Tuesday, July 16, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय₹45 करोड़ के बँगले में मृत भारतीय परिवार, पास में पड़ी बंदूक... अमेरिका में...

₹45 करोड़ के बँगले में मृत भारतीय परिवार, पास में पड़ी बंदूक… अमेरिका में एडटेक कंपनी के CEO के साथ-साथ पत्नी और 18 साल की बेटी की भी मिली लाश

मृतकों में 57 वर्षीय राकेश कमल, उनकी पत्नी, 54 वर्षीय टीना और 18 वर्षीय बेटी एरियाना शामिल हैं। इन तीनों के शव गुरुवार (28 दिसंबर, 2023) को शाम 7 बजे बरामद हुए।

अमेरिका में संभावित घरेलू हिंसा के मामले में पूरा परिवार खत्म हो गया। भारतीय मूल के दंपत्ति और उनकी इकलौती बेटी का शव घर में ही पड़ा मिला, शव के पास ही बंदूक भी पड़ी मिली है। स्थानीय प्रशासन ने शुरुआती तौर पर इसे घरेलू हिंसा का मामला माना है, लेकिन किसी नतीजे पर पहुँचने से पहले जाँच रिपोर्ट आने का इंतजार करने को कहा है। इस घटना में कभी एडटेक कंपनी के सीईओ रहे राकेश उर्फ रिकी कमल, उनकी पत्नी टीना कमल और 18 साल की बेटी एरियाना कमल की मौत हो गई है।

ये मामला अमेरिका के मैसाचुसेट्स राज्य का है। यहाँ राजधानी बोस्टन से 32 किमी दूर कस्बे डोवर की आलीशान कोठी में रहने वाला परिवार मृत मिला। कोई रिश्तेदार पास से गुजर रहा था, जिसकी परिवार से कई दिनों से बात नहीं हो पाई थी, तो वो घर पहुँचा और इस हादसे की खबर स्थानीय प्रशासन को दी। मृतकों में 57 वर्षीय राकेश कमल, उनकी पत्नी 54 वर्षीय टीना और 18 वर्षीय बेटी एरियाना शामिल हैं।

मृतकों में 57 वर्षीय राकेश कमल, उनकी पत्नी, 54 वर्षीय टीना और 18 वर्षीय बेटी एरियाना शामिल हैं। इन तीनों के शव गुरुवार (28 दिसंबर, 2023) को शाम 7 बजे बरामद हुए। इस मामले में नॉरफ़ॉक डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी (डीए) माइकल मॉरिससी का बयान आया है, उन्होंने बताया है कि ये हादसा ‘घरेलू हिंसा’ से जुड़ा हो सकता है, क्योंकि राकेश उर्फ रिकी के शव के पास से हथियार भी बरामद हुआ है।

ऑनलाइन रिकॉर्ड से पता चलता है कि दंपति को हाल के वर्षों में वित्तीय समस्याओं का सामना करना पड़ा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, परिवार की कोठी की अनुमानित कीमत 5.45 मिलियन डॉलर है, वह भी एक साल पहले बेच दी गई थी। इस कोठी में 11 बेडरूम हैं, जिसे उन्होंने साल 2019 में खरीदा था। लेकिन बाद में उनकी एडटेक कंपनी एडुनोवा दिवालिया हो गई थी। उनकी पत्नी ने भी पिछले साल खुद के दिवालिया होने की अर्जी दी थी। वहीं, उन्होंने इस कोठी को 3 मिलियन डॉलर में बेच दिया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -