Monday, July 4, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'अल्लाहु अकबर' का नारा और चाकू से हमला, 1 की मौत: जर्मनी के शरणार्थी...

‘अल्लाहु अकबर’ का नारा और चाकू से हमला, 1 की मौत: जर्मनी के शरणार्थी कैम्प में अफगान ने दिया अंजाम

जर्मनी ने 2015 में यूरोप में शरणार्थी समस्या के वक्त खुल कर इस्लामी मुल्कों से शरणार्थियों को अपने देश आने की छूट दे रखी थी, लेकिन अब यही उसके गले की फाँस बनता जा रहा है।

जर्मनी के एक शरणार्थी कैम्प में अफगानिस्तान के एक व्यक्ति ने एक अन्य व्यक्ति की हत्या कर दी। 25 वर्षीय व्यक्ति ने ‘अल्लाहु अकबर’ चिल्लाते हुए चाकू से इस हत्या को अंजाम दिया। मृतक की उम्र 35 साल बताई गई है। हमलावर ने एक जर्मन व्यक्ति को घायल भी कर दिया। ये घटना नॉर्थ राइन वेस्टफेलिया स्टेनफुर्ट जिले में स्थित ग्रेवेन में हुई। ये घटना रविवार (जुलाई 4, 2021) की रात हुई।

इस हत्याकांड को अंजाम देने के बाद हमलावर वहाँ से भाग खड़ा हुआ। उस ढूँढने के लिए हैलीकॉप्टर लग लगाया गया। हालाँकि, उसे खोज कर गिरफ्तार करने में पुलिस को ज्यादा देर नहीं लगी। बिना किसी संघर्ष के पुलिस ने उसे धर-दबोचा। रविवार की रात उक्त शरणार्थी कैम्प के बाद पुलिसकर्मियों और अधिकारियों का जमावड़ा देखा जा सकता है। पैरामेडिकल की टीम बुला कर घायल का इलाज किया गया।

इस मामले में पब्लिक प्रोसिक्यूटर ने कहा कि इस अपराध के पीछे हत्यारे की कोई मंशा सामने नहीं आई है, लेकिन एक गवाह ने इसकी पुष्टि की कि वो हत्या से पहले ‘अल्लाहु अकबर’ चिल्ला रहा था। हत्यारा 6 साल पहले ही जर्मनी में आया था और 2018 से इस शरणार्थी कैम्प की सुविधा का लाभ उठा रहा था। जहाँ इस घटना में अज़रबैजानी की मौत हो गई, घायल जर्मन व्यक्ति का इलाज पास के ही एक अस्पताल में चल रहा है।

जर्मनी ने 2015 में यूरोप में शरणार्थी समस्या के वक्त खुल कर इस्लामी मुल्कों से शरणार्थियों को अपने देश आने की छूट दे रखी थी, लेकिन अब यही उसके गले की फाँस बनता जा रहा है। हाल ही में इस तरह के कई मामले सामने आए हैं, जहाँ ये शरणार्थी अपराधी निकले हों। बवारिया के वुर्जबुर्ग में सोमालिया के एक व्यक्ति ने तीन लोगों की हत्या कर दी थी। उसने एक डिपार्टमेंट स्टोर में इस हत्याकांड को अंजाम दिया था।

मरने वालों में तीनों ही महिलाएँ थीं, जिसमें से एक की उम्र 82 वर्ष थी। वहीं एक महिला की 11 साल की बेटी भी थी। उसने दिन-दहाड़े इस घटना को अंजाम दिया था। उस अपराधी भी तीनों की हत्या के दौरान ‘अल्लाहु अकबर’ चिल्लाया था। साथ ही उसने 5 अन्य लोगों को घायल भी कर दिया था। वो भी उत्तरी अफ्रीका से शरणार्थी के रूप में आने के बाद 2015 से ही जर्मनी में रह रहा था और यहाँ की सुविधाओं का लाभ उठा रहा था। पिछले कुछ महीनों में दुनिया भर में ‘अल्लाहु अकबर‘ चिल्लाते हुए कई हत्याओं की खबरें आई हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

AG के पास पहुँचा TMC वाला साकेत गोखले, हमारे खिलाफ चलाना चाहता है अदालत की अवमानना का मामला: हम अपने शब्दों पर अब भी...

ऑपइंडिया की एडिटर नुपूर शर्मा के लेख की शिकायत लेकर टीएमसी नेता साकेत गोखले अटॉर्नी जनरल के पास गए हैं ताकि अदालत की अवमानना का केस चलवा सकें।

‘शौच करने गई थी, मोहम्मद जाकिर हुसैन सर पीछे-पीछे आ गए’: मिडिल स्कूल में शिक्षक ने नाबालिग छात्रा से की छेड़खानी, हुआ गिरफ्तार

बिहार के सुपौल में शिक्षक जाकिर हुसैन ने 7वीं कक्षा की लड़की के साथ छेड़छाड़ किया। परिजनों ने थाने में दर्ज कराया मामला। आरोपित गिरफ्तार।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
203,064FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe