Tuesday, July 23, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपाकिस्तान के गुरुद्वारे में बेअदबी, जूते पहन कर घुसे मुस्लिम कलाकारों ने शूट की...

पाकिस्तान के गुरुद्वारे में बेअदबी, जूते पहन कर घुसे मुस्लिम कलाकारों ने शूट की फिल्म: सिर ढकने वाले नियम को भी धता बताया, विरोध करने पर उलझे

सिखों की वेशभूषा में गुरुद्वारे में मौजूद मुस्लिम कलाकार जूते पहनकर अंदर गए थे। इनमें से कई लोगों ने तो सिर भी नहीं ढका हुआ था।

पाकिस्तान के हसन अब्दाल इलाके में स्थित पंजा साहिब गुरुद्वारे में बेअदबी का मामला सामने आया है। भाजपा नेता मनजिंदर सिंह सिरसा (BJP leader Manjinder Singh Sirsa) ने इस घटना का वीडियो भी शेयर किया है, जिसमें फिल्म के क्रू मेंबर्स गुरुद्वारे में जूते पहने हुए नजर आ रहे हैं। मनजिंदर सिंह सिरसा का कहना है कि इस घटना ने भारत में सिख समुदाय को भी आहत किया है। उन्होंने इस मामले में त्वरित कार्रवाई की माँग की है।

मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा, “पाकिस्तान में ईशनिंदा कार्रवाई जारी है। गुरुद्वारा पंजा साहिब (Panja Sahib) में बेअदबी का एक वीडियो शेयर कर रहा हूँ। यहाँ फिल्म की स्टारकास्ट एवं टीम को गुरुद्वारा परिसर में शूटिंग की अनुमति दी गई थी। इस वीडियो में आप देख सकते हैं कि शूटिंग करने आए लोग और फिल्म की स्टारकास्ट जूते पहनकर गुरुद्वारे के अंदर पहुँची है।”

रिपोर्ट्स के मुताबिक, फिल्म ‘लाहौर-लाहौर ए’ के दर्जन भर मुस्लिम कलाकार पगड़ियाँ बाँधकर गुरुद्वारे में फिल्म की शूटिंग कर रहे थे। जब गुरुद्वारा साहिब में आई संगत ने फिल्म के क्रू मेंबर्स को जूतों सहित अंदर देखा तो उन्होंने इसका विरोध किया। एक सिख (संगत) ने इनका वीडियो भी बनाया और सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। वीडियो में गुरुद्वारा साहिब के सेवादार फिल्म की स्टारकास्ट को सिख धर्म के बारे में बता रहे हैं। उन्होंने बताया गया कि पंजा साहिब सिख कौम के लिए विशेष महत्व रखता है।

बताया जा रहा है कि सिखों की वेशभूषा में गुरुद्वारे में मौजूद मुस्लिम कलाकार जूते पहनकर अंदर गए थे। इनमें से कई लोगों ने तो सिर भी नहीं ढका हुआ था। जबकि गुरुद्वारे में प्रवेश करने वाले पुरुष, स्त्री और यहाँ तक की बच्चों के सिर ढँककर जाने की परंपरा है। सिखों के विरोध के बाद मुस्लिम कलाकार ने कहा कि हम आपके मेहमान हैं। इस पर वीडियो बनाने वाले व्यक्ति ने कहा कि मेहमान भी गुरुद्वारे में मर्यादा में आएँ, तो उनका स्वागत है।

उक्त व्यक्ति ने कहा कि गुरुद्वारा साहिब को शूटिंग स्थल नहीं बनाया जा सकता और ऐसा करने वाले लोगों को सिखों के सिद्धांतों व मर्यादा की जानकारी नहीं है। इस दौरान मुस्लिम कलाकारों में से एक ने सिखों से उलझने का भी प्रयास भी किया। इन कलाकारों ने पगड़ी तक गलत तरीके से पहनी हुई थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इन्सिटटे ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

पहले मोदी सरकार की योजना की तारीफ़ की, आका से सन्देश मिलते ही कॉन्ग्रेस को देने लगे श्रेय: देखिए राजदीप सरदेसाई की ‘पत्तलकारिता’, पत्नी...

कथित पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने पहले तो मोदी सरकार के बजट की तारीफ की, लेकिन कुछ ही देर में 'आकाओं' का संदेश मिलते ही मोदी सरकार पर कॉन्ग्रेसी आरोपों को दोहराने लगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -