Monday, December 5, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयमूक-बधिर कोमल का अपहरण: अलीम, बशर, अजीम माँ को भेज रहे नंगी तस्वीरें, Pak...

मूक-बधिर कोमल का अपहरण: अलीम, बशर, अजीम माँ को भेज रहे नंगी तस्वीरें, Pak पुलिस नहीं सुन रही शिकायत

अपहृत युवती कोमल की माँ ने बताया कि वो लड़की को घर से खींच कर ले गए हैं और उन्होंने पुलिस को सब कुछ समझाया लेकिन फिर भी वो कोई एक्शन नहीं ले रही। पीड़ित परिजनों ने अपहरण करने वालों का नाम अलीम, बशर और अजीम बताया है।

पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के साथ अत्याचार एक आम बात है। अब ख़बर आई है कि लाहौर के संधा में एक ईसाई लड़की का अपहरण कर लिया गया है। लड़की दिव्यांग है। वो गूँगी और बहरी हैं। यौन दासता (Sex Slavery) के लिए उनका अपहरण किया गया है।

पाकिस्तान का ये पीड़ित ईसाई परिवार व्यथित है, कोई उनका दर्द सुनने वाला नहीं है। अपहरणकर्ताओं ने पीड़ित परिजनों को अपहृत लड़की की नंगी तस्वीरें भेजी हैं। परिजन कह रहे हैं कि पुलिस सब कुछ जानते हुए भी कार्रवाई नहीं कर रही।

पुलिस इसीलिए कार्रवाई नहीं कर रही है क्योंकि पीड़ित परिवार ईसाई है, गैर-मुस्लिम है, अर्थात अल्पसंख्यक समुदाय से आता है। अपहृत युवती कोमल की माँ ने बताया कि लड़की को घर से खींच कर ले गए हैं और उन्होंने पुलिस को सब कुछ समझाया लेकिन फिर भी वो कोई एक्शन नहीं ले रही। पीड़ित परिजनों ने अपहरण करने वालों का नाम अलीम, बशर और अजीम बताया है। ये घटना मार्च की ही है।

ये घटना लाहौर के शिबली शहर की है। हालाँकि, इमरान ख़ान सरकार में शिरीन मज़ारी ने ईसाई लड़की के अपहरण वाली इस घटना का संज्ञान लिया है। उन्होंने दावा किया कि इस घटना पर उनकी नज़र है और जल्द ही सारे दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।

मजारी ने बताया कि उन्होंने इस मामले की एफ़ाइआर कॉपी भी मँगाई है। उन्होंने इस घटना को डरावना और शर्मनाक करार दिया। स्थानीय इंस्पेक्टर का कहना है कि केस दर्ज हो गया है। डीआईजी ने बताया कि आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी भी हुई है।

इससे पहले पाकिस्तान में 14 साल की एक लड़की को अगवा कर लिया गया था। फिर जबरन धर्म परिवर्तन करवा अपहरणकर्ता के साथ ही उसका निकाह करवा दिया गया। ये घटना पंजाब प्रांत के फैसलाबाद के मदीना टाउन की थी। कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौरान 12 अप्रैल 2020 को कराची में एक हिंदू परिवार के इस्लाम कबूल करने से इनकार कर देने पर उसके ऊपर हमला किया गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गुजरात में भूपेंद्र तोड़ेंगे नरेंद्र का रिकॉर्ड तो हिमाचल में कड़ी टक्कर में BJP आगे: देखें किस चैनल का एग्जिट पोल क्या कहता है,...

एग्जिट पोल के अनुसार, गुजरात और हिमाचल में भाजपा जबकि दिल्ली MCD में आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के आसार जताए जा रहे हैं। देखें आँकड़े।

‘रूस से यूरोप खरीद रहा सबसे ज्यादा ईंधन’: S जयशंकर ने भारत को ज्ञान देने वाले पश्चिमी देशों को आँकड़ों के साथ लताड़ा, कहा...

जयशंकर ने कहा कि यूरोप ने उन 10 देशों को मिलाकर रूस से ज्‍यादा तेल, गैस और कोयले का आयात किया है, जो इस सूची में उसके बाद आते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,950FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe