Monday, April 22, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअमेरिकी राष्ट्रपति ने बताया मुस्लिम समाज पर हमला, हत्यारा निकला मुहम्मद सईद: शिया-सुन्नी 'लव...

अमेरिकी राष्ट्रपति ने बताया मुस्लिम समाज पर हमला, हत्यारा निकला मुहम्मद सईद: शिया-सुन्नी ‘लव स्टोरी’ में 4 मर्डर, खौफ से घरों में कैद था US का एक शहर

अब पुलिस का कहना है कि ये हत्याएँ आपसी दुश्मनी के कारण हो सकती है और मुस्लिम समाज के भीतर ही अलग-अलग समुदायों के बीच संघर्ष को भी इसके कारण के रूप में संदेहित किया जा रहा है।

न्यू मेक्सिको में 4 लोगों की सीरियल किलिंग के मामले में पुलिस ने मुहम्मद सईद नाम के एक अफगानी प्रवासी को गिरफ्तार किया है। ये घटना अल्बकरीक की है। मृतकों में सभी मुस्लिम ही थे। इस घटना के बाद से पुलिस ने न्यू मेक्सिको के सबसे बड़े शहर अल्बकरीक में स्थित प्रमुख मस्जिद के बाहर सुरक्षा कड़ी कर दी थी। इस मामले को पहले ‘इस्लामोफोबिया’ और मुस्लिमों से घृणा करने वाले की करतूत बताया जा रहा था। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बायडेन ने इसे ‘मुस्लिम समुदाय’ पर हमला बताते हुए इसकी निंदा की थी और कहा था कि प्रशासन मुस्लिम समाज के साथ मजबूती से खड़ा है।

अब पुलिस का कहना है कि ये हत्याएँ आपसी दुश्मनी के कारण हो सकती है और मुस्लिम समाज के भीतर ही अलग-अलग समुदायों के बीच संघर्ष को भी इसके कारण के रूप में संदेहित किया जा रहा है। जहाँ एक व्यक्ति की हत्या नवंबर 2021 में हुई थी, बाकी के तीनों की हत्याएँ पिछले दो सप्ताह में ही हुई हैं। मृतकों में सभी अफगान और पाकिस्तानी मूल के थे। पुलिस ने आरोपित के घर की भी तलाशी ली, जिससे पता चला कि वो मृतकों से परिचित था।

पुलिस ने कहा है कि वो अभी भी इन हत्याओं के पीछे की मंशा का पता लगा रहे हैं। आशंका जताई गई है कि मुस्लिमों के भीतर का सांप्रदायिक संघर्ष का इसमें रोल है, जिससे वो एक-दूसरे से घृणा करने लगते हैं। पुलिस का कहना है कि हत्या के कारण का ये एक हिस्सा हो सकता है, बड़े कारण के बारे में वो लोग पता लगा रहे हैं। मुहम्मद सईद पर पहले से घरेलू हिंसा का एक मामला दर्ज है। एक संदिग्ध कार की मदद से उसे पकड़ा गया, जिसका इस्तेमाल एक हत्या में हुआ था।

41 वर्षीय आफताब हुसैन और 27 वर्षीय अफजल हुसैन की हत्याओं के मामले में मुहम्मद सईद को आधिकारिक रूप से आरोपित बनाया गया है, जिनकी हत्याएँ क्रमशः 26 जुलाई और 1 अगस्त को हुई थीं। उसके बाद 25 साल के ट्रक ड्राइवर नईम हुसैन की हत्या हुई, जो 8 जुलाई को ही अमेरिका का नागरिक बना था। उससे पहले के दोनों मृतकों की अंतिम क्रिया में शामिल होने के कुछ ही घंटों बाद बाद उसे निशाना बनाया गया।

इस हत्या 62 वर्षीय मुहम्मद अहमदी की हुई थी, जो अफगानिस्तानी मूल का था। उसे 7 नवंबर, 2021 को मार डाला गया था। शहर के दक्षिणी-पूर्वी भाग में एक कैफे और एक दुकान के बाहर वो सिगरेट पी रहा था, तभी उसे शिकार बनाया गया। इस दुकान को वो अपने भाई के साथ मिल कर चलाता था। दो हत्याओं में इस्तेमाल किए गए बंदूक मुहम्मद सईद के के घर से मिली। बुलेट्स की जाँच कर पुलिस इस नतीजे पर पहुँची।

अल्बकरीक की 5.65 लाख जनसंख्या में 5000 मुस्लिम हैं, जो वहाँ की मस्जिद में नमाज पढ़ने आते हैं। ऐसे में वहाँ सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। यूनिवर्सिटी और न्यू मेक्सिको के कुछ छात्रों ने डर से शहर छोड़ दिया था, तो कई मुस्लिम परिवार घरों में बंद थे। शहर के मुस्लिम समाज के अध्यक्ष ने कहा कि शिया-सुन्नी समाज का एक निकाह इसका कारण हो सकता है, जिससे आरोपित गुस्से में था। मरने वालों में एक सुन्नी है। सईद 6 वर्षों से अमेरिका में रह रहा था। अल्बकरीक में अफगानिस्तान के कई मुस्लिम आकर बसे हैं, खासकर वहाँ से अमेरिकी सेना के निकलने के बाद।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुस्लिमों ने किया कॉन्ग्रेस का बायकॉट, देंगे भाजपा को वोट, चतरा में कहा – ‘जनजातीय समाज के बाद हमारी सबसे अधिक जनसंख्या, हमारे समुदाय...

झारखंड के चतरा में मुस्लिमों ने कॉन्ग्रेस प्रत्याशी केएन त्रिपाठी को वोट देने से इनकार कर दिया। उन्होंने भाजपा को वोट देने का ऐलान किया है।

बेटी नेहा की हत्या पर कॉन्ग्रेस नेता को अपनी ही कॉन्ग्रेसी सरकार पर भरोसा नहीं: CBI जाँच की माँग, कर्नाटक पुलिस पर दबाव में...

इससे पहले रविवार शाम को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केन्द्रीय मंत्री प्रल्हाद जोशी भी निरंजन से मिलने पहुँचे। उन्होंने भी फयाज के हाथों नेहा की हत्या में सीबीआई जाँच की माँग की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe