Friday, May 24, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'पार्किंग में सेक्स, गंदे कंमेट, छेड़छाड़': एलन मस्क की टेस्ला यौन शोषण का भी...

‘पार्किंग में सेक्स, गंदे कंमेट, छेड़छाड़’: एलन मस्क की टेस्ला यौन शोषण का भी अड्डा, 6 महिला कर्मचारियों ने ठोका केस

एलन मस्क की टेस्ला कंपनी की 6 कर्मचारियों ने कैलिफोर्निया में अपनी शिकायत दी है। वहीं स्पेस एक्स कंपनी की पूर्व कर्मचारी ने भी बताया है कि कैसे उसके साथ नौकरी के दौरान अभद्रता की जाती थी।

दुनिया के सबसे अमीर लोगों में शामिल एलन मस्क की कंपनियों में यौन उत्पीड़न की घटनाएँ अब लगातार बढ़ रही हैं। कुछ समय पहले टेस्ला की महिला कर्मचारियों ने आरोप लगाया था कि वहाँ पुरुष कर्मचारी उनके स्तनों को घूरते हैं, उन पर कमेंट करते हैं। अब इसी कंपनी की 6 कर्मचारियों ने कैलिफोर्निया में अपनी शिकायत दी है। वहीं स्पेस एक्स कंपनी की पूर्व कर्मचारी ने भी बताया है कि कैसे उसके साथ नौकरी के दौरान अभद्रता की जाती थी।

स्पेस एक्स कंपनी की एक पूर्व कर्मचारी ने मंगलवार (दिसंबर 14, 2021) को ऑनलाइन पोस्ट के जरिए कंपनी पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं। एशले कोसाक नामक इंजीनियर ने बताया कि कैसे कंपनी में कई बार यौन शोषण की कई घटनाएँ हुईं, लेकिन आरोपितों को दंडित करने के लिए कोई कदम नहीं उठाए गए।

अपने आर्टिकल में कोसाक ने लिखा, “मुझे मेरे रास्ते, एक अपमानजनक परविरश के बाद मिले, मैंने अपना घर बहुत छोटी उम्र में छोड़ दिया था, बेघर होने के बाद और कॉलेज में यौन उत्पीड़न झेलने के बाद मुझे मेरे रास्ते मिले और लीडिंग इंजिनियरिंग कंपनी में मैंने नौकरी पाई। … लेकिन मुझे स्पेस एक्स में स्थिति को संभालने का कोई तरीका नहीं मिला।”

वह लिखती हैं कि उनके पास कंपनी को छोड़ने के अलावा कोई और उपाय नहीं था। कोसाक का आरोप है कि कंपनी में यौन उत्पीड़न कई स्तर पर होता है। एक वाकया साझा करते हुए वह कहती हैं कि एक बार जब वह इन्टर्न थी तो एक अन्य सहकर्मी ने लिविंग क्वार्टर में उनके नितंबों को पकड़ लिया। इसके बाद एक बॉन्डिंग इवेंट में एक अन्य पुरुष सहकर्मी ने उनकी शर्ट पर हाथ फेरते हुए उनकी कमर के नीचे और छाती को छुआ।

इन घटनाओं की सूचना कंपनी के एचआर को दी गई लेकिन कोई एक्शन नहीं हुआ। वो सहकर्मी फिर भी टीम में थे। वह कहती हैं कि हर वाकये की शिकायत एचआर से किए जाने के बाद भी कोई एक्शन नहीं लिया जाता था। इसके बदले उनसे कहा जाता था कि ये मामले बेहद निजी है कि इसपर आरोपितों से बात हो। पीड़िता के मुताबिक उसने कई बार इस मामले में शिकायतें दी लेकिन कोई समाधान होने की बजाय उन्हें अनसुना कर दिया गया।

कोसाक कहती हैं कि स्पेस एक्स में काम करने वाले कई पुरुष महिलाओं की इच्छा के विरुद्ध, उन्हें काम करते हुए घूरते हैं और हर सोशल इवेंट को अपने लिए एक अवसर की तरह देखते हैं जहाँ वह महिलाओं को डेट कर सकें। जानकारी के मुताबिक कोसाक ने स्पेस एक्स में दो साल से ज्यादा काम किया है। वह अब एप्पल में ऑपरेशन प्रोग्राम मैनेजर हैं। वह कहती हैं कि कुछ समय पहले उन्हें पता चला था कि न्यू स्पेस एक्स इंटर्न को इस बात की ट्रेनिंग दी गई थी कि वो कैसे शोषण के बारे में रिपोर्ट करें। वह कहती हैं कि एक ओर ऐसी ट्रेनिंग दी जाती हैं और दूसरी ओर आरोपितों के ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई नहीं होती।

गौरतलब है कि एलन मस्क की स्पेस एक्स के अलावा टेस्ला कंपनी से भी यौन उत्पीड़न के जो मामले आए हैं, उसके संबंध में मंगलवार को ही 6 महिला कर्मचारियों ने अपनी शिकायत की और कैलिफोर्निया के एक कोर्ट में अलग-अलग मुकदमे दायर किए। इनमें पाँच महिला कर्मचारी टेस्ला की फ्रीमोंट फैक्ट्री में कार्यरत हैं या वहाँ काम कर चुकी हैं, वहीं 1 महिला साउथ कैलिफोर्निया में कंपनी के सर्विस सेंटर्स की कर्मचारी रह चुकी हैं। इन महिलाओं की शिकायत भी यही है कि इनके सहकर्मी इन पर बुरी नजर रखते हैं और जोर जबरदस्ती करने की कोशिश करते हैं।

मिशैल कुर्रान नामक महिला का आरोप है कि उनका कंपनी में 2 माह उत्पीड़न हुआ जिसके बाद उन्होंने नौकरी को छोड़ दिया। वह कहती हैं कि प्लांट की पार्किंग में सेक्स किया जाता है। उनके अलावा अलीसा ब्लिकमैन, एलिज ब्राउन, समीरा शेफर्ड, जेसिका ब्रूक्स, एडेन मेडेरोस ने भी अपनी शिकायत दी है। कुछ ने मस्क पर सीधे तौर पर इल्जाम लगाए। एक महिला कर्मचारी ने कहा कि मस्क के ट्वीट सेक्स और ड्रग्स से प्रेरित रहते हैं। कुछ का कहना है कि जब उन्होंने इन घटनाओं की शिकायत की तो उन्हें कंपनी की ओर से जो फायदें मिलते थे उस पर रोक लग गई।

बता दें कि यौन उत्पीड़न के अलावा टेस्ला कंपनी पर नस्लीय उत्पीड़न के भी आरोप लगे हैं। इसके चलते कंपनी को कोर्ट ने अक्टूबर में एक ब्लैक कर्मचारी को 137 मिलियन डॉलर का भुगतान (1042 करोड़ रुपया) करने का आदेश दिया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हिरोइन लैला खान की हत्या मामले में सौतेले अब्बा को हुई ‘सजा-ए-मौत’: फार्म हाउस में गाड़ दी परिवार के 6 लोगों की लाश, 13...

बॉलीवुड अभिनेत्री लैला खान और उनके पूरे परिवार की हत्या मामले में अभिनेत्री के सौतेले पिता को कोर्ट ने सजा-ए-मौत सुनाई है।

UPA सरकार ने ब्रह्मोस मिसाइल के निर्यात को रोका, लीक हुई चिट्ठियों से खुलासा: मोदी सरकार ने की जो हजारों करोड़ की डील, वो...

UPA सरकार ने जानबूझकर ब्रह्मोस मिसाइल के निर्यात से जुड़ी फाइलों को अटकाया। इंडोनेशियाई टीम का दौरा रोक दिया गया। बातचीत तक रोक दी गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -