Saturday, May 18, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयखालिस्तानी गुटों की आपसी लड़ाई का परिणाम है हरदीप निज्जर हत्याकांड! कनाडा पुलिस ने...

खालिस्तानी गुटों की आपसी लड़ाई का परिणाम है हरदीप निज्जर हत्याकांड! कनाडा पुलिस ने 3 संदिग्धों को किया गिरफ्तार, गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई से लिंक का दावा

कनाडा की मीडिया में कहा गया है कि गिरफ्तार किए गए तीनों आरोपित भारतीय नागरिक हैं। ये सभी साल 2021 के बाद कनाडा गए थे। उनमें से कुछ ने छात्र वीजा का इस्तेमाल किया था। हालाँकि, कनाडा पहुँचने के बाद उनमें से किसी ने भी किसी शैक्षणिक संस्थान में दाखिला नहीं लिया और उनमें से किसी ने भी स्थायी निवास प्राप्त नहीं किया है।

खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर की पिछले साल कनाडा में हुई हत्या के मामले में स्थानीय पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार, ये तीनों कथित हिट स्क्वाड के सदस्य हैं। गिरफ्तार किए गए लोगों के नाम कमलप्रीत सिंह, करणप्रीत सिंह और करण बराड़ बताया जा रहा है। इन सभी के गैंगस्टर लॉरेस बिश्नोई गैंग से ताल्लुक रखने का भी दावा किया जा रहा है।

कनाडाई मीडिया हाउस सीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, ये तीनों जिस ग्रुप के सदस्य हैं, वह गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई से जुड़ा है। राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि लॉरेंस बिश्नोई, गोल्डी बराड़ और कई अन्य गैंगस्टरों के प्रतिबंधित आतंकी संगठन बब्बर खालसा इंटरनेशनल (BKI) और कई अन्य खालिस्तान समर्थक आतंकवादी संगठनों के साथ घनिष्ठ संबंध हैं।

इन गिरफ्तारियों से ऐसा लगता है कि निज्जर की हत्या खालिस्तानियों के बीच अंतर-गिरोह प्रतिद्वंद्विता के कारण हुई है। इसमें भारत सरकार की कोई भूमिका है। बता दें कि कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने भारत सरकार पर आरोप लगाया था कि इस हत्या के पीछे भारत है। इसको लेकर भारत ने कनाडा की सरकार से सबूत भी माँगा था। हालाँकि, कोई भी सबूत देने में अब तक नाकाम रहा है।

कनाडाई की मीडिया की इस रिपोर्ट के अनुसार, दो अलग-अलग प्रांतों से पुलिस ने शुक्रवार (3 मई 2024) को एक अभियान चलाकर इन तीनों लोगों को गिरफ्तार किया है। रिपोर्ट में कहा गया है, “सूत्रों ने कहा कि जाँचकर्ताओं ने कुछ महीने पहले कनाडा में कथित हिट दस्ते के सदस्यों की पहचान की थी और उन पर कड़ी निगरानी रखी गई थी।”

पुलिस के अनुसार, हिट स्क्वाड के सदस्य कम से कम तीन अन्य हत्या के मामलों में शामिल हो सकते हैं। इनमें से एक एडमॉन्टन में 11 वर्षीय लड़के की गोली मारकर हत्या भी शामिल है। अदालत में पुलिस द्वारा पेश किए गए दस्तावेजों में कमलप्रीत सिंह, करणप्रीत सिंह और करण बराड़ पर निज्जर की हत्या और साजिश के आरोप लगाए गए हैं। उम्मीद है कि पुलिस जल्द ही एक बयान जारी करेगी।

कनाडा की मीडिया में कहा गया है कि गिरफ्तार किए गए तीनों आरोपित भारतीय नागरिक हैं। ये सभी साल 2021 के बाद कनाडा गए थे। उनमें से कुछ ने छात्र वीजा का इस्तेमाल किया था। हालाँकि, कनाडा पहुँचने के बाद उनमें से किसी ने भी किसी शैक्षणिक संस्थान में दाखिला नहीं लिया और उनमें से किसी ने भी स्थायी निवास प्राप्त नहीं किया है।

गुरु नानक सिख गुरुद्वारा साहिब के प्रमुख और भारत में वांछित खालिस्तानी आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की 18 जून 2023 को ब्रिटिश कोलंबिया के सरे में अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। 18 सितंबर को कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने हत्या के लिए भारत को दोषी ठहराया था। हालाँकि, भारत ने इस आरोप को खारिज कर दिया था।

इसके कारण दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंध तक खराब हो गए। हालाँकि, भारत ने भी कनाडा की सरकार से अपनी धरती पर भारत विरोधी तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आग्रह किया। तब से कनाडाई सरकार बिना कोई सबूत दिए कहती रही है कि निज्जर की हत्या भारतीय सरकार के आदेश पर की गई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘AAP झूठ की बुनियाद पर बनी पार्टी, इसकी विश्वसनीयता शून्य नहीं, माइनस में’ – BJP के साथ स्वाति मालीवाल मुद्दे पर जेपी नड्डा का...

दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने कहा कि स्वाति मालीवाल लंबे समय से भाजपा नेताओं के संपर्क में हैं और उनके ही इशारे पर ये साजिश रची गई।

स्वाति मालीवाल बन गई INDI गठबंधन में गले की फाँस? राहुल गाँधी की रैली के लिए केजरीवाल को नहीं भेजा गया न्योता, प्रियंका कह...

दिल्ली में आयोजित होने वाली राहुल गाँधी की रैली में शामिल होने के लिए AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को न्योता नहीं दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -