Saturday, June 22, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयभरी मेट्रो में चिल्लाई 'अल्लाह-हू-अकबर', कहा- खुद को उड़ा लूँगी: फ्रांसीसी पुलिस ने बुर्काधारी...

भरी मेट्रो में चिल्लाई ‘अल्लाह-हू-अकबर’, कहा- खुद को उड़ा लूँगी: फ्रांसीसी पुलिस ने बुर्काधारी महिला को गोली मारकर किया काबू, जाँच शुरू

पेरिस के सुरक्षा अधिकारिकों ने बताया कि महिला ने पुलिस के निर्देशों को मानने से इनकार कर दिया था और खुद को बम से उड़ाने की धमकी दिए जा रही थी। पुलिस ने उसे रोकने के लिए उसपर गोली चलाई, जो उसके पेट में लगी।

फ्रांस की राजधानी पेरिस में मंगलवार (अक्टूबर 31, 2023) को उस समय सनसनी मच गई, जब मेट्रो में सवारी कर रही एक बुर्काधारी महिला ने खुद को बम धमाके में उड़ाने की धमकी दी और वहीं जोर-जोर से ‘अल्लाह-हू-अकबर’ के नारे लगाने लगी। उसकी इस हरकत के बाद फ्रांसीसी पुलिस ने उसे काबू करने के लिए उसपर गोली चलाई। इस गोलीबारी में महिला घायल हो गई। पुलिस ने उसे पकड़ने के बाद जाँच की तो पाया कि उसके पास कोई विस्फोटक नहीं था।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, कट्टरपंथी महिला ने पेरिस के उपनगरीय इलाके में मेट्रो से यात्रा करते समय सभी यात्रियों के सामने ‘अल्लाह-हू-अकबर’ के नारे लगाए थे। उसने पूरी मेट्रो को ही बम से उड़ाने की धमकी दी थी। उसकी इन बातों से घबराए यात्रियों में से किसी एक ने इस संबंध में पुलिस को तलब किया। जिसके बाद सुरक्षाकर्मियों ने पहले मेट्रो स्टेशन को खाली कराया और उसके बाद महिला को पकड़ने के लिए उसे बिब्लियोथेक फ्रेंकोइस मिटर्रैंड स्टेशन पर गोली मारी।

पेरिस के सुरक्षा अधिकारिकों ने बताया कि महिला ने पुलिस के निर्देशों को मानने से इनकार कर दिया था और खुद को बम से उड़ाने की धमकी दिए जा रही थी। पुलिस ने उसे रोकने के लिए ही उसपर गोली चलाई, जो उसके पेट में लगी। बीबीसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पेट में गोली लगने के बाद उसकी हालत गंभीर लेकिन स्थिर बताई जा रही है।

हालाँकि, पुलिस सूत्रों ने बताया कि महिला के पास से कोई विस्फोटक या अन्य हथियार नहीं मिला। अब पुलिस इस बात की भी जाँच करेगी कि क्या महिला को गोली मारे बगैर गिरफ्तार किया जा सकता था?

बता दें कि यह घटना ऐसे समय में हुई है जब फ्रांस को 13 अक्टूबर के बाद से सुरक्षा अलर्ट के उच्चतम संभावित स्तर पर रखा गया है। उस समय मोहम्मद मोगुचकोव नाम के आतंकी ने डोमिनिक बर्नार्ड नाम के शिक्षक की हत्या कर दी थी। उनकी हत्या अर्रास में गैम्बेटा-कार्नोट स्कूल के बाहर की गई थी। 

इस घटना से फ्रांस में सुरक्षा चिंताएँ बढ़ गई हैं। पुलिस ने कहा है कि वह इस घटना के पीछे के कारणों की जाँच कर रही है। इस घटना से फ्रांस में आतंकवाद के खतरे की भी याद दिला दी है। फ्रांस में अतीत में कई आतंकवादी हमले हुए हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -