Saturday, July 24, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयहथियार इकट्ठा कर देश के खिलाफ छेड़ो जिहाद: अलकायदा की भारतीय समुदाय विशेष से...

हथियार इकट्ठा कर देश के खिलाफ छेड़ो जिहाद: अलकायदा की भारतीय समुदाय विशेष से अपील

इस बयान में आतंकी समूह अलकायदा ने भारत पर इल्जाम लगाया कि वे मुस्लिमों पर जारी वैश्विक युद्ध का हिस्सा है और भारत सरकार ने मुस्लिमों के खिलाफ कई कदम उठाए हैं। इसलिए अब भारतीय मुस्लिमों को इकट्ठा होना चाहिए और हथियार इकट्ठा करके जिहाद करना चाहिए।

आतंकियों को कश्मीर में भारत के खिलाफ आतंक फैलाने के लिए उकसाने वाला अलकायदा सरगना अयमान अल जवाहिरी ने अब भारत में मौजूद समुदाय विशेष के लोगों से इस्लामी जिहाद से जुड़ने की अपील की है। अरब प्रायद्वीप (AQAP) में यमन का अल कायदा विश्व स्तर पर प्रतिबंधित आतंकवादी समूह है जिसने इस संबंध में सोमवार को अपना बयान जारी किया।

इस बयान में आतंकी समूह अलकायदा ने भारत पर इल्जाम लगाया कि वे मुस्लिमों पर जारी वैश्विक युद्ध का हिस्सा हैं और भारत सरकार ने समुदाय विशेष के खिलाफ कई कदम उठाए हैं। इसलिए अब भारतीय मुस्लिमों को इकट्ठा होना चाहिए और हथियार इकट्ठा करके जिहाद करना चाहिए।

अलकायदा का ये बयान उस समय आया है, जब कुवैत सरकार के इस्लामिक सहयोग संगठन (OIC) और कई अरब कार्यकर्ताओं ने भारत को इस्लामोफोबिक बोला। तथा भारत में भी कट्टरपंथियों ने व मीडिया गिरोह ने देश में इस्लामोफोबिया पर लगातार ट्वीट किए।

बता दें, अरब देशों की ओर से भारत को लेकर ये बयान उस पाकिस्तानी प्रोपगेंडे के बाद आए था। जिसे पाक ने नागरिकता संशोधन कानून और कश्मीर के ख़िलाफ़ फैलाया था। साथ ही तबलीगी जमातियों की आलोचना पर भी विरोध जताया था।

गौरतलब है कि इससे पहले जवाहिरी की पिछले साल कश्मीर को लेकर एक वीडियो सामने आई थी। वीडियो में अयमान अल-जवाहिरी भारत के खिलाफ जहर उगलते देखा गया था और अपने संदेश में उसने घाटी के आतंकियों का गुणगान भी किया था।

अपने वीडियो में जवाहिरी ने कश्मीर को लेकर भारत को गीदड़ भभकी दी थी। जवाहिरी ने डोन्ट फॉरगेट कश्मीर नाम से एक संदेश जारी कर घाटी के आतंकियों का गुणगान किया। 

उस वीडियो में आतंकी ओसामा बिन लादेन, जिसे अमेरिका ने अपनी कार्रवाई में मारा था, उसके संगठन के प्रमुख ने कश्मीर के मुजाहिद्दिनों से कहा था कि वे भारतीय सेना और सरकार पर निरंतर हमला करते रहें। ताकि भारत की अर्थव्यवस्था कमजोर हो सके।

इसके अलावा 2017 में अल कायदा ने ‘उपमहाद्वीप के मुजाहिदीनों के लिए आचार संहिता’ नाम से एक विस्तृत दस्तावेज जारी किया था, जिसमें यह बताया गया था कि आतंकी संगठन किन-किन लोगों को निशाना बनाएगा?

इस दस्तावेज में लक्ष्य से लेकर प्रक्रिया तक, सबकुछ समझाया गया था। अलकायदा ने सेना के अधिकारियों पर जानलेवा हमले करने की बात कही थी। आतंकी संगठन ने कहा था कि सेना में जिस अधिकारी का रैंक जितना ऊपर होगा, वो उनके उतने ही ज्यादा निशाने पर होगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हमने मोदी को जिताया की रट लगाते हो, खुद 2 बार लड़े तो क्यों नहीं जीत गए?’ महिला पत्रकार ने उतार दी राकेश टिकैत...

'इंडिया 1 न्यूज़' की गरिमा सिंह ने राकेश टिकैत के इस बयान को लेकर भी सवाल पूछा जिसमें वो बार-बार कहते हैं कि इस सरकार को 'हमने जिताया'।

UP में सपा-AIMIM का मुस्लिम डिप्टी CM, मायावती का ब्राह्मण प्रेम और राहुल गाँधी को पसंद नहीं ‘अमेठी’ के आम: 2022 की तैयारी

राहुल गाँधी ने कहा कि उन्हें यूपी के आम का स्वाद पसंद नहीं। उन्होंने कहा कि उन्हें आंध्र प्रदेश के आम पसंद हैं। ओवैसी ने सपा को दिया गठबंधन का ऑफर।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,931FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe