Sunday, May 29, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयट्रांसजेंडर तैराक थॉमस के पास पुरुष जननांग, लॉकर रूम में वह ढँकती नहीं': पेन्सिलवेनिया...

ट्रांसजेंडर तैराक थॉमस के पास पुरुष जननांग, लॉकर रूम में वह ढँकती नहीं’: पेन्सिलवेनिया टीम की महिला तैराकों ने कहा- लॉकर रूम में हम असहज

विरोध करने वाली महिला तैराक का कहना है कि लीया को इस बात का फर्क नहीं पड़ता है कि उसके कारण दूसरों पर क्या प्रभाव पड़ता है। यह वास्तव में परेशान करने वाला है। थॉमस के साथ 35 महिला तैराक अपना लॉकर रूम शेयर करने के लिए विवश हैं।

अमेरिका के पेन्सिलवेनिया यूनिवर्सिटी के महिला तैराकों का कहना है कि उनकी टीममेट ट्रांसजेंडर महिला तैराक लीया थॉमस के पास पुरुष जननांग है और इसे वह ढँकती नहीं हैं। उनका यह भी आरोप है कि वह अभी भी महिलाओं के प्रति आकर्षित होती हैं और उनकी एक गर्लफ्रेंड भी है। इसलिए उनके साथ लॉकर रूम शेयर करने में वे असहज महसूस करती हैं।

डेली मेल के साथ बातचीत में एक महिला तैराक ने कहा कि लीया जब खुद को तौलिया में रखती है, तब उसका नग्न शरीर का अधिकांश हिस्सा दिखता है और कई लोगों ने उसके पुरुष जननांग को देखा है। महिला तैराकों का कहना है कि इसकी शिकायत उन्होंने टीम के कोच से की, लेकिन उन्होंने इस पर ध्यान नहीं दिया।

महिला तैराक ने आगे बताया कि लीया को इस बात का फर्क नहीं पड़ता है कि उसके कारण दूसरों पर क्या प्रभाव पड़ता है। यह वास्तव में परेशान करने वाला है। थॉमस के साथ 35 महिला तैराक अपना लॉकर रूम शेयर करने के लिए विवश हैं। टीममेट का यह भी कहना है कि थॉमस महिलाओं के अटेंशन को एन्जॉय करती हैं।

22 वर्षीय थॉमस ने इस मामले पर सार्वजनिक रूप से बात नहीं की है। माना जा रहा है कि ‘स्पोर्ट्स इलस्ट्रेटेड’ के साथ एक जैविक पुरुष के रूप में ट्रांसजेंडर होने की अपनी कहानी साझा करने के लिए उन्होंने एक समझौता किया है।

बता दें कि थॉमस पहले तीन साल तक तक पुरुष तैराकी टीम की हिस्सा थीं, लेकिन बाद में उन्हें महिला तैराकी में शामिल कर लिया गया। महिला तैराकी टीम में आने के बाद उन्होंने टीम के कई रिकॉर्ड को तोड़ा। कहा जा रहा है कि इसके कारण भी उन पर आरोप लगाए जा रहे हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘शरिया लॉ में बदलाव कबूल नहीं’: UCC के विरोध में देवबंद के मौलवियों की बैठक, कहा – ‘सब सह कर हम 10 साल से...

देवबंद में आयोजित 'जमीयत उलेमा ए हिन्द' की बैठक में UCC का विरोध किया गया। मौलवियों ने सरकार पर डराने का आरोप लगाया। कहा - ये देश हमारा है।

‘कब्ज़ा कर के बनाई गई मस्जिद को गिरा दो’: मंदिरों को ध्वस्त कर बनाए गए मस्जिदों पर बोले थे गाँधी – मुस्लिम खुद सौंप...

गाँधी जी ने लिखा था, "अगर ‘अ’ (हिन्दू) का कब्जा अपनी जमीन पर है और कोई शख्स उसपर कोई इमारत बनाता है, चाहे वह मस्जिद ही हो, तो ‘अ’ को यह अख्तियार है कि वह उसे गिरा दे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
189,861FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe