्जनों लोग अभी भी मलबे में दबे हुए हैं। तालिबान प्रशासन की तरफ से राहत और बचाव का काम किया जा रहा है। गंभीर रूप से घायलों को एयरलिफ्ट किया गया है।

तालिबान सरकार के डिप्टी स्पोक्सपर्सन बिलाल करीमी के मुताबिक, भीषण भूकंप ने पक्तिका प्रान्त के चार जिलों को झकझोर कर रख दिया। इसमें हमारे सैकड़ों देशवासी मारे गए। करीमी ने सभी सहायता एजेंसियों से मदद की अपील की है।

इस प्राकृतिक आपदा को लेकर यूरोपियन मेडिटरेनियन सीस्मोलॉजिकल सेंटर ने दावा किया है कि ये भूकंप 500 किलोमीटर के दायरे में फैला था। इसकी जद में अफगानिस्तान, पाकिस्तान और भारत के 119 मिलियन लोग थे। पाकिस्तान के इस्लामाबाद में भी भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। बहरहाल पाकिस्तान में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नूपुर शर्मा पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी गैर-जिम्मेदाराना’: रिटायर्ड जज ने सुनाई खरी-खरी, कहा – यही करना है तो नेता बन जाएँ, जज क्यों...

दिल्ली हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज एसएन ढींगरा ने मीडिया में आकर बताया है कि वो सुप्रीम कोर्ट के जजों की टिप्पणी पर क्या सोचते हैं।

‘क्या किसी हिन्दू ने शिव जी के नाम पर हत्या की?’: उदयपुर घटना की निंदा करने पर अभिनेत्री को गला काटने की धमकी, कहा...

टीवी अभिनेत्री निहारिका तिवारी ने उदयपुर में कन्हैया लाल तेली की जघन्य हत्या की निंदा क्या की, उन्हें इस्लामी कट्टरपंथी गला काटने की धमकी दे रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,399FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe