Saturday, March 6, 2021
Home रिपोर्ट अंतरराष्ट्रीय कोरोना वायरस के लिए भारत और अमेरिका मिलकर ढूँढेंगे आयुर्वेद के ज़रिए क्लिनिकल समाधान,...

कोरोना वायरस के लिए भारत और अमेरिका मिलकर ढूँढेंगे आयुर्वेद के ज़रिए क्लिनिकल समाधान, 3 चरण का कार्यक्रम तय

इस योजना को सफल बनाने के लिए अमेरिका की संस्थाओं और भारत की फार्मा कंपनीज ने 3 चरण का कार्यक्रम तय किया है। इससे केवल भारत या अमेरिका का ही नहीं बल्कि दुनिया के करोड़ों लोगों का फ़ायदा होगा जो इस महामारी का सामना कर रहे हैं।

आयुर्वेद के संदर्भ में कोरोना वायरस से जुड़ी एक बड़ी ख़बर सामने आ रही है। भारत और अमेरिका के कई आयुर्वेद विशेषज्ञ और शोधकर्ता कोरोना वायरस से लड़ने के लिए साझा क्लिनिकल ट्रायल शुरू करने की योजना बना रहे हैं। इसकी जानकारी अमेरिका के भारतीय दूत तरणजीत सिंह संधू ने दी। 

8 जुलाई के दिन भारतीय मूल के कई अमेरिकी वैज्ञानिकों, शिक्षाविदों और और चिकित्सकों ने इस मुद्दे पर तरणजीत से वर्चुअल संवाद करके निष्कर्ष निकाला। संधू ने कहा फिलहाल दोनों देशों के वैज्ञानिकों का एक बड़ा समूह कोरोना वायरस से लड़ने के लिए काम शुरू करने वाला है। इसके बाद संधू ने कहा कि तमाम संस्थाओं द्वारा साझा अनुसंधान और प्रशिक्षण कार्यक्रमों के सहारे आयुर्वेद का प्रचार भी किया जाएगा। 

इतना ही नहीं दोनों देशों के कई आयुर्वेद विशेषज्ञ और शोधकर्ता कोरोना वायरस से लड़ने के लिए साझा क्लिनिकल ट्रायल शुरू करने की योजना बना रहे हैं। साथ ही हमारे वैज्ञानिक इस मामले पर उपयुक्त जानकारी और संसाधन भी साझा कर रहे हैं। जिससे जल्द से जल्द बेहतर नतीजें हासिल हों। इंडो यूएस साइंस टेक्नोलॉजी फोरम (IUSSTF) ने हमेशा ही विज्ञान, तकनीक और नवप्रवर्तन से जुड़े मुद्दों पर ज़ोर दिया है। 

कोरोना वायरस से जुड़ी चुनौतियों पर विस्तार से चर्चा करने के लिए IUSSTF ने साझा शोध कार्यक्रम और स्टार्ट अप से जुड़ी परियोजनाओं को बढ़ावा देने का निवेदन किया था। जिसके बाद इस मुद्दे पर बड़ी संख्या में प्रस्ताव प्राप्त हुए थे, जिनका फिलहाल दोनों देशों के विशेषज्ञ अवलोकन कर रहे हैं। इसके अलावा संधू ने कहा भारतीय फार्मास्यूटिकल कंपनी किफ़ायती दाम की दवाएँ और वैक्सीन (टीका) उपलब्ध कराने के मामले में वैश्विक स्तर पर अगुवाई करती हैं। ऐसे में कोरोना वायरस जैसी महामारी से जारी इस लड़ाई में इनकी भूमिका अहम साबित होगी। 

इस योजना को सफल बनाने के लिए अमेरिका की संस्थाओं और भारत की फार्मा कंपनीज ने 3 चरण का कार्यक्रम तय किया है। इससे केवल भारत या अमेरिका का ही नहीं बल्कि दुनिया के करोड़ों लोगों का फ़ायदा होगा जो इस महामारी का सामना कर रहे हैं। संधू ने यह भी कहा कि इस अनुसंधान के तहत हासिल होने वाले नतीजों से महामारी का सामना करने में काफी मदद मिलेगी। इसके ज़रिए टेलीमेडिसिन और टेलीहेल्थ समेत कई डिजिटल प्लैटफॉर्म्स में भी बड़े पैमाने पर बदलाव होगा। 

स्वास्थ्य के क्षेत्र में दो देशों की तरफ से उठाए गए इतने बड़े कदम का सबसे पहला उद्देश्य यही है कि बीमारी को बुनियादी और क्लिनिकल स्तर पर समझा जाए। एक दिग्गज कूटनीतिज्ञ के मुताबिक़ भारत में एनआईएच के खर्च पर ऐसे 200 कार्यक्रम चल रहे हैं जो स्वास्थ्य क्षेत्र में बड़े सुधार लेकर आएँगे। इस योजना में एनआईएच से संबंधित 20 संस्थान भी शामिल हैं। 

वैक्सीन एक्शन प्रोग्राम के तहत ROTAVAC वैक्सीन तैयार की गई थी, जो रोटा वायरस को ख़त्म करने में मदद करता है। जिस वायरस की वजह से डायरिया जैसी गंभीर बीमारी होती है। वैक्सीन को तैयार करने वाला समूह भारतीय ही था, ‘भारत बायोटेक’। भारतीय कंपनी द्वारा तैयार किए गए इस वैक्सीन का दाम भी बहुत कम था। वैक्सीन एक्शन प्रोग्राम के तहत टीबी, इन्फ़्लुएन्ज़ा और चिकनगुनिया जैसी बीमारियों की भी वैक्सीन तैयार की गई है।

इसके बाद संघू ने कहा वैक्सीन एक्शन प्रोग्राम की इस बैठक में दोनों देशों के जानकार शामिल हुए हैं। वह जल्द ही कोरोना वायरस पर भी अच्छे नतीजे हासिल कर लेंगे। अमेरिका और भारत के वैज्ञानिकों-जानकारों के बीच हुई इस बैठक में शामिल हुए लोग अलग मुद्दों के भी जानकार थे। आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस, क्वांटम इन्फोर्मेशन साइंस, बायो मेडिकल इंजीनियरिंग, रोबोटिक, मेकैनिकल इंजीनियरिंग, पृथ्वी और समुद्र विज्ञान, भौतिक विज्ञान, अंतरिक्ष विज्ञान और स्वास्थ्य विज्ञान।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ओडिशा के टाइगर रिजर्व में आग पशु तस्करों की चाल या प्रकृति का कोहराम? BJP नेता ने कहा- असम से सीखें

सिमिलिपाल का नाम 'सिमुल' से आया है, जिसका अर्थ है सिल्क कॉटन के वृक्ष। ये एक राष्ट्रीय अभयारण्य और टाइगर रिजर्व है।

माँ-बाप-भाई एक-एक कर मर गए, अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होने दिया: 20 साल विष्णु को किस जुर्म की सजा?

20 साल जेल में बिताने के बाद बरी किए गए विष्णु तिवारी के मामले में NHRC ने स्वत: संज्ञान लिया है।

मनसुख हिरेन की लाश, 5 रुमाल और मुंबई पुलिस का ‘तावड़े’: पेंच कई, ‘एंटीलिया’ के बाहर मिली थी विस्फोटक लदी कार

मनसुख हिरेन की लाश मिलने के बाद पुलिस ने इसे आत्महत्या बताया था। लेकिन, कई सवाल अनसुलझे हैं। सवाल उठ रहे कहीं कोई साजिश तो नहीं?

‘वह शिक्षित है… 21 साल की उम्र में भटक गया था’: आरिब मजीद को बॉम्बे हाई कोर्ट ने दी बेल, ISIS के लिए सीरिया...

2014 में ISIS में शामिल होने के लिए सीरिया गया आरिब मजीद जेल से बाहर आ गया है। बॉम्बे हाई कोर्ट ने उसकी जमानत बरकरार रखी है।

अमेज़न पर आउट ऑफ स्टॉक हुई राहुल रौशन की किताब- ‘संघी हू नेवर वेंट टू अ शाखा’

राहुल रौशन ने हिंदुत्व को एक विचारधारा के रूप में क्यों विश्लेषित किया है? यह विश्लेषण करते हुए 'संघी' बनने की अपनी पेचीदा यात्रा को उन्होंने साझा किया है- अपनी किताब 'संघी हू नेवर वेंट टू अ शाखा' में…"

मुंबई पुलिस अफसर के संपर्क में था ‘एंटीलिया’ के बाहर मिले विस्फोटक लदे कार का मालिक: फडणवीस का दावा

मनसुख हिरेन ने लापता कार के बारे में पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई थी। आज उसी हिरेन को मुंबई में एक नाले में मृत पाया गया। जिससे यह पूरा मामला और भी संदिग्ध नजर आ रहा है।

प्रचलित ख़बरें

‘शिवलिंग पर कंडोम’ से विवादों में आई सायानी घोष TMC कैंडिडेट, ममता बनर्जी ने आसनसोल से उतारा

बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए टीएमसी ने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। इसमें हिंदूफोबिक ट्वीट के कारण विवादों में रही सायानी घोष का भी नाम है।

16 महीने तक मौलवी ‘रोशन’ ने चेलों के साथ किया गैंगरेप: बेटे की कुर्बानी और 3 करोड़ के सोने से महिला का टूटा भ्रम

मौलवी पर आरोप है कि 16 माह तक इसने और इसके चेले ने एक महिला के साथ दुष्कर्म किया। उससे 45 लाख रुपए लूटे और उसके 10 साल के बेटे को...

माँ-बाप-भाई एक-एक कर मर गए, अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होने दिया: 20 साल विष्णु को किस जुर्म की सजा?

20 साल जेल में बिताने के बाद बरी किए गए विष्णु तिवारी के मामले में NHRC ने स्वत: संज्ञान लिया है।

‘मैं 25 की हूँ पर कभी सेक्स नहीं किया’: योग शिक्षिका से रेप की आरोपित LGBT एक्टिविस्ट ने खुद को बताया था असमर्थ

LGBT एक्टिविस्ट दिव्या दुरेजा पर हाल ही में एक योग शिक्षिका ने बलात्कार का आरोप लगाया है। दिव्या ने एक टेड टॉक के पेनिट्रेटिव सेक्स में असमर्थ बताया था।

‘जाकर मर, मौत की वीडियो भेज दियो’ – 70 मिनट की रिकॉर्डिंग, आत्महत्या से ठीक पहले आरिफ ने आयशा को ऐसे किया था मजबूर

अहमदाबाद पुलिस ने आयशा और आरिफ के बीच हुई बातचीत की कॉल रिकॉर्ड्स को एक्सेस किया। नदी में कूदने से पहले आरिफ से...

फोन कॉल, ISIS कनेक्शन और परफ्यूम की बोतल में थर्मामीटर का पारा: तिहाड़ में हिंदू आरोपितों को मारने की साजिश

तिहाड़ में हिंदू आरोपितों को मारने की साजिश के ISIS लिंक भी सामने आए हैं। पढ़िए, कैसे रची गई प्लानिंग।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,301FansLike
81,953FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe