Tuesday, August 3, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअफगानिस्तान: 11 दिनों में पहली बार अमेरिकी एयरस्ट्राइक, तालिबानी हमले में मारे गए थे...

अफगानिस्तान: 11 दिनों में पहली बार अमेरिकी एयरस्ट्राइक, तालिबानी हमले में मारे गए थे 20 जवान

पहली बार व्हाइट हाउस ने किसी आतंकी संगठन के नेता और अमेरिकी राष्ट्रपति के बीच बातचीत की सार्वजनिक तौर पर पुष्टि की थी। लेकिन, इसके चंद घंटे बाद हुए हमलों ने शांति समझौते पर ही सवाल खड़े कर दिए हैं।

अफगानिस्तान के बहु प्रचारित शांति समझौते पर खतरा मंडराने लगा है। अमेरिका ने तालिबानी ठिकानों को निशाना बनाकर हवाई हमले किए हैं। अमेरिकी सेना के एक प्रवक्ता ने बताया कि बीते 11 दिनों में तालिबानियों को निशाना बनाकर पहली बार हमला किया गया है। हमला दक्षिणी हेलमंद प्रांत के नाहर-ए-सराज में किया गया।

इससे पहले तालिबान के हमलों में मंगलवार रात अफगान सेना और पुलिस के कम से कम 20 कर्मियों की मौत हो गई थी। सरकारी अधिकारियों ने बुधवार को एएफपी को यह जानकारी दी। ख़ास बात यह है कि इस हमले से कुछ घंटे पहले ही अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा था कि उनकी बागियों के राजनीतिक प्रमुख (तालिबान नेता मुल्ला बरदार) से ‘बहुत अच्छी’ बातचीत हुई है। ज्ञात हो कि अफगानिस्तान करीब 40 साल से हिंसाग्रस्त है। वहाँ सबसे पहले सोवियत संघ (अब रूस) की सेनाएँ रहीं और अब अमेरिकी सेना मौजूद है।

ट्रम्प की तालिबानी नेता से, अफगान सरकार और अमेरिका के बीच 29 फरवरी को हुए शांति समझौते को लागू करने पर चर्चा हुई थी। ट्रम्प ने इस बातचीत को सफल बताते हुए तालिबान को ‘गुड लक’ भी कहा था। ट्रम्प और
मुल्ला बरदार की बातचीत के बाद व्हाइट हाउस ने एक बयान जारी किया था। इसके मुताबिक, किसी आतंकी संगठन के नेता और अमेरिकी राष्ट्रपति के बीच यह पहली ऐसी चर्चा है, जिसकी सार्वजनिक पुष्टि की जा रही है। इस वार्ता के चंद घंटे बाद हुए हमले ने शांति समझौते पर ही सवाल खड़े कर दिए हैं।

व्हाइट हाउस की तरफ से जारी बयान में कहा गया, “राष्ट्रपति ने तालिबान नेता से साफ कहा कि समझौते की सफलता के लिए हिंसा का फौरन बंद होना जरूरी है। दोनों पक्षों की बातचीत सकारात्मक रही। अमेरिका ने साफ किया है कि वो अफगानिस्तान में अमन बहाली के लिए कोशिशें जारी रखेगा।”

प्रांतीय काउंसिल के सदस्य सैफुल्लाह अमीरी ने बताया, “तालिबान के लड़ाकों ने कल रात कुंदुज जिले के इमाम साहिब जिले में सेना की कम से कम तीन चौकियों पर हमला किया। इसमें कम से कम 10 सैनिकों और चार पुलिस कर्मियों की मौत हो गई है।” विद्रोहियों ने मंगलवार रात मध्य उरूज़गन में भी पुलिस पर हमला कर दिया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

5 करोड़ कोविड टीके लगाने वाला पहला राज्य बना उत्तर प्रदेश, 1 दिन में लगे 25 लाख डोज: CM योगी ने लोगों को दी...

उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य बन गया है, जिसने पाँच करोड़ कोरोना वैक्सीनेशन का आँकड़ा पार कर लिया है। सीएम योगी ने बधाई दी।

अ शिगूफा अ डे, मेक्स द सीएम हैप्पी एंड गे: केजरीवाल सरकार का घोषणा प्रधान राजनीतिक दर्शन

अ शिगूफा अ डे, मेक्स द CM हैप्पी एंड गे, एक अंग्रेजी कहावत की इस पैरोडी में केजरीवाल के राजनीतिक दर्शन को एक वाक्य में समेट देने की क्षमता है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,842FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe